Monday, July 15, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाCG: धू-धूकर जल गई कार... जन्माष्टमी पर्व पर पूजा कर रहा था...

CG: धू-धूकर जल गई कार… जन्माष्टमी पर्व पर पूजा कर रहा था ट्रांसपोर्टर तभी बदमाशों ने कार में लगा दी आग, कैश, मोबाइल व दस्तावेज भी जलकर खाक

BILASPUR: छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में बदमाशों ने खड़ी कार में आग लगा दी, जिससे कार धू-धूकर जलकर खाक हो गई। आगजनी की इस घटना में कार के अंदर रखे 10 हजार रुपए कैश, मोबाइल व दस्तावेज भी जल गए। ट्रांसपोर्टर युवक जन्माष्टमी पर्व पर पूजा कर रहा था। इस दौरान उसकी कार घर के सामने खड़ी थी। तभी किसी ने उसकी कार में आग लगा दी। घटना सिविल लाइन थाना क्षेत्र की है।

सरकंडा क्षेत्र के अशोक नगर निवासी सुमित यादव ट्रांसपोर्टर है। बीते शुक्रवार की रात वह अपने मम्मी-पापा व परिवार के साथ जन्माष्टमी पर्व मनाने के लिए कुदुदंड में रहने वाले अपने बड़े पापा द्वारिका प्रसाद यादव के घर गया था। इस दौरान वह अपनी कार को उनके घर के सामने खड़ी कर दी थी। वहीं, सुमित और उसके परिवार वाले अंदर पूजा पाठ करने में व्यस्त हो गए थे। तभी घर के बाहर कुछ जलने की आवाज आई।

कार को जलती हुई देखकर आसपास के लोगों की जुटी भीड़।

कार को जलती हुई देखकर आसपास के लोगों की जुटी भीड़।

बाहर निकला तो धू-धूकर जल रही थी कार
रात करीब 9.30 बजे सुमित बाहर निकला तो लोगों की भीड़ लगी थी। वहीं, उसकी कार क्रमांक CG10 AY 5617 धू-धूकर जल रही थी। आसपास के लोगों ने इस घटना की जानकारी फायर ब्रिगेड को दी। जब तक दमकल मौके पर पहुंची, कार बुरी तरह जलकर खाक हो चुकी थी।

कार में रखे कैश, मोबाइल व दस्तावेज भी जलकर खाक
सुमित यादव ने पुलिस को बताया कि वह कार को सुरक्षित खड़ी किया था। पूजा-पाठ के दौरान पता चला कि उसकी कार में किसी ने आग लगा दी है। आगजनी की इस घटना में कार के अंदर रखे 10 हजार रुपए, मोबाइल व आधार कार्ड, पेन कार्ड, पासबुक सहित अन्य दस्तावेज भी जलकर खाक हो गए। इस घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। उसकी शिकायत पर पुलिस आगजनी का केस दर्ज कर जांच कर रही है।

बाल्टी से पानी डालकर अकेले आग बुझाता रहा ट्रांसपोर्टर, तमाशबिन बनी रही भीड़।

बाल्टी से पानी डालकर अकेले आग बुझाता रहा ट्रांसपोर्टर, तमाशबिन बनी रही भीड़।

शरारत या फिर दुश्मनी में लगाई आग
पुलिस की पूछताछ में सुमित ने बताया कि उसकी कार में आसपास के बदमाश लोगों ने शरारत कर आग लगाई होगी। या फिर दुश्मनी के चलते कार में आगजनी की गई होगी। पुलिस केस दर्ज करने के बाद घटनास्थल के आसपास सीसीटीवी फुटेज देख रही है। ताकि, बदमाशों की पहचान की जा सके।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular