Friday, April 19, 2024
Homeबिलासपुरमदद के नाम पर लूट: दिल्ली में फंसे अपने साथी के लिए...

मदद के नाम पर लूट: दिल्ली में फंसे अपने साथी के लिए दुकानदार से मांगी मदद, फिर परफ्यूम दिखाने के नाम पर स्प्रे से बेहोश कर 30 हजार लूट लिए…

छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में मदद मांगने के नाम पर बदमाशों ने दुकानदार को बेहोश कर लूट लिया।

  • मस्तुरी क्षेत्र की घटना, नगदी के बदले दोस्त के खाते में ट्रांसफर कराए कार सवारों ने रुपए
  • फिर आर्टिफिशियल ज्वैलरी और परफ्यूम दिखाने के नाम पर बेहोशी की दवाई स्प्रे कर दी

बिलासपुर छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में आर्टिफिशियल ज्वैलरी बेचने और मदद मांगने के नाम पर लुटेरों का नया गैंग सक्रिय हो गया है। बदमाशों ने एक मोबाइल दुकान में घुसकर पहले तो दिल्ली में फंसे अपने साथी के लिए 10 हजार रुपए की मदद मांगी और नगदी के बदले रुपए एकाउंट में ट्रांसफर कराए। फिर परफ्यूम और अन्य सामान दिखाने के नाम पर बेहोशी की दवा स्प्रे कर 30 हजार रुपए लूट लिए। मामला मस्तुरी थाना क्षेत्र का है।

जानकारी के मुताबिक, ग्राम सुखरीपाली निवासी संतोष साहू राजीव प्लाजा के पास ईश्वरी मोबाइल में एकाउंटेंट का काम करता है। इसके अलावा वह गांव में मोबाइल की दुकान भी संचालित करता है। उसकी दुकान पर मंगलवार सुबह करीब 8.30 बजे कार चार दो लोग आए। उन्होंने कहा कि उनका एक आदमी दिल्ली में फंसा है। उसको 10 हजार रुपए भेजने हैं। रुपए उसके एकाउंट में ट्रांसफर कर दो, बदले में नगद रकम दे रहे हैं।

बदमाशों ने दिखाने के लिए परफ्यूम स्प्रे कर बेहोश कर दिया

इस पर संतोष ने खाते में 9 हजार रुपए होने की बात कही और बताए गए खाते ने रुपए ट्रांसफर कर दिए। इसके बाद दोनों बदमाशों ने आर्टिफिशिल चूड़ी, कंगन, माला, हार दिखाना शुरू कर दिया। बहुत सारे परफ्यूम भी दिखाए। इस बीच एक बदमाश ने परफ्यूम उठाकर अपने ऊपर स्प्रे किया। फिर संतोष के ऊपर भी स्प्रे करने लगा। इसके चलते संतोष को चक्कर आने लगा। तब दोनों बदमाशों ने गल्ले में रखे 30 हजार रुपए निकाल लिए और भाग गए।

बदमाशों को आसपास के गांवों में तलाश करता रहा, नहीं मिले तो की FIR
करीब आधे घंटे बाद संतोष को होश आया तो दोनों बदमाश वहां से नदारद थे। उसने आसपास देखा लेकिन उनका कुछ पता नहीं चला। दुकान का गल्ला उसने चेक किया तो उसमें रख सब रुपए भी गायब थे। बदमाशों ने खाते में ट्रांसफर कराए 9 हजार रुपए भी नहीं दिए। पहले तो संतोष खुद ही दोनों बदमाशों का आसपास के गांवों में पता लगाता रहा, लेकिन जब कोई जानकारी नहीं मिली तो बुधवार शाम को थाने पहुंचा और FIR दर्ज कराई।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular