Thursday, July 25, 2024
Homeछत्तीसगढ़BIG NEWS : कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता गौरव वल्लभ भाजपा में शामिल,...

BIG NEWS : कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता गौरव वल्लभ भाजपा में शामिल, लिखा- सनातन विरोधी नारे नहीं लगा सकता, 24 घंटे के अंदर कांग्रेस के 3 कद्दावर नेताओं ने पार्टी छोड़ी

नई दिल्ली: कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता गौरव वल्लभ गुरुवार 4 अप्रैल को पार्टी से इस्तीफा देने के बाद भाजपा में शामिल हो गए। उन्होंने सुबह ही कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे को लेटर लिखकर इस्तीफा दिया था।

गौरव ने खड़गे से कहा था कि वे न तो सनातन विरोधी नारे लगा सकते हैं और न ही सुबह-शाम देश के वेल्थ क्रिएटर्स को गाली दे सकते हैं। इसी वजह से पार्टी से इस्तीफा दे रहे हैं।

24 घंटे के अंदर कांग्रेस के 3 कद्दावर लोगों ने पार्टी छोड़ दी। बुधवार शाम को बॉक्सर विजेंदर सिंह ने फिर देर रात पूर्व सांसद संजय निरुपम और अब गौरव ने।

कांग्रेस ने राजस्थान विधानसभा चुनाव 2023 में गौरव वल्लभ को उदयपुर सीट से मैदान में उतारा था, लेकिन वे BJP के ताराचंद जैन से 32 हजार से ज्यादा वोटों से हार गए थे।

गौरव वल्लभ एक टीवी डिबेट से चर्चा में आए थे। तब उन्होंने भाजपा प्रवक्ता से पूछा था कि ट्रिलियन में कितने शून्य होते हैं, ये तो बता दीजिए।

गौरव वल्लभ ने इस्तीफे में लिखीं 2 बड़ी बातें …

1. पार्टी में नए आइडिया की कद्र नहीं होती
कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे को लेटर लिखते हुए गौरव ने कहा, ‘पिछले कुछ दिनों से पार्टी के स्टैंड से असहज महसूस कर रहा हूं। जब मैंने कांग्रेस पार्टी जॉइन की तब मेरा मानना था कि कांग्रेस देश की सबसे पुरानी पार्टी है। वहां सभी के आइडिया की कद्र होती है, लेकिन ऐसा नहीं है।

पार्टी का ग्राउंड लेवल कनेक्ट पूरी तरह से टूट चुका है और वह नए भारत की आकांक्षा को बिल्कुल भी नहीं समझ पा रही। इसी वजह से पार्टी न तो सत्ता में आ पा रही है और न ही मजबूत विपक्ष की भूमिका निभा पा रही हैं। बड़े नेताओं और जमीनी कार्यकर्ताओं के बीच की दूरी पाटना बेहद कठिन है, जो राजनैतिक रूप से जरूरी है। जब तक एक कार्यकर्ता अपने नेता को डायरेक्ट सुझाव नहीं दे सकता, तब तक किसी भी प्रकार का सकारात्मक परिवर्तन संभव नहीं है।’

गौरव 2003 में RBI के थिंक-टैंक के तौर पर भी काम कर चुके हैं।

गौरव 2003 में RBI के थिंक-टैंक के तौर पर भी काम कर चुके हैं।

2. श्रीराम की प्राण प्रतिष्ठा में कांग्रेस के स्टैंड से परेशान हूं
‘अयोध्या में प्रभु श्रीराम की प्राण प्रतिष्ठा में कांग्रेस पार्टी के स्टैंड से मैं परेशान हूं। मैं जन्म से हिंदू और कर्म से शिक्षक हूं। पार्टी और गठबंधन से जुड़े कई लोग सनातन के विरोध में बोलते हैं और पार्टी का उस पर चुप रहना स्वीकृति देने जैसा है।

इन दिनों पार्टी गलत दिशा में आगे बढ़ रही है। एक ओर हम जाति आधारित जनगणना की बात करते हैं, वहीं दूसरी ओर संपूर्ण हिंदू समाज के विरोधी नजर आ रहे हैं। यह कार्यशैली जनता के बीच पार्टी को एक खास धर्म विशेष का हितैषी होने का संदेश दे रही है। यह कांग्रेस के मूलभूत सिद्धांतों के खिलाफ है।’

कांग्रेस ने राजस्थान की उदयपुर सीट से मैदान में उतारा था
राजस्थान विधानसभा चुनाव 2023 में कांग्रेस ने गौरव वल्लभ को उदयपुर सीट से उतारा था। उनके लिए पूर्व CM अशोक गहलोत ने चुनाव प्रचार किया था। इसके बावजूद वे BJP के ताराचंद जैन से 32 हजार से ज्यादा वोटों से हार गए थे।

इसके अलावा 2019 के झारखंड विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने गौरव को जमशेदपुर पूर्वी सीट पर पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास के खिलाफ मैदान में उतारा था। तब भी वे जीत नहीं पाए थे। गौरव जोधपुर के रहने वाले हैं, लेकिन जमशेदपुर को अपनी कर्मभूमि मानते हैं।

टीवी डिबेट में संबित पात्रा से बहस के दौरान चर्चा में आए थे
गौरव वल्लभ (46) कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता थे। एक टीवी शो पर भाजपा नेता संबित पात्रा से बहस के दौरान वे चर्चा में आए थे। भाजपा बीते सालों से 5 ट्रिलियन इकोनॉमी का मुद्दा जोर-शोर से उठा रही है। गौरव ने भाजपा प्रवक्ता से पूछा था कि ट्रिलियन में कितने शून्य होते हैं, ये तो बता दीजिए।

गौरव की अर्थव्यवस्था और वित्त मामलों पर अच्छी पकड़ मानी जाती है। उन्होंने अमेरिका से सर्टिफाइड फाइनेंस रिस्क मैनेजमेंट का कोर्स किया है। वे चार्टर्ड अकाउंटेंट की सबसे बड़ी संस्था ICAI के डायरेक्टर थे और कई कॉलेज में बतौर गेस्ट लेक्चर पढ़ाने जा चुके हैं। 2003 में वह RBI के थिंक टैंक के तौर पर भी काम कर चुके हैं।

Muritram Kashyap
Muritram Kashyap
(Bureau Chief, Korba)
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular