Saturday, March 2, 2024
Homeछत्तीसगढ़रायपुररायपुर: एक ही दिन में दो बाबू रंगे हाथों हुआ गिरफ्तार… कोई...

रायपुर: एक ही दिन में दो बाबू रंगे हाथों हुआ गिरफ्तार… कोई शिक्षक से अटैचमेंट के लिए मांग रहा था पैसे, तो कोई एरियर्स के लिए की थी 10 हजार की डिमांड…

रायपुर। छत्तीसगढ़ के शिक्षा विभाग में घूसखोर बाबूओं की करतूत कोई छुपी नहीं है। रिश्वतखोरी की आदत से मजबूर ऐसे ही दो बाबू ACB के हत्थे चढ़े हैं। इनमें से एक बाबू रिटायर प्रधान पाठक से पे फिक्सेशन और एरियर्स के एवज में 10 हजार रुपये ले रहा था। दूसरा बाबू एक शिक्षक से स्कूल में संलंग्नीकरण के ऐवज में 10 हजार रुपये ले रहा था। दोनों बाबूओं को एसीबी की टीम ने रंगे हाथों पकड़ा है।

सरगुजा के बतौली बीईओ दफ्तर में पदस्थ सहायक ग्रेड 2 प्रमोद कुमार गुप्ता को एसीबी ने रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया है। जानकारी के मुताबिक 2017 में बतौली के माध्यमिक शाला घोघरा से प्रधान पाठक पद से बरनाबस मिंज रिटायर हुए थे। रिटायरमेंट के बाद उन्हें अवकाश नकदीकरण और सातवें वेतनमान का ऐरियर्स नहीं मिला था। इसी के एवज में प्रमोद गुप्ता 10 हजार रुपये की डिमांड कर रहा था।प्रमोद गुप्ता की मनमानी से परेशान होकर पूर्व प्रधानपाठक ने इसकी शिकायत एसीबी से कर दी, जिसके बाद उसे एसीबी की टीम ने ट्रैप कर लिया।

शिक्षक से 10 हजार घूस लेते पकड़ाया

वहीं दूसरा मामला नारायणपुर का है। जहां एक शिक्षक से संलग्नीकरण के नाम पर एक बाबू पैसे की डिमांड कर रहा था। जिसके बाद शिक्षक ने एसीबी में जाकर इस मामले की शिकायत की। शिक्षक ने बताया कि किशोर कुमार मेश्राम, सहायक ग्रेड 3, कार्यालय जिला शिक्षा अधिकारी, नारायणपुर ने उसको अन्य शाला में संलग्नीकरण के लिए 10000 रूपये की रिश्वत मांग की गई है। शिकायत का सत्यापन कर एसीबी की जगदलपुर यूनिट द्वारा आज ट्रेप कार्यवाही कर आरोपी को 10000 रू. नगद का रिश्वत लेते हुए पकड़ा है।
उपरोक्त चारो आरोपियों के विरूद्ध अपराध पंजीबद्ध कर उनके विरूद्ध वैधानिक कार्यवाही की जा रही है।

  • Krishna Baloon
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular