Thursday, July 25, 2024
Homeछत्तीसगढ़BIG News: बहू ने जहर मिलाकर भिंडी की सब्जी सास को खिलाई.....

BIG News: बहू ने जहर मिलाकर भिंडी की सब्जी सास को खिलाई.. पति बोला- खाने के बाद तबीयत बिगड़ने से मौत, मायके वालों के साथ रची साजिश

Jaipur: जयपुर में जहर देकर सास की हत्या करने का मामला सामने आया है। बहू पर आरोप है कि उसने भिंडी की सब्जी में जहर मिलाकर सास को दी थी, जिससे मौत हो गई। मालवीय नगर थाने में मृतका के पति ने रिपोर्ट दर्ज कराई है। ससुर ने बहू सहित चार लोगों पर हत्या का मामला दर्ज कराया है। मृतका के पति का आरोप है कि गेहूं में रखने वाली दवाई (जहर) निकालकर बहू ने सब्जी में मिलाकर सास को दिया था। बहू ने अपने परिवार के साथ इसकी प्लानिंग की। घर पर लगे CCTV फुटेज में बहू बगल के प्लाट में कुछ फेंकते हुए दिखाई भी दे रही है। अगस्त 2022 में हुई इस घटना की FSL रिपोर्ट 9 जनवरी 2023 को सामने आई है। मामले की जांच कर रहे मालवीय नगर थाने के एसएचओ ने बताया कि एफएसएल रिपोर्ट में भी जहर से मौत होना सामने आया है।

SHO हरिसिंह दूधवाल ने बताया कि मॉडल टाउन मालवीय नगर निवासी अशोक कुमार मीना(63) ने रिपोर्ट दर्ज करवाई है। वह भारतीय रेलवे से इंजीनियर के पद से रिटायर्ड हैं। अपनी पत्नी चन्द्रकला (60), बेटे राहुल कांवट (35) और बेटी वंदना कांवत (32) के साथ रहते थे। साल 2009 में बेटी वंदना की शादी हो गई। दो मंजिला मकान में दंपती बेटे राहुल के साथ रहने लगे। दिसम्बर 2017 में राहुल की शादी कठूमर अलवर निवासी सरोज (28) से हुई।

आरोप है कि बहू ने भिंडी की सब्जी में जहर मिलाकर दिया, इससे सास चन्द्रकला की मौत हो गई।

आरोप है कि बहू ने भिंडी की सब्जी में जहर मिलाकर दिया, इससे सास चन्द्रकला की मौत हो गई।

शादी के बाद से करने लगी झगड़े
अशोक ने बताया कि शादी के बाद से ही बहू सरोज पति और सास से झगड़ा करती थी। अपने मां-बाप ढकेली-रमेश चंद और भाई रिंकू को बुलाकर भी झगड़ती थी। कोर्ट केस कर जेल में बंद कराने की धमकियां देती थी। अक्टूबर 2018 में पोते नैतिक के जन्म के बाद भी झगड़े बंद नहीं हुए। करीब दो साल से लगातार झगड़े से परिवार परेशान होता रहा। दिसंबर 2020 में ससुर रमेश ने घर आकर दामाद और बेटी को घर की पहली मंजिल पर बने पोर्शन में शिफ्ट करवा दिया। इसके बाद 7 दिन के लिए बेटी को अपने साथ ले जाने की कहा। करीब 2 महीने तक नहीं लौटी तो 16 फरवरी 2021 को अशोक खुद जाकर बहू सरोज को घर लेकर आए। इसके बाद उसने दोबारा परिवार से झगड़ना शुरू कर दिया। 5 दिन बाद ही पति को धमकाया कि अबकी बार लास्ट चांस लेकर आई हूं।

घर छोड़कर चली गई पीहर
घर पर झगड़ा कर पौने तीन साल के बेटे को छोड़कर अप्रैल 2022 को वह भाई रिंकू को बुलाकर अपने पीहर चली गई। पोते के मां से अलग होने के कारण उसे बार-बार बुलाने का प्रयास किया गया। 21 जुलाई को उसका भाई रिंकू उसे घर वापस लेकर आया। बातचीत कर कहा कि आगे से उसकी बहन सरोज परिवार के किसी भी सदस्य से झगड़ा नहीं करेगी। आप लोग एक साथ रहो और एक साथ खाना बनाया करो।

दिसंबर 2020 में ससुर रमेश ने घर आकर दामाद और बेटी को घर की पहली मंजिल पर बने पोर्शन में अलग शिफ्ट करवा दिया था।

दिसंबर 2020 में ससुर रमेश ने घर आकर दामाद और बेटी को घर की पहली मंजिल पर बने पोर्शन में अलग शिफ्ट करवा दिया था।

खुशी-खुशी रहने लगे साथ
पीड़ित अशोक का कहना है कि बहू के बदले स्वभाव से परिवार खुश था। मकान के नीचे वाले पोर्शन में ही बेटा-बहू और पोते के साथ रहने लगे। 12 दिनों तक बहू परिवार से प्रेम से रही। 2 अगस्त की रात बहू ने खाने के लिए भिंडी प्याज की मिक्स सब्जी बनाई। सास चन्द्रकला के प्याज नहीं खाने के कारण अगले से भिंडी की सब्जी बनाई।

खाना खाने के बाद हो गई तबीयत खराब
रात करीब 8:30 बजे सभी ने खाना खाया। खाना खाने के दौरान चन्द्रकला ने पहला ग्रास खाते ही सब्जी में कड़वापन होने की कहा था। खाना खाने के बाद चन्द्रकला बरामदे में घूमने लगी। करीब पौन घंटे बाद ही उसे बेचैनी होने लगी। उलटियां आने पर उसे बेडरूम में लिटा दिया गया। फिर हालत गंभीर होने पर उसे तुरंत अपेक्स हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया।

डॉक्टर बोला- जहर से बिगड़ी हालत
पीड़ित अशोक ने बताया कि 2 अगस्त की रात को डॉक्टर ने उसे ICU में भर्ती कर लिया। इलाज के दौरान ICU से बाहर आकर डॉक्टर ने बताया। चन्द्रकला ने जहर लिया है या दिया गया है। यह सुनते ही उनके होश उड़ गए। हमने तुरंत डॉक्टर से इलाज करने को कहा। डॉक्टर ने बताया कि जब तक कौन सा जहर है यह पता नहीं चल जाता, इलाज संभव नहीं है। डॉक्टर के कहने पर बेटा राहुल घर पर शीशी, रैपर या पुड़िया देखने के लिए पहुंचा।

बेटे राहुल ने घर जाकर पत्नी सरोज से खाने के बारे में पूछा तो वह हडबड़ा गई, कहने लगी सब्जी रोटी मैंने भी तो खाई है।

बेटे राहुल ने घर जाकर पत्नी सरोज से खाने के बारे में पूछा तो वह हडबड़ा गई, कहने लगी सब्जी रोटी मैंने भी तो खाई है।

पूछने पर हड़बड़ा गई पत्नी
राहुल के घर पहुंचने पर पत्नी सरोज बेडरूम में सोती मिली। किचन में खाने के सभी बर्तन साफ थे। बची हुई सब्जी-रोटी नहीं मिली। किचन के बाहर कूड़ेदान व फ्रीज को देखने पर खाने का कुछ सामान नहीं था। रात के बर्तन सुबह साफ होते थे, लेकिन सरोज ने रात को ही सभी बर्तन धो रखे थे। राहुल ने सरोज से खाने के बारे में पूछा तो वह हडबड़ा गई। कहने लगी सब्जी रोटी मैंने भी तो खाई है। मैंने भी मम्मी वाली सब्जी खाई है मुझ तो कुछ नहीं हुआ, मम्मी कैसे बीमारी हो गई। राहुल ने बोला- मम्मी के बिना प्याज की सब्जी खाई है और तूने प्याज वाली सब्जी खाई है। दोनों सब्जी एक जैसी नहीं थी।

मेडिकल बोर्ड से करवाया पोस्टमार्टम
3 अगस्त 2022 को इलाज के दौरान चन्द्रकला की मौत हो गई। मेडिकल सूचना पर पुलिस अपेक्स हॉस्पिटल पहुंची। पुलिस ने जयपुरिया हॉस्पिटल में चन्द्रकला का मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करवाया। अपेक्स हॉस्पिटल की रिपोर्ट में चन्द्रकला की मौत जहर से होना बताया। जयपुरिया में हुए पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत का कारण गोपनीय रखा गया। पुलिस ने FSL के लिए बिसरा भेजा। चन्द्रकला की मौत के करीब डेढ़ महीने बाद पति अशोक ने बहू सरोज (28), उसके पिता रमेश चन्द मीना, मां ढकेली और भाई रिंकू के खिलाफ हत्या कर सबूत मिटाने का मामला दर्ज करवाया।

पोते के साथ मेरे को भी भेजी थी सब्जी
पीड़ित अशोक ने बताया कि उस रात बहू सरोज ने पोते के साथ मेरे को भी सब्जी भेजी थी। पोता मेरी थाली में सब्जी उडे़लते हुए बोला- दादाजी, मम्मी ने सब्जी भेजी है। जब तक मैं खाना खा चुका था। मैने सब्जी की कटोरी लेकर साइड में रख दी। एक पीस थाली में गिरा तो चखने पर कडवी ककड़ी का टेस्ट जैसा लगने पर निकाल दिया। सरोज मेरे खाने की थाली में रखकर उसे अपने साथ रखकर ले गई। बहू मुझे, बेटे और पोते को मारना चाहती थी।

इलाज के दौरान ICU से बाहर आकर डॉक्टर ने बताया- चन्द्रकला ने जहर लिया है या दिया गया है।

इलाज के दौरान ICU से बाहर आकर डॉक्टर ने बताया- चन्द्रकला ने जहर लिया है या दिया गया है।

गेहूं के ड्रम से दवाई की पूड़िया गायब

अशोक ने बताया कि 21 जुलाई को बहू वापस घर लौटी थी। 4 दिन बाद ही 25 जुलाई को गेहूं में कीड़े लगने की कहकर दवाई मंगवाई। गेहूं के दोनों ड्रम में दो-दो पुड़ियां कपड़े में बांधकर डाली थी। हत्या का मामला दर्ज होने के बाद पुलिस ने घर की तलाशी ली थी। तलाशी में गेहूं के ड्रमों में रखी दवाई की एक पुड़िया गायब मिली थी। पुलिस की ओर से करवाई FSL रिपोर्ट में भी चन्द्रकला की मौत उसी से होना सामने आया है।

इनका कहना है

SHO (मालवीय नगर ) हरिसिंह दूधवाल का कहना है कि मृतका चन्द्रकला का मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करवाया गया था। FSL को भेजी रिपोर्ट में जहर (एल्युमिनियम फास्फाइड) से मौत होना सामने आया है। पैथालोजी की रिपोर्ट आना अभी बाकी है। जहर लिया गया है या दिया गया है, इस संबंध में जांच की जा रही है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular