Saturday, June 22, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाकोरबा : कोरोना के साथ नहीं, हर्षोल्लास के साथ मनायें दीवाली ;...

कोरबा : कोरोना के साथ नहीं, हर्षोल्लास के साथ मनायें दीवाली ; कलेक्टर ने त्यौहारी खरीददारी में कोविड प्रोटोकाॅल का पालन करने आमजनों से की अपील…



कोरबा 11 नवंबर 2020/कलेक्टर श्रीमती किरण कौशल ने इस बार दीवाली की खरीददारी के दौरान आमजनों से कोविड प्रोटोकाॅल का पूरा ध्यान रखने और अनिवार्यतः पालन करने की अपील की है। कलेक्टर ने दुकानदारों और खरीददारों से ऐसे सभी उपाय करने की अपील की है जिससे कोरोना संक्रमण को जिले में बढ़ने से रोका जा सके। श्रीमती कौशल ने कहा है कि इस दीपावली को अपने परिवार के साथ हर्षोल्लास के साथ मनाने के लिये कोविड प्रोटोकाॅल का पालन करना बेहद जरूरी है। त्यौहारी सीजन में बाजार में खरीददारों की भीड़ से कोरोना संक्रमण फैलने की पूरी संभावना है जिससे दीवाली के दीयों का उजियारा मंद पड़ सकता है। खरीददारी के समय मुंह को मास्क से अच्छी तरह ढंके रहने, दो गज दूरी का पालन करने और हाथों को बार-बार सेनेटाइज करने से हम कोरोना को बढ़ने से रोक सकते हैं। कलेक्टर ने सभी आमजनों से खरीददारी के दौरान पूरी सावधानी बरतने और कोरोना से लड़ाई में शासन-प्रशासन के संकल्प को अपनी इस छोटी सी भागीदारी से पूरा करने में सहयोग का भी आग्रह किया है।

कलेक्टर ने अपील की है कि कोरोना वायरस से फैली महामारी का प्रभाव अभी खत्म नहीं हुआ है। कोरबा जिले में हर रोज ही कोरोना संक्रमितों की पहचान हो रही है। यदि हम अभी सर्तक नहीं हुए तो कोरोना की यह रफ्तार और तेज हो सकती है। श्रीमती कौशल ने कहा है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भी अभी की परिस्थितियों में कोरोना को बढ़ने से रोकने के लिये अतिरिक्त सावधानी बरतने की सलाह दी है। उन्होंने कहा है कि थोड़ी सी लापरवाही इन त्यौहारों का आनंद और पूरे परिवार की खुशियों पर ग्रहण लगा सकता है। श्रीमती कौशल ने लोगों से अपील की है कि खरीददारी करने निकलते समय मास्क जरूर लगायें, अपने हाथों को बार-बार सेनेटाइज करते रहें, बेवजह चीजों को ना छुएं और कहीं पर भी भीड़ ना लगाएं।
कोविड प्रोटोकाॅल तोड़ने पर होगा जुर्माना – जिला प्रशासन द्वारा त्यौहारी सीजन में कोविड संक्रमण को बढ़ने से रोकने के लिये भी जरूरी इंतजाम कर लिये गये हैं। दुकानदारों को भी मुंह पर मास्क लगाकर, दुकानों में सीमित संख्या में कामगार रखकर, ग्राहकों के हाथों के सेनेटाइजेशन की व्यवस्था स्वयं करने की जिम्मेदारी सौंपी गई है। ग्राहकों के बीच सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने की जिम्मेदारी भी दुकानदारों की ही होगी। बिना मास्क के घूमने, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करने और कोविड प्रोटोकाॅल के उल्लंघन पर ग्राहकों के साथ-साथ दुकानदारों पर भी जुर्माना की कार्रवाई की जायेगी। बिना मास्क के खरीददारी करने या बाजार में घूमने पर एक सौ रूपये का जुर्माना लगाया जायेगा। जिला स्तर पर इसके लिये जांच दल भी गठित किये गये हैं। कलेक्टर श्रीमती किरण कौशल ने सभी नगरीय निकायों और जिले के मुख्य बाजारों में लगातार जांच के निर्देश जारी किये हैं।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular