Thursday, July 25, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाछत्तीसगढ़ में कोरोना से 2 की मौत, 307 नए केस... अब एक्टिव...

छत्तीसगढ़ में कोरोना से 2 की मौत, 307 नए केस… अब एक्टिव मरीजों की संख्या 2567; पॉजिटिविटी दर 8.45 फीसदी,  25 जिलों में मिले संक्रमित मरीज

रायपुर: छत्तीसगढ़ में बीते 24 घंटों में कोरोना के 307 नए मरीज मिले हैं। जिसके बाद एक्टिव मरीजों की संख्या 2567 हो गई है। जबकि 2 दो मरीजों की मौत हुई है। स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक दोनों मरीजों की मौत को-मॉर्बिडिटी यानि कोरोना के साथ किसी अन्य बीमारी की वजह से हुई है।

सबसे ज्यादा 26 मरीज दुर्ग में मिले हैं। पॉजिटिविटी दर 8.45 फीसदी पहुंच गई है। प्रदेश में को-मॉर्बिडिटी के साथ लगातार हो रही मौतों की वजह से स्वास्थ्य विभाग की चुनौतियां अब और ज्यादा बढ़ गई है। शनिवार को 3631 लोगों ने कोरोना का टेस्ट कराया था।

छत्तीसगढ़ में कोरोना मरीजों के जिलेवार आंकड़े

छत्तीसगढ़ में कोरोना मरीजों के जिलेवार आंकड़े

25 जिलों में मिले मरीज

प्रदेश में सबसे ज्यादा 26 मरीज दुर्ग जिले में मिले हैं। रायपुर में 25, बलौदा बाजार में 25 मरीज, गौरेला-पेंड्रा- मरवाही में 22, बिलासपुर में 19, कांकेर में 19, कोरिया में 19, सरगुजा में 17, कबीरधाम में 17, सूरजपुर में 16, धमतरी में 15, बालोद में 13, राजनांदगांव में 12, रायगढ़ में 11, नारायणपुर में 10,कोरबा जिले में 9, बलरामपुर में 7, जांजगीर-चांपा जिले में 6, बेमेतरा में 5, सुकमा में 4, जशपुर में 3, महासमुंद में 3,बस्तर में 2 गरियाबंद और दंतेवाड़ा में 1-1 मरीज मिले हैं।

बीते 10 दिनों में कोरोना से होने वाली मौत के आंकड़े जो सामने आये हैं, उनमें को-मॉर्बिडिटी की वजह से ही सबसे ज्यादा मौतें हुई हैं।
21 अप्रैल – कोरोना से कुल 3 मौतें हुई, 2 की वजह को-मॉर्बिडिटी, 1 मरीज की केवल कोरोना से हुई।
22 अप्रैल – कोरोना से किसी भी मरीज की मौत नहीं हुई।
23 अप्रैल – को-मॉर्बिडिटी के साथ 1 मरीज की मौत
24 अप्रैल – कोरोना से किसी भी मरीज की मौत नहीं हुई।
25 अप्रैल – को-मॉर्बिडिटी के साथ 1 मरीज की मौत
26 अप्रैल – को-मॉर्बिडिटी के साथ 1 मरीज की मौत
27 अप्रैल – को-मॉर्बिडिटी के साथ 3 मरीजों की मौत
28 अप्रैल – कोरोना से कुल 3 मौतें हुई, 2 की वजह को-मॉर्बिडिटी, 1 मरीज की केवल कोरोना से मौत
29 अप्रैल – को-मॉर्बिडिटी के साथ 2 मरीजों की मौत

बीते 9 दिनों में कोरोना से 14 लोगों की मौत हुई, जिनमें को-मॉर्बिडिटी के साथ मरने वालों की संख्या 12 है, यानि किसी अन्य गंभीर बीमारी के साथ हुआ कोरोना जानलेवा बन रहा है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular