Monday, April 15, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाकोरबा : अब 45 मिनट में ही कटघोरा से पाली, सड़क मरम्मत...

कोरबा : अब 45 मिनट में ही कटघोरा से पाली, सड़क मरम्मत से घटा समय…तीस नवम्बर तक काम पूरा करने का है लक्ष्य….

कोरबा 11 नवंबर 2020/ सड़को की मरम्मत को लेकर कलेक्टर श्रीमती किरण कौशल के प्रयास अब फलीभूत होकर धरातल पर उतरने लगे हैं। सड़क मरम्मत के कामों को लेकर कलेक्टर ने बार-बार एनएचएआई, पीडब्ल्यूडी और निर्माण एजेंसियों तथा ठेकेदारों को भी बैठकों में कड़े निर्देश तक दिये थे। कलेक्टर श्रीमती कौशल के इन प्रयासों से ही जिले में खराब सड़कों के मरम्मत का काम तेज गति से किया जा रहा है। कटघोरा के एसडीएम श्री अभिषेक शर्मा ने बताया कि 15 दिन पहले कटघोरा से पाली पहुंचने में जिस सड़क पर एक घंटे से अधिक का समय लगता था अब मरम्मत के बाद उसी सड़क पर 45 मिनट में ही पाली तक पहुंचा जा रहा है। कलेक्टर श्रीमती किरण कौशल ने समय-सीमा की साप्ताहिक बैठक में आज फिर सड़कों की मरम्मत के कामों की प्रगति की गहन समीक्षा की। श्रीमती कौशल ने तीस नवंबर तक मरम्मत का काम पूरा करने का लक्ष्य पाने के लिये काम की गति बढ़ाने के निर्देश अधिकारियों को दिये। बैठक में जिला पंचायत के सीईओ श्री कुंदन कुमार, एडीएम श्रीमती प्रियंका महोबिया सहित सभी विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी भी मौजूद रहे।

बैठक में कलेक्टर ने कोरबा-चांपा मार्ग पर मरम्मत के काम की प्रगति की जानकारी एसडीएम श्री सुनील नायक से ली। एसडीएम ने बताया कि बरबसपुर से इमलीडुग्गु तक रिपेयर का काम हो गया है। वहीं बरबसपुर से उरगा के बीच सड़क किनारे बन रही नाली बनाने का काम भी तेजी से किया जा रहा है। एसडीएम श्री सुनील नायक ने बताया कि कोरबा-चांपा मार्ग पर एनएचएआई के स्वामित्व वाले खण्ड पर मरम्मत का काम तेजी से चल रहा है। मड़वारानी के पास से सड़क पर गड्ढों के भरकर डामरीकरण के काम भी तेजी से चल रहा है। इस काम को 30 नवम्बर तक पूरा कर लिया जाएगा। बैठक में कलेक्टर ने अधिकारियों को कहा कि सड़को की मरम्मत या निर्माण कार्य में किसी भी तरह की परेशानी आने पर उसे अपने तक ना रखें। वरिष्ठ अधिकारियों के संज्ञान में लाकर परेशानियों का निराकरण करायें और समय-सीमा में सड़क मरम्मत के कामों को गुणवत्ता के साथ पूरा करायें।
बैठक में कलेक्टर ने नई सड़कों के निर्माण के लिये भूमि अधिग्रहण और मुआवजा वितरण की भी समीक्षा की। श्रीमती कौशल ने ऐसे सभी प्रकरणों को दीवाली के बाद एक सप्ताह के भीतर निराकरित करने के निर्देश दिये। उन्होंने स्वीकृत हो चुके भूमि अधिग्रहण के मुआवजा प्रकरणों में प्रभावितों के खातों में राशि जमा करने का काम भी जल्द से जल्द शुरू करने के निर्देश अधिकारियों को दिये।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular