Monday, April 15, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाछत्तीसगढ़: जांजगीर-चांपा में 25 लाख रुपए की धोखाधड़ी.. नेशनल हाईवे सड़क निर्माण...

छत्तीसगढ़: जांजगीर-चांपा में 25 लाख रुपए की धोखाधड़ी.. नेशनल हाईवे सड़क निर्माण के दौरान जमीन का ज्यादा मुआवजा दिलाने के नाम पर ठगी; दोनों आरोपी गिरफ्तार

छत्तीसगढ़: जांजगीर-चांपा जिले के बाराद्वार में 25 लाख रुपए की धोखाधड़ी करने वाले दो आरोपियों को पुलिस ने मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों ने नेशनल हाईवे- 49 पर सड़क निर्माण के दौरान जमीन का मुआवजा दिलाने के नाम पर 25 लाख रुपए की धोखाधड़ी की थी। मामला सारागांव थाना क्षेत्र जांजगीर का है। आरोपी लालचंद देवांगन चांपा और अमरनाथ खांडे कोरबा के नवापारा (उरगा थाना क्षेत्र) का रहने वाला है।

बाराद्वार थाना प्रभारी सुरेश ध्रुव ने बताया कि पीड़ित नटवर लाल अग्रवाल (64 वर्ष) ने शिकायत दर्ज कराई थी कि साल 2017-2018 में राष्ट्रीय राजमार्ग- 49 के निर्माण के समय उनकी 2.52 एकड़ जमीन में से 45 डिसमिल डायवर्टेड भूमि थी। जिसका अधिक मुआवजा दिलाने के नाम पर आरोपी लालचंद देवांगन (34 वर्ष) और अमरनाथ खांडे (33 वर्ष) ने 14 अक्टूबर 2017 को उनसे 25 लाख रुपए लिए थे। जब उसे अधिक मुआवजा नहीं मिला और खुद के ठगे जाने का अहसास हुआ, तो उन्होंने तुरंत आरोपियों से अपने 25 लाख रुपए मांगे, जिस पर लालचंद और अमरनाथ रुपए देने में टालमटोल करने लगे।

दोनों आरोपियों को भेजा गया जेल।

दोनों आरोपियों को भेजा गया जेल।

4 सालों तक पीड़ित को रुपयों के लिए परेशान करते रहे आरोपी

आरोपी लालचंद और अमरनाथ पीड़ित नटवर लाल को रुपए देने के नाम पर 4 सालों तक घुमाते रहे। इससे परेशान होकर नटवर लाल अग्रवाल ने 11 अक्टूबर 2022 मंगलवार को बाराद्वार थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस ने पीड़ित की शिकायत पर आरोपियों के खिलाफ IPC की धारा 420 और 34 के तहत केस दर्ज कर लिया। पुलिस ने मंगलवार को ही दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी लालचंद की गिरफ्तारी उसके घर चांपा (देवांगन मोहल्ला वार्ड क्रमांक-8) से हुई।

25 लाख रुपए की धोखाधड़ी को आरोपियों ने दिया था अंजाम।

25 लाख रुपए की धोखाधड़ी को आरोपियों ने दिया था अंजाम।

न्यायिक हिरासत में जेल भेजे गए दोनों आरोपी

वहीं दूसरे आरोपी अमरनाथ खांडे की गिरफ्तारी के लिए बाराद्वार थाना पुलिस कोरबा गई हुई थी। वहां नवापारा से गिरफ्तार कर आरोपी को जांजगीर-चांपा लाया गया। इसके बाद दोनों आरोपियों को कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उन्हें न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular