Thursday, June 20, 2024
HomeUncategorizedकोरबा जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों का औसत रिकवरी रेट बढ़कर हुआ...

कोरबा जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों का औसत रिकवरी रेट बढ़कर हुआ 78 प्रतिशत…

  • अब तक नौ हजार 570 पाॅजिटिव मिले, एक हजार 975 सक्रिय, सात हजार 529 मरीज स्वस्थ हुये…


कोरबा/जिला प्रशासन की सजगता और गंभीरता के कारण जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों की स्वस्थ होने की दर बढ़ रही है। जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों की औसत रिकवरी रेट बढ़कर 78 प्रतिशत हो गया है। कोरबा जिले में इलाज की बेहतर सुविधा, जांच की अच्छी व्यवस्था और मेडिकल सुविधाओं के कारण औसत रिकवरी रेट में बढ़ोत्तरी हो रही है। जिले में अब तक नौ हजार 570 कोरोना संक्रमित मरीजों की पुष्टि हो चुकी है। जिनमें से तीन हजार 236 ग्रामीण क्षेत्र से और छह हजार 334 मरीज शहरी क्षेत्र के हैं। जिले में कुल सात हजार 529 मरीज कोरोना से पूरी तरह ठीक हो चुके हैं। वर्तमान में एक हजार 975 संक्रमित मरीजों की ईलाज कोविड अस्पतालों और होम आईसोलेशन में रखकर किया जा रहा है। अब तक जिले के 66 कोरोना संक्रमितों की मृत्यु हुई है जिनमें से अधिकांश जिले से बाहर के कोविड अस्पतालांे में ईलाज के लिये भर्ती थे। कलेक्टर श्रीमती किरण कौशल के निर्देश पर कोरबा जिले में कोरोना संक्रमण की रोकथाम और कोरोना संक्रमित मरीजों के इलाज के लिये अन्य जिलों से बेहतर व्यवस्थाएं की गयी हैं।
स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार जिले में बीते दिन की स्थिति में कोविड-19 के एक हजार 975 सक्रिय प्रकरण हैं, जिनका इलाज जिले के विशेष कोविड अस्पताल सहित स्याहीमुड़ी के कोविड केयर सेंटर, होम आईसोलेशन और निजी क्षेत्र के विशेष कोविड केयर सेंटरों में चल रहा है। अब तक मिले पाॅजिटिव मरीजों और अस्पतालों में इलाज के बाद ठीक हुये मरीजों के हिसाब से करतला विकासखण्ड में रिकवरी रेट जिले मंे सबसे अधिक है। करतला में अब तक 878 कोरोना संक्रमितों की पहचान हुई है जिनमें से 770 मरीज पूरी तरह ठीक हो चुके हैं तथा 105 सक्रिय मरीज है। पोड़ी-उपरोड़ा विकासखण्ड में बीते दिन तक 332 कोरोना संक्रमित मरीजों की पहचान हुई है जिनमें से अभी तक इलाज के बाद 257 मरीज स्वस्थ होकर अपने घर जा चुके हैं। कोरबा विकासखण्ड के ग्रामीण क्षेत्रों में अभी तक 593 कोरोना पाॅजिटिव मरीज मिले हैं जिनमें से 439 ठीक हो गये हैं तथा 150 सक्रिय मरीज हैं। कटघोरा विकासखण्ड में मिले दो हजार 558 कोरोना मरीजों में से अब तक एक हजार 929 मरीज इलाज के बाद स्वस्थ हो गये हैं तथा 609 मरीजों का ईलाज जारी है। जिले में सबसे कम रिकवरी रेट प्रतिशत के हिसाब से कटघोरा विकासखण्ड का है। विकासखण्ड पाली में अब तक 698 कोरोना मरीजों में से 590 मरीज इलाज के बाद ठीक हुये हैं और 105 मरीजों का ईलाज जारी है। कोरबा के शहरी क्षेत्रों में अब तक चार हजार 511 कोरोना पाॅजिटिव मरीजों की पहचान हुई है जिनमें से तीन हजार 544 मरीज इलाज के बाद ठीक हो चुके हैं तथा 931 सक्रिय मरीज हैं। विकासखण्ड पोड़ी-उपरोड़ा में 332 कोरोना मरीजों की पहचान हुई है, जिनमें से 257 मरीज ईलाज के बाद ठीक हो चुके हैं एवं 75 कोरोना मरीजों का ईलाज जारी है।
स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार जिले मंे कोरोना की जांच आरटीपीसीआर, रैपिड एंटीजन टेस्ट और ट्रु-नाॅट तीन पद्धतियों से की जा रही है। जिले में अभी तक कुल 94 हजार 966 कोरोना जांच सैम्पल लिये जा चुके हैं जिनमें से 84 हजार 028 सैम्पलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। केवल नौ हजार 570 सैम्पलों की रिपोर्ट पाॅजिटिव आई है तथा 731 सैम्पलों की रिपोर्ट आना बाकी है एवं 637 सैम्पल विभिन्न तकनीकी कारणों से रिजेक्ट हुए हैं। अभी तक आरटीपीसीआर पद्धति से जांच के लिये जिले से कुल 36 हजार 556 सैम्पल प्रयोगशालाओं में भेजे जा चुके हैं जिनमें से तीन हजार 020 सैम्पल की रिपोर्ट पाॅजिटिव आई है तथा 32 हजार 358 सैम्पलांे की जांच रिपोर्ट नेगेटिव आई है। भेजे गये सैम्पल में से 719 सैम्पलों की रिपोर्ट आनी बाकी है तथा 459 सैम्पल तकनीकी कारणों से रिजेक्ट हुए हैं। जिले से अब तक रैपिड एंटीजन विधि से जांच करने के लिये 54 हजार 458 सैम्पल लिये जा चुके हंै। 48 हजार 064 की जांच नेगेटिव और छह हजार 265 सैम्पलों की जांच पाॅजिटिव आई है तथा 132 सैम्पल तकनीकी कारणों से रिजेक्ट हुए हैं। ट्रु-नाॅट पद्धति से जिला अस्पताल में अभी तक तीन हजार 952 सैम्पल लिये जा चुके हैं। इनमें से तीन हजार 606 कोरोना नेगेटिव और केवल 288 कोरोना पाॅजिटिव मिले हैं तथा 046 सैम्पल रिजेक्ट हुए हैं और 12 सैम्पलांे की जांच रिपोर्ट आना बाकी है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular