Saturday, May 25, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाछत्तीसगढ़: रायपुर में बच्चा चोरी का हल्ला.. 10 बच्चे लेकर घूम रही...

छत्तीसगढ़: रायपुर में बच्चा चोरी का हल्ला.. 10 बच्चे लेकर घूम रही थी महिला, लोग पकड़कर ले गए थाने, SSP ने जारी किया अलर्ट

रायपुर: छत्तीसगढ़ के कई हिस्सों से बच्चा चोर गिराेह सक्रिय होने की खबर आ रही है। दो दिन पहले भिलाई में इसी शक में भीड़ ने साधुओं पर जानलेवा हमला किया। अब ये बवाल रायपुर पहुंच चुका है। शुक्रवार की दोपहर गोलबाजार थाने के बाहर गहमा-गहमी दिखी। पता चला कि यहां एक महिला को भीड़ बच्चा चोर बताकर ले आई है। रायपुर के SSP प्रशांत अग्रवाल ने सभी थानों को चौकन्ना रहने का अलर्ट दिया है। इस तरह की अफवाहों के बारे में भी उन्होंने जानकारी दी है।

जानकारी के मुताबिक एक महिला कुछ बच्चों को लेकर बाजार में घूम रही थी। लोगों को शक हुआ तो महिला को घेर लिया। महिला के साथ दिख रहे बच्चें महिला से मेल नहीं खा रहे थे। बाजार में मौजूद लोगों को लगा कि ये उसकी रिश्तेदार तो नहीं हो सकती, महिला को भीड़ ने पकड़ लिया। बाजार में हंगामा मचा, फौरन पुलिस को खबर दी गई, पुलिस महिला को बच्चों समेत थाने लेकर आई।

बाल संरक्षण गृह से जुड़ गया मामला
मीडिया को दी जानकारी में गोलबाजार थाने के प्रभारी सुदर्शन ध्रुव ने बताया कि पुलिस को सूचना मिली कि एक महिला 10 से 12 बच्चों को साथ लेकर कहीं जा रही है । भीड़ ने बच्चा चोरी के संदेह पर उसे घेरा गया था। महिला को थाने लाकर पूछताछ की गई तो महिला ने एसओएस का कार्ड दिखाया और बताया कि वह माना से बच्चों को कपड़े खरीदारी करने के लिए लेकर आई थीं। एसओएस माना के उच्च अधिकारियों को बुलाकर के थाने में जानकारी ली जा रही है।

ऐसे सीएम की तस्वीर लगाकर मैसेज वायरल किए जा रहे।

ऐसे सीएम की तस्वीर लगाकर मैसेज वायरल किए जा रहे।

CM की फोटो के साथ वायरल हो रहा मैसेज
कुछ लोगों की तस्वीर लगाकर एक पोस्टर वायरल किया जा रहा है। मैसेज में दावा किया जा रहा है कि वो लोग हैं जो छत्तीसगढ़ में बच्चा चोरी करने आए हैं। साथ में CM की फोटो लगाकर इस मैसेज को सरकारी टच देने की कोशिश की गई है। रायपुर के SSP प्रशांत अग्रवाल ने इस तरह के मैसेज को फर्जी बताया है। उन्होंने कहा है कि ऐसा कोई मैसेज जारी नहीं किया गया है। ना ही प्रदेश में इस तरह के किसी गिरोह के होने की जानकारी है। मैसेज वायरल करने वालों के खिालाफ पुलिस केस दर्ज कर रही है।

जिन्हें पीट रहे वो कौन
प्रदेश के अलग-अलग जगहों पर मारपीट की घटनाएं हुई हैं। पुलिस से सामने आई जानकारी के मुताबिक कई जगहों पर बाहर के प्रदेशों से भिखारी, बंजारे और साधू के वेष में रहने वाले लोग आए हैं। ये ऐसे मौकों पर अलग-अलग जगह जाकर गुजर बसर करते हैं। भीड़ का यही शिकार बन रहे हैं।

इसे पुलिस ने फेक बताया है।

इसे पुलिस ने फेक बताया है।

पुलिस को दें जानकारी
SSP प्रशांत अग्रवाल ने बताया कि बच्चा चोर गिरोह घूम रहा है ऐसी बात लिखकर कुछ पॉम्पलेट भी व्हाट्सएप ग्रुप में सर्कुलेट हो रहे हैं जिससे पुलिस की ओर से जारी करना बताया जा रहा है जबकि ऐसा नहीं है। दुर्ग में इसको लेकर एक मामला दर्ज हुआ है जिसमें आरोपी गिरफ्तार है। पुलिस ने लोगों से इस तरह के अफवाहों पर भरोसा ना करने की अपील की है। यदि कहीं किसी नागरिक को किसी पर संदेह होता है तो किसी प्रकार की मारपीट ना करें बल्कि पुलिस को खबर करें, जिसकी जांच तत्काल की जाएगी।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular