Saturday, March 2, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाबिजली-पानी, आवास आदि सुविधाओं का आंकलन करने अधिकारियों केे दल पहुंचे पहाड़ी...

बिजली-पानी, आवास आदि सुविधाओं का आंकलन करने अधिकारियों केे दल पहुंचे पहाड़ी कोरवा और बिरहोर गांवों में, विभिन्न मांगो और समस्याओं की ली जानकारी…


कोरबा /जिले के पहाड़ी कोरवा और बिरहोर गांवो में भोजन-पानी, बिजली, आवास, सड़क आदि मूलभूत सुविधाओं का आंकलन करने अधिकारियों के दल ने आज दौरा किया। कलेक्टर श्रीमती किरण कौशल द्वारा गठित विभिन्न विभागों के 12 सदस्यीय अधिकारियों के दल ने विकासखण्ड कोरबा के ग्राम पंचायत गढ़-उपरोड़ा एवं देवपहरी के अंतर्गत चार गांवो का भ्रमण किया। इस दौरान पहाड़ी कोरवा और बिरहोर बस्तियों मंे पहुंचकर दल ने बस्ती के लोगों से मुलाकात की। स्थानीय लोगों से मिलकर अधिकारियों ने आवास, पेंशन, रोजगार तथा अन्य समस्याओं की जानकारी भी ली। दल ने शासन द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं का ग्राम स्तर में क्रियान्वयन और योजनाओं सेे लाभान्वित लोगों की भी जानकारी ली। पहाड़ी कोरवा और बिरहोर लोगों ने अधिकारियों के दल को शासकीय योजनाओं से मिल रहे लाभों के बारे में जानकारी दी। बस्ती के लोगो ने गांव के विकास के लिए विभिन्न मांगो को भी अधिकारियों के समक्ष रखा। जिन लोगों को मूलभूत सुविधाओं का लाभ सुलभ तरीके से नहीं मिल पा रहा है, उन्हें जल्द से जल्द मूलभूत सुविधाओं का लाभ प्रदान किया जाएगा।
कलेक्टर श्रीमती कौशल द्वारा गठित अधिकारियों के दल ने विकासखण्ड कोरबा के अंतर्गत ग्राम पंचायत गढ़-उपरोड़ा के आश्रित ग्राम कदमझरिया, देवपहरी के अंतर्गत जामभाठा तथा हरदीमौहा, कनसरा के पहाड़ी कोरवा बस्ती एवं ग्राम देवद्वारी के बिरहोर बस्तियों का भ्रमण किया। भ्रमण कार्यक्रम के दौरान अधिकारियों के दल में आदिवासी विकास विभाग, चिकित्सा विभाग, जिला पंचायत, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी, शिक्षा विभाग, बिजली विभाग, कृषि विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग तथा कौशल विभाग के अधिकारी शामिल रहे। कलेक्टर श्रीमती कौशल ने जनजाति निवासरत क्षेत्रों का दौरा कर सुविधाओं का आंकलन करने के लिए 12 सदस्यीय अधिकारियों का दल गठित किया है। दल के सदस्य विशेष पिछड़ी जनजाति गांवों का भ्रमण करेंगे तथा गांव प्रमुख एवं स्थानीय लोगों से संपर्क करके गांव में उपलब्ध सुविधाओं की जानकारी लेंगे। दल के अधिकारी गांव में लोगांे के लिए उपलब्ध बिजली, पानी, आवास, सड़क, रोजगार आदि की स्थिति का आंकलन करते हुए 15 दिनों के भीतर विस्तृत कार्य योजना प्रतिवेदन कलेक्टर के समक्ष प्रस्तुत करेंगे। अधिकारियों के दल 22 फरवरी को विकासखंड कोरबा अन्तर्गत ग्राम पंचायत लेमरू के आश्रित ग्राम अरेतरा, नकिया के आश्रित ग्राम रपता एवं बड़गांव के आश्रित ग्राम सूर्वे के पहाड़ी कोरवा बस्तियों का दौरा करेंगे।

  • Krishna Baloon
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular