Monday, July 15, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाCG: पैसे डबल करने का लालच, महिला ने गंवाए 1 लाख... पीड़ित...

CG: पैसे डबल करने का लालच, महिला ने गंवाए 1 लाख… पीड़ित ने ऑनलाइन 1 रुपए भेजा तो रिटर्न मिले 2 रुपए, फिर 1 लाख पार

RAIPUR: रायपुर में एक महिला ऑनलाइन एक लाख रुपए ठगी का शिकार हो गई। लालपुर इलाके की महिला से ठग ने पैसे डबल करने का झांसा दिया। पहले तो ठग ने बैंक डिटेल के लिए एक रुपया ट्रांसफर करवाया और बदले में 2 रुपए रिटर्न भी ट्रांसफर किए। लेकिन इसके बाद झांसे में आकर महिला ने करीब 1 लाख रुपए गंवा दिए।

ठग ने खुद को आर्मी ऑफिसर बताकर ठगी की। पहले तो उसने किराए में मकान लेने की इच्छा जताई। फिर ऑनलाइन ट्रांजेक्शन में पैसा डबल करने का झांसा देकर 99 हजार 999 रुपए महिला से ऑनलाइन ट्रांजेक्शन करवा लिए। इस मामले में पुलिस ने FIR दर्ज कर ली है और आगे की जांच जारी है।

पूरा मामला, जानिए

डॉक्टर वी सिंह ने थाने में रिपोर्ट लिखाई है कि वह न्यू राजेंद्र नगर के एक निजी सोसायटी में रहती है। उन्हें अपना एक मकान किराया पर देना था। जिसके लिए उन्होंने एडवरटाइजमेंट दिया हुआ था। 15 अक्टूबर की सुबह 10 बजे उनके पास एक फोन आया। जिसमें सामने वाले ने खुद का नाम दीपक पवार बताया। उसने खुद को आर्मी अफसर बताया। फिर किराए के मकान के बारे में पूछताछ की।

पीड़ित महिला ने राजेंद्र नगर थाने में जाकर FIR दर्ज करवाई है।

पीड़ित महिला ने राजेंद्र नगर थाने में जाकर FIR दर्ज करवाई है।

पैसे डबल करने की स्कीम बताई

ठग ने महिला को कहा कि उसका आर्मी अकाउंट है। यदि उसे 1 रुपए भेजेगी तो उसका दोगुना मतलब 2 रुपए रिटर्न होकर आएगा। ठग ने कहा कि बैंक डिटेल के लिए 1 रुपए भेजें इसके बदले में महिला को 2 रुपए रिटर्न भी किए गए।

जिसके बाद महिला लालच में आ गई। महिला ने उसे पहली बार में 54 हजार रुपये भेज दिए। वो इस उम्मीद में थी कि उसके पैसे अब डबल हो जाएंगे। फिर ठग ने ट्रांजेक्शन गलत बताकर उससे 45999 और वसूल लिए। इसके बाद से आरोपी ने अपना नंबर बंद कर दिया।

इस घटना के बाद पीड़ित महिला ने राजेंद्र नगर थाने में जाकर FIR दर्ज करवाई है। मामले में थानेदार अर्चना धुरंधर ने कहा कि महिला की शिकायत पर जांच जारी है। फिलहाल फ्रॉड के संबंध में जानकारी जुटायी जा रही है।

अलर्ट नोटिफिकेशन ऑन रखें

आजकल वॉलेट ऐप जैसे- गूगल पे, फोन पे और पेटीएम पर मनी रिक्वेस्ट की सुविधा उपलब्ध है। यानी आपको कोई भी पेमेंट करने के लिए रिक्वेस्ट भेज सकता है। जिसके बाद बस एक क्लिक पर आपके अकाउंट से उस अकाउंट में पैसे चले जाएंगे। सभी वॉलेट ऐप पर अलर्ट नोटिफिकेशन की सुविधा उपलब्ध है। जब भी कोई आपके वॉलेट ऐप में लॉगिन करने की कोशिश करेगा तो आपको अलर्ट नोटिफिकेशन आएगा, संदेह होने पर आप परमिशन डिनाई भी कर सकते हैं।

कुकीज को डिलीट करना न भूलें

जब भी आप ब्राउजर, जैसे- क्रोम और मोजिला के जरिए पेमेंट करते हैं तो आपसे सिस्टम कुकीज इनेबल करने को कहता है। बगैर इसके आप पेमेंट कर भी नहीं सकते। जब आप कुकीज इनेबल करते हैं तो आपकी डिटेल कोडिंग की भाषा में ब्राउजर के सर्वर पर सेव हो जाती है।

अगर आप ट्रांजेक्शन के बाद कुकीज डिलीट नहीं करते हैं तो इंटरनेशनल हैकर्स के लिए आपकी डिटेल को रीड करना आसान हो जाता है। इसलिए ब्राउजर के जरिए जब भी पेमेंट करें ब्राउजर की सेटिंग में जाकर कुकीज डिलीट करना न भूलें।

फ्रॉड के शिकार होने पर क्या करें

RBI की 2017-18 की गाइडलाइन के मुताबिक, धोखाधड़ी की सूचना दर्ज कराने के बाद ट्रांजेक्शन की पूरी जिम्मेदारी बैंक पर होती है, यदि तय प्रक्रिया के मुताबिक संबंधित बैंक को सूचित नहीं किया गया तो जिम्मेदारी उपभोक्ता की होती है। इस स्थिति में बैंक पर रिफंड करने की कानूनी बाध्यता लागू नहीं होती।

धोखाधड़ी के शिकार होने पर अपने बैंक के संबंधित अधिकारी को तुरंत सूचित करें। इसके अलावा कस्टमर केयर सेंटर पर सूचना दर्ज कराएं और दर्ज सूचना का नंबर सुरक्षित रखें, ताकि बैंक आपके पैसे आपको रिफंड कर सके।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular