Monday, April 15, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाछत्तीसगढ़: खैरागढ़- दिवाली पर्व में मणिकंचन केंद्र की दीदियों द्वारा तैयार कलात्मक...

छत्तीसगढ़: खैरागढ़- दिवाली पर्व में मणिकंचन केंद्र की दीदियों द्वारा तैयार कलात्मक और आकर्षक गोबर के दिया से जगमगाएगा घर…

  • स्वच्छता दीदियों ने कलेक्टोरेट परिसर और नगर पालिका में दिया विक्रय के लिए लगाए स्टॉल
  • कलेक्टर ने गोबर का दिया खरीद कर समूह की महिलाओं को किया प्रोत्साहित

खैरागढ़: नवगठित जिला खैरागढ़-छुईखदान-गंडई में मणिकंचन केंद्र की स्वच्छता दीदियों द्वारा तैयार कलात्मक, आकर्षक, रंग बिरंगे गोबर का दिया और वेस्ट सामग्री से तैयार कैंडल से दीपावली में घर जगमगा उठेगा। इसके साथ ही उनके द्वारा तैयार किए गए अगरबत्ती और धूप की खुशबू से घर चारों तरफ महक उठेंगे।

खैरागढ़ के मणिकांचन केंद्र धरमपुरा और टिकरापारा की स्वच्छता दीदियों द्वारा दिवाली के लिए विभिन्न प्रकार की सामग्री का निर्माण किया जा रहा है। जिसके विक्रय के लिए कलेक्टोरेट परिसर और नगर पालिका में स्टाल लगाए गए हैं। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की पहल पर महिलाओं के आर्थिक विकास और रोजगार उपलब्ध कराने के लिए लगातार कार्य किया जा रहा है। इसके परिणाम स्वरूप जिला प्रशासन द्वारा महिला समूह को कौशल विकास और प्रशिक्षण प्रदान कर आर्थिक स्थिति को मजबूत बनाने का प्रयास कर रही है। अब यह महिलाएं दिवाली के लिए वेस्ट सामान से दिवाली में उपयोग होने वाली सामग्री तैयार कर रही हैं। बोतल से कैंडल का निर्माण, अगरबत्ती, धूप और दिया का निर्माण कर रही हैं। कलेक्टर डॉ. जगदीश कुमार सोनकर ने कलेक्टोरेट परिसर में महिलाओं द्वारा लगाए गए स्टॉल से गोबर का दिया खरीदा। उन्होने सभी अधिकारी और कर्मचारी को भी समूह की महिलाओं द्वारा बनाए गए दिया खरीद कर प्रोत्साहित करने कहा।

मणिकंचन केंद्र धरमपुरा की जय श्री ताम्रकार और टिकरापारा की उर्मिला यादव ने बताया कि मणिकांचन केंद्र में 50 महिलाएं काम कर रही है। यहां वेस्ट सामान से लैंप जैसे अन्य सामग्री तैयार किए हैं। उन्होंने बताया कि पिछले वर्ष दिल्ली से 5 हजार दिया के लिए आर्डर मिले थे। इस वर्ष भी दिए के विक्रय के लिए कलेक्टोरेट परिसर और नगर पालिका परिसर में स्टॉल लगाया गया है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular