Wednesday, April 24, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाछत्तीसगढ़: गाय काटकर निकाल रहे थे मांस.. लोगों ने कपड़े उतरवाकर आरोपियों...

छत्तीसगढ़: गाय काटकर निकाल रहे थे मांस.. लोगों ने कपड़े उतरवाकर आरोपियों का निकाला जुलूस, 33 किलो गोमांस के साथ 2 गिरफ्तार

छत्तीसगढ़: बिलासपुर में बुधवार को गाय को काटकर गोमांस ले जाने वाले दो लोगों को पुलिस ने पकड़ा है। दरअसल, मोपेड सवार लोग ग्रामीण गोमांस लेकर जा रहे थे, जिन्हें लोगों ने पकड़ लिया और जमकर हंगामा मचाया।

गुस्साए लोगों ने गोमांस काटने वालों का गांव में जुलूस भी निकाला। इस घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस की टीम गांव पहुंच गई। दो ग्रामीणों के खिलाफ पुलिस ने केस दर्ज किया है। मामला चकरभाठा थाना क्षेत्र का है।

चकरभाठा के वार्ड क्रमांक चार में रहने वाले कुछ युवकों को पता चला कि रहंगी में हाईकोर्ट जज कॉलोनी के पीछे गाय को काट कर मांस निकाला जा रहा है। इसकी जानकारी मिलते ही युवक वहां पहुंच गए। इस दौरान मोपेड सवार दो लोग बोरी में मांस लेकर जा रहे थे, जिन्हें युवकों ने पकड़ लिया। पूछताछ में पता चला कि रहंगी निवासी नरसिंह रोहिदास (50) व मुढ़ीपार निवासी रामनिवासी मेहर(52) गोमांस काटकर बोरी में भरकर ले जा रहे थे।

मोपेड में गोमांस ले जाते लोगों ने पकड़ा ।

मोपेड में गोमांस ले जाते लोगों ने पकड़ा ।

हंगामे के बाद पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

हंगामे के बाद पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

दोनों को पकड़कर गांव ले गए युवक और निकाला जुलूस
गोमांस को काटकर बोरी में भरकर ले जाने वाले दोनों ग्रामीणों को युवक पकड़कर गांव ले गए। गांव में उनकी हरकतों को देखकर जमकर हंगामा हुआ। नाराज ग्रामीणों की भीड़ ने उनका जुलूस निकाला। इधर, गांव में बवाल मचने की जानकारी मिलते ही चकरभाठा पुलिस भी वहां पहुंच गई। इसके बाद पुलिस दोनों ग्रामीण को पकड़कर थाने ले गई।

दोनों आरोपियों के कपड़े उतरवाकर सड़क पर घुमाया।

दोनों आरोपियों के कपड़े उतरवाकर सड़क पर घुमाया।

आरोपियों का निकाला गया जुलूस।

आरोपियों का निकाला गया जुलूस।

केस दर्ज कर किया गिरफ्तार
पुलिस ने ग्रामीणों की भीड़ को समझाइश देकर शांत कराया और वैधानिक कार्रवाई करने का भरोसा दिलाया। गांव के सुमित नायक ने थाने में केस दर्ज कराया। इस दौरान पुलिस ने भी दोनों ग्रामीणों से पूछताछ की, तब उन्होंने गो मांस काटने की जानकारी दी। पुलिस ने उनके पास से जब्त गोमांस को वेटनरी डॉक्टर से परीक्षण कराया। वहीं, उनके खिलाफ केस दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

घटना का पता चलते ही जुट गई लोगों की भीड़।

घटना का पता चलते ही जुट गई लोगों की भीड़।

गाय के मुंह पर बोरी,चारों पैर रस्सी से बांध लाठी-डंडों से पीटा, फिर नदी में फेंका था

हाल ही में जांजगीर-चांपा में कुछ युवकों ने एक गाय से क्रूरता की हद पार कर दी थी। युवकों ने गाय का मुंह को बोरी से बांध दिया। इसके बाद लाठी-डंडों से बुरी तरह पीटा था। जब गाय अधमरी हालत में हो गई तो उसके चारों पैर रस्सी से बांधकर जिंदा ही नदी के तेज बहाव में फेंक दिया। खास बात यह है कि युवकों ने इसका वीडियो बनाया और खुद वायरल भी कर दिया। वीडियो सामने आने के बाद पूरे मामले में 5 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया। ये घटना हसौद थाना के कारीभांवर गांव की थी।

गाय के चारों पैर भी रस्सी से बांध दिए।

गाय के चारों पैर भी रस्सी से बांध दिए।

वीडियो में 10-12 युवक सोन नदी के पुल पर बैठी एक गाय को बेरहमी से पीटते और नदी में फेंकते दिखाई दे रहे हैं। आरोपियों ने पहले गाय के मुुंह पर बोरी बांध दी। फिर उसे लाठी-डंडों से बुरी तरह पीटा। इस दौरान गाय दर्द से तड़पती रही, लेकिन युवक उसको पीटने से नहीं रोके। गाय जब अधमरी होकर गिर गई तो युवकों ने उसके चारों पैर रस्सी से बांध दिए और उठाकर नदी में फेंक दिया। वीडियो लालमाटी गांव का गुरुवार सुबह का बताया जा रहा है।

गाय को आरोपियों ने बुरी से तरह से डंडे से पीटा।

गाय को आरोपियों ने बुरी से तरह से डंडे से पीटा।

आरोपियों ने खुद वीडियो वायरल किया

बताया जा रहा है कि इस दौरान कुछ अन्य लोग भी वहां मौजूद थे, लेकिन गाय पर युवकों की क्रूरता को देख उनकी हिम्मत रोकने की नहीं हुई। आरोपियों ने पूरी घटना का वीडियो भी मोबाइल से बनाया है। गाय के जिंदा ही नदी में बहने और बाद में मौत होने की बात भी कही जा रही है। हालांकि गाय का शव बरामद नहीं किया जा सका है। बताया जा रहा है कि नदी का बहाव काफी तेज था, ऐसे में शव मिलने की संभावना काफी कम है।

थाना प्रभारी को ज्ञापन सौंपते भाजयुमो कार्यकर्ता।

थाना प्रभारी को ज्ञापन सौंपते भाजयुमो कार्यकर्ता।

क्रूरता करने वाले 5 आरोपी गिरफ्तार

हसौद पुलिस ने पूरे मामले 5 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों का नाम कमल किशोर खूंटे, राहुल खूंटे, किरण जाटवर, कुलदीप टंडन, ऋषि डहरे बताया जा रहा है। घटना में शामिल 7 आरोपी अब भी फरार हैं। सभी आरोपियों के खिलाफ हसौद पुलिस ने धारा 429 , पशु संरक्षण की धारा 410 एवं पशु क्रूरता अधिनियम की धारा 11 के तहत कार्रवाई की है।

भाजयुमो ने थाना प्रभारी के नाम सौंपा ज्ञापन।

भाजयुमो ने थाना प्रभारी के नाम सौंपा ज्ञापन।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular