Saturday, June 15, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाCG: सरकार बदली तो CM की गाड़ियों का नंबर भी चेंज... मुख्यमंत्री...

CG: सरकार बदली तो CM की गाड़ियों का नंबर भी चेंज… मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय के काफिले की SUV से हटा बघेल का लकी नंबर BB-0023

रायपुर: छत्तीसगढ़ के नए मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय के काफिले की गाड़ियों का नंबर बदल गया है। काले रंग की ये SUV गाड़ियां सड़क पर पूरी धाक जमाते हुए निकलती हैं। अब तक इन गाड़ियों में पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सवारी करते थे। 23 अगस्त 2023 को कांग्रेस सरकार ने इन गाड़ियों को परचेज किया था। मौजूदा सरकार में गाड़ियां वहीं हैं, लेकिन इनमें एक बदलाव किया गया है।

इन गाड़ियों में दर्ज भूपेश बघेल के लकी नंबर को हटा दिया गया है। बघेल जब इन SUV में सवारी करते थे तब इनका नंबर था CG 02 BB 0023। ये नंबर BB और 0023 की वजह से चर्चा में आ गया था। सुरक्षा वजहों से इसे बदल दिया गया है। फिलहाल जो नंबर मुख्यमंत्री के लिए अलॉट किया गया है वो पुलिस कैटेगरी का है।

मुख्यमंत्री की गाड़ी के लिए अलॉट नंबर पुलिस कैटेगरी का है।

मुख्यमंत्री की गाड़ी के लिए अलॉट नंबर पुलिस कैटेगरी का है।

बघेल के जन्मदिन पर आई थी नई गाड़ियां
कांग्रेस शासन काल में मुख्यमंत्री रहे भूपेश बघेल के जन्मदिन 23 अगस्त के दिन उनके काफिले में काली फॉर्च्यूनर शामिल की गई थीं। गाड़ियों के नंबर प्लेट पर BB 0023 लिखा था। समर्थकों ने BB का मतलब भूपेश बघेल से निकाला, 23 उनकी डेट ऑफ बर्थ है, और 2023 में विधानसभा चुनाव भी होने जा रहे थे।

23 अगस्त को बघेल के जन्मदिन पर काफिले में ब्लैक फॉर्च्यूनर शामिल की गई थीं।

23 अगस्त को बघेल के जन्मदिन पर काफिले में ब्लैक फॉर्च्यूनर शामिल की गई थीं।

भूपेश बघेल को 0023 नंबर बेहद पसंद

भूपेश बघेल समर्थक बताते हैं- पूर्व मुख्यमंत्री को यह नंबर बेहद पसंद है। इससे पहले जब भूपेश कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष थे तो उनके पास एक स्कॉर्पियो थी, उसका नंबर भी 0023 था। इसके बाद एक दूसरी गाड़ी का नंबर भी उन्होंने 0023 ही रखा और बाद में सरकारी काफिले में भी जो गाड़ी शामिल की गई, उसका भी नंबर 0023 ही रखा गया था।

पुराने नंबर के साथ पहुंची थी गाड़ी
10 दिसंबर को जब विष्णु देव साय को विधायक दल का नेता चुना गया, तब 7 से 8 गाड़ियां बीजेपी कार्यालय पहुंची थीं। तब इनमें भूपेश बघेल का पसंदीदा नंबर ही दर्ज था। शपथ ग्रहण के बाद नंबरों में बदलाव कर दिया गया। जब मुख्यमंत्री ने पहली प्रेस कॉन्फ्रेंस ली तो काफिले की गाड़ियों में नया नंबर दिखा।

CM वाली कार की खासियत
सुरक्षा वजहों से इन गाड़ियों को खासतौर पर तैयार किया गया है। फॉर्च्यूनर मॉडल की ये गाड़ियां पंजाब में कस्टमाइज की गई हैं। इनमें बुलेट प्रूफ शीट्स लगाई गई हैं। गाड़ियों में कम्युनिकेशन और नेविगेशन सिस्टम भी होता है। काफिले में एक जैसी गाड़ियों में मुख्यमंत्री कड़े सुरक्षा घेरे रहते हैं। शून्य से 100 तक की स्पीड यह SUV चंद सेकेंड में ही पकड़ लेती है।

रमन सिंह के कार्यकाल में आई थी SUV
लगातार तीन बार मुख्यमंत्री रहे डॉ रमन सिंह 2018 में चौथी बार मुख्यमंत्री बनने का सपना संजोए चुनावी अभियान में लगे हुए थे। चुनाव से कुछ महीने पहले ही मित्सुबिशी ब्रांड की पजेरो SUV मुख्यमंत्री के काफिले में शामिल की गई। इससे पहले डॉ रमन सिंह टाटा सफारी में सफर करते थे।

रमन सिंह के वक्त आई गाड़ियां।

रमन सिंह के वक्त आई गाड़ियां।

रमन सिंह के लिए आई नई SUV का नंबर था 0004। मीडिया में इस बात की चर्चा थी की चौथी बार मुख्यमंत्री बनने के लिए उन्होंने लकी नंबर को अपनी काफिले की गाड़ियों में अंकित कराया है। 1 लाख किलोमीटर चलने के बाद इन गाड़ियों को ब्लैक फॉर्च्यूनर से रिप्लेस कर दिया गया है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular