Wednesday, June 19, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाCG: बिजनेसमैन से साइबर फ्रॉड... खुद को पुलिस बताकर व्यवसायी से ठग...

CG: बिजनेसमैन से साइबर फ्रॉड… खुद को पुलिस बताकर व्यवसायी से ठग लिए 90 हजार, बोला- मेरे साथ ही बैठे हैं आपके दामाद

बलरामपुर: जिले में एक अज्ञात व्यक्ति ने खुद को कुसमी थाने का टीआई बताकर शहर के मोटर पार्ट्स व्यवसायी से 90 हजार रुपए की ठगी कर ली। ठगी का एहसास होने पर व्यवसायी रविंद्र नाथ तिवारी ने थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई। कुसमी पुलिस ने अज्ञात आरोपी के खिलाफ अपराध दर्ज कर लिया है।

बलरामपुर-रामानुजगंज जिले के कुसमी नगर पंचायत के वार्ड क्रमांक 7 मुख्य बाजार निवासी रविंद्र नाथ तिवारी मोटर पार्ट्स एवं साइकिल दुकान के संचालक हैं। उनके फोन पर रविवार को एक मोबाइल नंबर से फोन आया।

फोन करने वाले ठग ने कहा कि वह कुसमी थाने से टीआई बोल रहा है। उसके बेटे के अकाउंट में पैसा भेजना है। उसके अकाउंट से पैसा नहीं जा रहा हैं। क्रेडिट कार्ड से आपके फोन-पे के वॉलेट में लिंक भेज रहा हूं, इसके बाद आप मेरे बेटे के खाते में पैसा डाल दीजिएगा।

इस पर व्यवसायी रविंद्र नाथ ने कहा कि उनका दामाद भी एसडीओपी कार्यालय कुसमी में पदस्थ हैं। तब ठग ने कहा कि वह भी मेरे साथ में ही बैठे हुए हैं। इससे रविंद्र नाथ को ठग की बातों पर विश्वास हो गया और वह झांसे में आ गए।

दो बार में कटे 90 हजार

जब फोन करने वाले ठग ने लिंक भेजा तो रविंद्र नाथ ने अपने बेटे को मोबाइल देकर कहा कि टीआई साहब फोन किए हैं, पैसा भेजने के लिए बोल रहे हैं, दामाद भी साथ में ही है।

तब उनके बेटे ने भी भरोसा कर भेजे गए लिंक पर पासवर्ड दर्ज किया तो पहली बार में 45 हजार रुपए कटने का मैसेज आया। फिर दूसरी बार में 45 हजार रुपए और कट गए। अंतिम बार 10 हजार रुपए का लिंक आया लेकिन वह फेल हो गया।

ऐसे हुआ ठगी का एहसास

रविंद्रनाथ ने अपने खाते को चेक किया तो पता चला कि कुल 90 हजार रुपए कट गए हैं। फिर उन्होंने ठग द्वारा भेजे गए लिंक को वॉलेट में क्रेडिट करने का प्रयास किया तो रकम जमा नहीं हुई। तब उन्हें ठगी का एहसास हुआ।

इसके बाद जब उन्होंने बैंक में जाकर पता किया तो जानकारी मिली कि उनके खाते से 90 हजार रुपए किसी अमन जायसवाल नाम के व्यक्ति के खाते में ट्रांसफर हुए हैं।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular