Saturday, April 20, 2024
Homeछत्तीसगढ़छत्तीसगढ़ ब्रेकिंग न्यूज़: जोगी कांग्रेस को लगा बड़ा झटका; विधायक देवव्रत सिंह...

छत्तीसगढ़ ब्रेकिंग न्यूज़: जोगी कांग्रेस को लगा बड़ा झटका; विधायक देवव्रत सिंह ने छोड़ी पार्टी….? कांग्रेस में हो सकते है शामिल… कहाँ कांग्रेस उनके खून में है

राजनांदगांव 28 अक्टूबर 2020। लगता है जेसीसीजे विधायक देवव्रत सिंह ने पार्टी छोड़ दी है। हालांकि इसका खुला ऐलान तो नहीं हुआ है, लेकिन जिस तरह से देवव्रत सिंह का बयान आया और उस बयान पर पार्टी सुप्रीमो अमित जोगी की प्रतिक्रिया रही…उसके बाद स्पष्ट हो गया है कि देवव्रत सिंह पार्टी छोड़ने के मूड में हैं और अमित जोगी उन्हें रोकना भी नहीं चाहते हैं।

दरअसल आज देवव्रत सिंह ने कहा था कि अब अमित जोगी को कांग्रेस में शामिल हो जाना चाहिये, क्योंकि अजीत जोगी के जाने के बाद पार्टी मजबूती के साथ नहीं चला पा रहे हैं। उन्होंने खुद के कांग्रेस में शामिल होने को लेकर पूछे गये सवाल के जवाब में भी साफ संकेत दिया कि वो कांग्रेस में शामिल हो सकते हैं। जोगी कांग्रेस विधायक देवव्रत सिंह का ये बयान उस वक्त आया है, जब जयसिंह अग्रवाल के बयान के बाद धर्मजीत सिंह ने चुनौती दी थी कि कौन-कौन सा विधायक संपर्क में हैं उनके नाम का खुलासा करना चाहिये।

देवव्रत सिंह ने कहा कि कांग्रेस उनके खून में हैं और अगर ब्लड टेस्ट हुआ तो उसमें कांग्रेस ही निकलेगा, कांग्रेस ने उन्हें बहुत कुछ दिया है।  उन्होंने कहा कि

“अजीत जोगी के निधन के बाद से ही पार्टी कमजोर हो गया है, कांग्रेस के कई लोग पार्टी छोड़ गये हैं, ऐसे में अमित जोगी को कांग्रेस में शामिल हो जाना चाहिये, अमित को पार्टी में शामिल करने का फैसला कांग्रेस हाईकमान करेगा, वैसे भी संवैधानिक परिस्थिति के अनुरूप क्या होगा, इस पर तो कुछ नहीं कहा जा सकता”

इधर देवव्रत सिंह के बयान पर अमित जोगी ने भी तल्ख प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने दो टूक कहा है…

जिनको कांग्रेस प्रवेश करने का शौक़ है, वे पंजा छाप से उपचुनाव लड़े। उनका जवाब जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) बखूबी देना जानती है! अपनी ज़मानत बचा पायें तो अजूबा होगा! भूपेश की उल्टी गिनती शुरू हो चुकी है! जिन्होंने ने मेरे पिता जी और मुझे झीरम घाटी के नरसंहार का दोषी और अंतागढ़ में पार्टी विरोधी साबित करना चाहा, ऐसे ‘जोगेरिया’ से पीड़ित प्राणियों को अपने दिमाग़ का इलाज कर लेना चाहिए।

अमित जोगी ने आगे कहा कि ..

“जो पार्टी रोज़ मेरे पिता जी स्वर्गीय श्री अजीत जोगी को उनके जीते जी अपमानित करती रही और मरणोपरांत भी उनको नक़ली फ़र्ज़ी और पाखंडी कहके अपमानित कर रही है, उसमें उनके जाने का सवाल ही पैदा नहीं होता।ऐसा कुछ लोग उपचुनाव के ठीक पहले अचानक क्यों कह रहे हैं, ये तो वो ही बता पाएँगे।मैं उनको जोगी जी की आत्मकथा पढ़ने की सलाह ज़रूर दूँगा।उनकी सारी ग़लत फ़हमी मिनटों में दूर हो जाएगी”

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular