Wednesday, June 19, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाCG: कॉन्स्टेबल पर चढ़ाई कार, नहीं लिखी गई FIR... पेट्रोलिंग स्टाफ बोला-...

CG: कॉन्स्टेबल पर चढ़ाई कार, नहीं लिखी गई FIR… पेट्रोलिंग स्टाफ बोला- परिचित है कार चालक, घायल आरक्षक की शिकायत पर SP ने TI को लताड़ा

BILASPUR: बिलासपुर में बाइक सवार कॉन्स्टेबल प्रदीप दिवाकर पर बदमाश ने अपनी तेज रफ्तार कार चढ़ा दी। हादसे में आरक्षक बुरी तरह से घायल हो गया। इधर थाने की पेट्रोलिंग टीम ने कार को जब्त करने के बजाए समझौता कराने की बात कह दी और थानेदार ने भी उसकी शिकायत नहीं सुनी। इससे परेशान आरक्षक अपनी शिकायत लेकर एसपी ऑफिस पहुंच गया।

मामला सामने आने पर एसपी ने टीआई को जमकर फटकार लगाई और आरोपी के खिलाफ केस दर्ज करने के निर्देश दिए। पूरा मामला सरकंडा थाना क्षेत्र का है।

जानकारी के मुताबिक, सिविल लाइन थाना क्षेत्र के कुदुदंड निवासी प्रदीप दिवाकर आरक्षक के पद पर कार्यरत है। वह सरकंडा थाने में पदस्थ है। 2 नवंबर की देर रात वह संतरी ड्यूटी करने के लिए अपने घर से थाना जाने के लिए निकला था। अभी वह सीपत चौक के पास ही पहुंचा था कि उसी समय कार क्रमांक सीजी 10 एएम 8110 का चालक उसका पीछा करने लगा। नूतन चौक तक आरक्षक अपनी साइड में चलता जा रहा था। इस दौरान कार ने पीछे से उसकी बाइक को टक्कर मार दी, जिससे वह बुरी तरह से घायल हो गया।

घायल आरक्षक ने एसपी संतोष कुमार सिंह से मामले की शिकायत की है।

घायल आरक्षक ने एसपी संतोष कुमार सिंह से मामले की शिकायत की है।

पेट्रोलिंग टीम पहुंची तो बोली- परिचित है चालक

आरक्षक ने अपनी शिकायत में बताया कि बाइक से गिरकर वह घायल पड़ा था। इस बीच कार सवार नीचे उतरा और उसे घायल देखने के बाद भी उसकी मदद नहीं की। इस बीच आरक्षक दिवाकर ने थाने की पेट्रोलिंग टीम को फोन किया। खबर मिलते ही आरक्षक रितेश मिश्रा वहां पहुंचे। उसने कार चालक को अपना परिचित बताते हुए उसे जाने दिया। फिर बाद में वह थाने में केस दर्ज कराने पहुंचा, लेकिन टीआई जेपी गुप्ता ने उसकी रिपोर्ट दर्ज नहीं की।

एसपी ने टीआई को लगाई फटकार

मंगलवार 7 नवंबर को घायल आरक्षक प्रदीप दिवाकर अपने परिजन के साथ एसपी ऑफिस पहुंचा। उसने एसपी संतोष सिंह को पूरी घटना की जानकारी दी। साथ ही बताया कि हादसे में उसकी रीढ़ की हड्‌डी और पसलियां टूट गई हैं। नस में खून जम गया और वह चलने की हालत में नहीं है। उसकी बातों को सुनकर एसपी संतोष सिंह ने सरकंडा टीआई को फोन पर जमकर फटकार लगाई और कार्रवाई करने के निर्देश दिए।

आरक्षक बोला- चालक ने जानबूझकर मारी टक्कर

घायल आरक्षक प्रदीप दिवाकर ने अपनी शिकायत में बताया कि कार चालक काफी दूर से उसका पीछा कर रहा था और बार-बार हॉर्न बजा रहा था। इस दौरान उसने कार को साइड देने का प्रयास भी किया, लेकिन वह जानबूझकर कार को बाइक के पीछे लेकर आ रहा था। कुछ दूर तक आगे-पीछे करने के बाद नूतन चौक के पास उसने बाइक को टक्कर मार दी। आरक्षक ने मामले में हत्या की कोशिश का भी केस दर्ज करने की मांग की है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular