Wednesday, May 22, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाकोरबा: BALCO की प्रतिबद्धता से 3.3 लाख लोगों को मिला स्वास्थ्य लाभ

कोरबा: BALCO की प्रतिबद्धता से 3.3 लाख लोगों को मिला स्वास्थ्य लाभ

कोरबा/बालकोनगर (BCC NEWS 24): वेदांता समूह की कंपनी भारत एल्यूमिनियम कंपनी लिमिटेड (बालको) ने विश्व स्वास्थ्य दिवस के अवसर पर वित्त वर्ष 2024 में अपने सामुदायिक स्वास्थ्य परियोजनाओं और अस्पताल के माध्यम से लगभग 3.3 लाख लोगों को स्वास्थ्य लाभ पहुंचाया। कंपनी उच्च गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सेवाओं के माध्यम से समुदाय की सेवा कर रहा है। निवारक स्वास्थ्य देखभाल को अपनाने के लिए प्रोत्साहित करते हुए समुदाय को उपचारात्मक स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान किया है। इस वर्ष की थीम “मेरा स्वास्थ्य, मेरा अधिकार” को सार्थक करते हुए कंपनी ने स्वास्थ्य क्षेत्र में महत्वपूर्ण योगदान दिया। 

कंपनी ने 34 बुजुर्गों एवं विशेष रूप से सक्षम लोगों को सहायक उपकरण (वॉकिंग स्टिक, ट्राइपॉड, बैसाखी, वॉकर और व्हीलचेयर) वितरित करके समावेशी, सहायक और न्यायसंगत समुदाय बनाने की दिशा में एक सहायक उपकरण वितरण अभियान शुरू किया। बालको ने भदरापारा एवं बेलाकछार में दो दिवसीय मल्टी स्पेशलिटी मेगा हेल्थ कैंप का आयोजन किया। कंपनी के द्वारा समुदाय तक प्राथमिक स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करने के उद्देश्य से किए गए मेगा शिविर में विभिन्न रोगों का उपचार एवं निशुल्क दवा दी गई। विशेषज्ञ सेवाओं में दंत चिकित्सक, त्वचा विशेषज्ञ, हड्डी रोग विशेषज्ञ, स्त्री रोग विशेषज्ञ, फिजियोथेरेपिस्ट और सामान्य चिकित्सक के साथ मधुमेह, रक्तचाप के लिए नैदानिक परीक्षण आयोजित किए गए। समुदाय के लोगों को निःशुल्क चिकित्सा उपचार के माध्यम से प्राथमिक और विशिष्ट स्वास्थ्य सेवाएँ प्रदान की गईं। शिविर से लगभग 479 नागरिक लाभान्वित हुए।

कंपनी के स्वास्थ्य एवं कल्याण प्रतिबद्धता को आगे बढ़ाते हुए मोबाइल हेल्थ वैन (एमएचवी) ‘उपचार आपके द्वार’ थीम पर समुदाय को प्राथमिक स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करता है। परामर्श सेवाओं के माध्यम से वैन 47 से अधिक समुदाय को स्वास्थ्य सेवा प्रदान कर रहा है। जरूरतमंदों को सामान्य बीमारियों के लिए निःशुल्क दवा एवं परामर्श और चिकित्सा सुविधाओं के साथ मुधमेह, उच्च रक्तचाप सहित अन्य सामान्य बीमारियों की जांच की सुविधा इकाई में मौजूद है। इस साल मोबाइल हेल्थ वैन से 15599 लोगों को लाभ मिला। बालको की आरोग्य परियोजना स्वास्थ्य देखभाल और समुदाय की सेवा करने पर केंद्रित है। कंपनी समुदाय के लिए स्वास्थ्य देखभाल सुविधाओं को बढ़ाने के उद्देश्य से ग्रामीण स्वास्थ्य पोस्टों के माध्यम से निवारक और उपचारात्मक दोनों उपायों को शामिल कर स्वास्थ्य सेवाएँ प्रदान करती है। यह परियोजना कुपोषण और एनीमिया से निपटने पर विशेष ध्यान देने के साथ मातृ एवं शिशु देखभाल, एचआईवी, टीबी और नशा की लत से मुक्ति पर जागरूकता अभियान भी चलाती है। वित्तीय वर्ष 2024 में आरोग्य परियोजना से लगभग 49963 लोग लाभान्वित हुए हैं।

कंपनी की नई किरण परियोजना माहवारी स्वास्थ्य प्रबंधन एवं स्वच्छता के बारे में जागरूकता पैदा करती है। स्वच्छता उत्पादों के निर्माण को बढ़ावा देने के साथ ही माहवारी स्वास्थ्य के स्थानीय चैंपियन विकसित किये हैं। अब तक इस परियोजना ने 57386 से अधिक समुदाय के सदस्यों को माहवारी के प्रति संवेदनशील बनाया है। कंपनी अपने नंद घर के माध्यम से महिला एवं बाल विकास के अत्याधुनिक केंद्र के रूप में कार्य करती हैं। छोटे बच्चों, गर्भवती महिलाओं और नई माताओं को गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य देखभाल और उचित पोषण प्रदान करता है।

बालको अस्पताल 120 बिस्तर और विशेषज्ञों की एक कुशल चिकित्सा टीम प्रदान करता है। इसमें समुदाय की स्वास्थ्य संबंधी आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए मॉड्यूलर ओटी, अत्याधुनिक सीटी स्कैन एवं एक्स-रे कक्ष और आपातकालीन और महत्वपूर्ण चिकित्सका देखभाल इकाई सहित अत्याधुनिक सुविधाएं हैं। आईएसओ 9001-2015 प्रमाणित सुविधा के रूप में अस्पताल बेहतर चिकित्सक गुणवत्ता प्रबंधन मुहैया करता है। वित्तीय वर्ष 2024 में अस्पताल ने 183985 लोगों को स्वास्थ्य सेवाएं दीं।

बालको मेडिकल सेंटर (बीएमसी) 170 बिस्तर से युक्त अत्याधुनिक कैंसर अस्पताल नया रायपुर में स्थित है। यह वेदांता मेडिकल रिसर्च फाउंडेशन (वीएमआरएफ) की प्रमुख पहल है, जो वेदांता रिसोर्सेज और भारत एल्यूमिनियम कंपनी लिमिटेड (बालको) का एक गैर-लाभकारी संगठन है। बीएमसी भारत के कैंसर क्षेत्र में एक राष्ट्रीय पहचान के रूप में उभरा है। अस्पताल में चिकित्सा, शल्य चिकित्सा, विकिरण, हेमेटोलॉजिकल, बीएमटी और उपशामक देखभाल सेवाएं प्रदान कर रही है। वित्तीय वर्ष 2024 में बालको मेडिकल सेंटर ने 11375 लोगों का इलाज किया।

कंपनी द्वारा संचालित बालको अस्पताल से लगभग 1.8 लाख लोग लाभान्वित हो रहे हैं। इसके साथ ही बालको अपने सामुदायिक विकास कार्यक्रमों के माध्यम से छत्तीसगढ़ के 4 जिलों कोरबा, कवर्धा, सरगुजा और रायपुर सहित 123 गांवों में सालाना 1.5 लाख से अधिक लोगों तक लाभ पहुंचा रहा है।

Muritram Kashyap
Muritram Kashyap
(Bureau Chief, Korba)
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular