Monday, June 17, 2024
Homeछत्तीसगढ़रायपुररायपुर: वर्दी पहनकर पहुंचा दुकानदार के पास और बोला- पुलिस को पैसा...

रायपुर: वर्दी पहनकर पहुंचा दुकानदार के पास और बोला- पुलिस को पैसा नहीं देते हो अंदर करवा दूंगा, पीछे से आ गई असली पुलिस…

  • रायपुर के कटोरातालाब इलाके में ठगी करते हुए शातिर गिरफ्तार
  • खुद को बताया बर्खास्त पुलिसकर्मी, नशे में की थाने में बदसलूकी

रायपुर शहर के कटोरा तालाब इलाके के कुछ दुकानदार पिछले कुछ दिनों से अवैध वसूली की वजह से बेहद परेशान थे। एक युवक इनके पास आकर खुद को पुलिस का जवान बताकर रुपए वसूल कर रहा था। गुरुवार की रात भी इस इलाके के एक फास्ट फूड रेस्टोरेंट में ऐसा ही हुया। एक युवक पुलिस की वर्दी में पहुंचा था और कहने लगा अगर पैसा नहीं दिया तो दुकानदार को अंदर करवा दूंगा…। इतने में दुकानदार ने सिविल लाइन थाने में संपर्क किया थाने की टीम मौके पर पहुंची और खुलासा हुआ कि यह युवक नकली पुलिस बनकर लोगों से पैसे ऐंठ रहा था।

असली पुलिस को भी देने लगा धमकी
इस मामले में पुलिस ने टिकरापारा इलाके के रहने वाले मोहन सोना नाम के लड़के को गिरफ्तार किया है। 35 साल के मोहन ने हू-ब-हू छत्तीसगढ़ पुलिस जैसे ही वर्दी सिलवा रखी थी। शोल्डर बैज भी बनवा लिया था। नेम प्लेट लगाकर दुकानदारों को हड़का रहा था। कटोरा तालाब के शिव मंदिर के पास रितेश पंजवानी नाम के युवक की एक फास्ट फूड की आउटलेट है।

यहां मोहन पहुंच गया और कहने लगा कि अगर रुपए नहीं दिए तो वह दुकान बंद करवा देगा, गिरफ्तारी करवा देगा। दुकानदार रितेश ने बताया कि इससे पहले 25 फरवरी को भी मोहन इसी तरह से दुकान में आया था और वसूली की कोशिश कर रहा था। मगर तब मैंने कहा कि थाने वालों को बुला लेता हूं, यह सुनकर वो भाग गया था।

थाने में पहुंचने पर पता चला कि आरोपी नशे में है। वो काफी देर तक बदसलूकी करता रहा।

थाने में पहुंचने पर पता चला कि आरोपी नशे में है। वो काफी देर तक बदसलूकी करता रहा।

गुरुवार की रात जब मोहन नहीं माना तो दुकानदार ने पुलिस बुला ली। मोहन धमका ही रहा था कि तब तक सिविल लाइन थाने से असली पुलिस के जवान पहुंच गए। टीम ने मोहन को गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तारी के बाद भी इस नकली पुलिस वाले की अकड़ कम नहीं हुई। यह थाने के स्टाफ को धमकी देता रहा कहता रहा कि मुझे झूठा फंसाया जा रहा है । जवानों के साथ इसने धक्का-मुक्की भी की। काफी देर तक थाने में ही इसका हंगामा चलता रहा हालांकि अब इसे कोर्ट की प्रक्रिया पूरी कर जेल भेजने की तैयारी है।

पुलिस ने अब तक की जांच में पाया है कि लॉकडाउन के वक्त भी ऐसे ही किसी युवक के द्वारा वसूली की बातें सामने आई थीं। लेकिन तब यह पता नहीं चल सका था कि वसूली करने वाला आखिर है कौन। जांच टीम को यकीन है कि पहले भी कई दुकानदारों से मोहन रुपए वसूल कर चुका होगा। आरोपी वसूली की रकम से शराब पीता था और जुआ खेलता था। आरोपी से पुलिस दूसरी घटनाओं को लेकर भी पूछताछ कर रही है। माना जा रहा है कि कुछ पुलिसवालों के भी संपर्क में आरोपी रहा है, तब ही इसे यूनिफॉर्म के बारे में जानकारी मिली है। इस मामले में छानबीन जारी है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular