Thursday, February 22, 2024
Homeछत्तीसगढ़बलरामपुर गैंगरेप: मंत्री डहरिया के बयान के बाद बवाल; जगह-जगह फूंके जा...

बलरामपुर गैंगरेप: मंत्री डहरिया के बयान के बाद बवाल; जगह-जगह फूंके जा रहे छत्तीसगढ़ सरकार के पुतले…

  • सरगुजा संभाग के बलरामपुर जिले में नाबालिग के साथ हुई थी दुष्कर्म की घटना
  • छत्तीसगढ़ भाजपा को मिला मुद्दा अब सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा

बलरामपुर जिले में गैंगरेप की घटना को लेकर मंत्री शिव डहरिया के बयान के बाद प्रदेश में सियासत गर्म है। सोमवार को रायपुर, महासमुंद, नारायणपुर, गरियाबंद और लगभग हर जिले में मंत्री डहरिया का पुतला फूंका गया। प्रदेश भाजपा के युवा मोर्चा नेता मंत्री के खिलाफ नारे बाजी कर रहे हैं। रायपुर में भी धरना स्थल पर शाम के वक्त नेता जमा हुए और सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। रेप के मामले में बयान के बाद शिव डहरिया ने अपने बयान को गलत तरीके से पेश किए जाने की बात कही थी। कांग्रेस हाथरस कांड को लेकर प्रदेश भर में भाजपा के खिलाफ प्रदर्शन कर रही है।

फोटो सुकमा की है, बस्तर में भी भाजपा लॉकडाउन के बाद सियासी तौर पर अब एक्टिव है।

फोटो सुकमा की है, बस्तर में भी भाजपा लॉकडाउन के बाद सियासी तौर पर अब एक्टिव है।

मंत्री डहरिया को वो बयान
मंत्री डहरिया ने कांग्रेस दफ्तर में कहा था कि हमारे यहां जो हुई वो वैसी घटना नहीं है। पूर्व सीएम डॉ. रमन और भारतीय जनता पार्टी को लेकर उन्होंने कहा कि हाथरस पर क्यों नहीं ट्वीट कर कर रहे हैं। क्या वहां जो हुआ वो अच्छा हुआ है, और कोई छोटी घटना हो गई छत्तीसगढ़ के बलरामपुर में… वो सिर्फ छत्तीसगढ़ सरकार की आलोचना के सिवा कुछ काम नहीं कर रहे। डहरिया ने कहा कि इतनी बड़ी घटना हो गई हाथरस में भारतीय जनता पार्टी और डॉ. रमन सिंह की जुबान क्यों नहीं खुल रही है, कुछ तो उनको इस विषय में भी बोलना चाहिए।

फोटो महासमुंद की है। यहां भारतीय जनता युवा मोर्चा ने छत्तीसगढ़ शासन का पुतला दहन किया गया

फोटो महासमुंद की है। यहां भारतीय जनता युवा मोर्चा ने छत्तीसगढ़ शासन का पुतला दहन किया गया

यह है बलरामपुर रेप कांड
छत्तीसगढ़ के बलरामपुर जिले में हुई दुष्कर्म की घटना बीते गुरुवार को हुई। शुक्रवार को इस मामले में एफआईआर दर्ज की गई है। दरअसल, वाड्रफनगर इलाके की एक नाबालिग को नशीली गोलियां खिलाकर छेड़छाड़ के मामले में किशोरी द्वारा चाइल्ड लाइन को दिए बयान के आधार पर दुष्कर्म का मामला दर्ज किया गया है। इस मामले में 2 आरोपियों की गिरफ्तारी भी हुई है। चाइल्ड लाइन के समन्वयक महेंद्र ने बताया कि घटना के बाद किशोरी इस हालत में नहीं थी कि बयान दे सके। तबियत ठीक होने के बाद उसकी काउंसलिंग की गई, जिसमें नाबालिग ने अपने साथ हुई घटना के बारे में बताया और दुष्कर्म की जानकारी दी।

फोटो नारायणपुर की है। यहां भी भाजपा कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन किया।

फोटो नारायणपुर की है। यहां भी भाजपा कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन किया।

इसके बाद पुलिस ने छेड़छाड़ और मारपीट की धाराओं के साथ आरोपियों के खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज किया। इसके बाद जयप्रकाश अगरिया को गिरफ्तार किया गया। वहीं दूसरे की गिरफ्तारी के लिए शिनाख्ती परेड कराई गई, जिसमें घनश्याम नामक आरोपी को गिरफ्तार किया गया। नाबालिग के साथ सामूहिक बलात्कार के खिलाफ भाजपा ने वाड्रफनगर पुलिस चौकी के सामने विरोध दर्ज कराते हुए गांधी जयंती मनाई। भाजपा ने कहा है कि पुलिस ने पीड़िता के पिता से कहा था कि आप आरोपियों को ढूंढ़ के लाओ, हम भी प्रयास कर रहे हैं। पीड़िता की मेडिकल जांच में लेट-लतीफी की गई। भाजपा ने पीड़िता को 10 लाख मुआवजा देने की मांग की।

  • Krishna Baloon
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular