Tuesday, July 23, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाकोरबा: चलती मालगाड़ी के 4 पहिए पटरी से उतरे... 800 मीटर तक...

कोरबा: चलती मालगाड़ी के 4 पहिए पटरी से उतरे… 800 मीटर तक घसीटते रहा डिब्बा, कपलिंग टूटने के बाद हादसा; SECL को बड़ा नुकसान

KORBA: कोरबा में चलती मालगाड़ी के एक डिब्बे के चार पहिए पटरी से उतर गए। इस घटना के बाद अफरा-तफरी मच गई। इसकी सूचना तत्काल रेलवे और एसईसीएल प्रबंधन को दी गई। जहां अधिकारी और कर्मचारी मौके पर पहुंचे और घटना की जानकारी ली। सुधार कार्य जारी है। एसईसीएल प्रबंधन को भारी नुकसान हुआ है।

बताया जा रहा है कि मालगाड़ी एसईसीएल जूनाडीह साइडिंग से कोयला लोड कर कोरबा के लिए रवाना हो रही थी, तभी कुचेना के पास यह हादसा हो गया। मालगाड़ी 800 मीटर तक दौड़ती रही, जहां डिब्बे की कपलिंग टूटने से मालगाड़ी का बेस हिस्सा अलग हो गया। डिब्बे अलग होकर काफी दूर तक घिसटते चले गई।

बेपटरी हुई मालगाड़ी।

बेपटरी हुई मालगाड़ी।

एसईसीएल को भारी नुकसान

मालगाड़ी के 10 नंबर डिब्बे से बाकी हिस्सा अलग हो गया। इस घटना में ट्रैक का एक बड़ा हिस्सा भी क्षतिग्रस्त हो गया है। इससे कोयला परिवहन प्रभावित हो गया। कहीं न कहीं एसईसीएल को भारी नुकसान हुआ है।​​​​​​

मालगाड़ी से अलग हुए डिब्बे।

मालगाड़ी से अलग हुए डिब्बे।

कोरबा आरपीएफ थाना प्रभारी आरएस चंद्रा ने बताया कि मामला जूनाडिह एस.ई.सी.एल. प्राइवेट साइडिंग की है। जहां कुचेना के पास घटना घटी है। पीछे के चारों पहिया डिरेल और पीछे के सभी 10 वैगन अलग हो गए हैं।

मालगाड़ी के चार पाहिए टूटकर अलग हुए।

मालगाड़ी के चार पाहिए टूटकर अलग हुए।

घटनास्थल पर क्षेत्रीय रेल प्रबंधक कोरबा, एईएन चांपा, वरि.अनु.अभि.(कैरेज एवं वॉगन) कोरबा, सीएसएम जूनाडिह, वरि.अनु.अभि.(रेलपथ) कोरबा एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे। कुलदीप कुमार, निरीक्षक रेसुब पोस्ट चांपा घटनास्थल पर पहुंचे।

इस घटना में कोई भी अपराधिक हस्तक्षेप का होना नहीं पाया गया। मामला जूनाडिह एस.ई.सी.एल. प्राइवेट साइडिंग की है, जिसकी देखरेख एवं सुरक्षा की जिम्मेदारी एसईसीएल साईडिंग प्रबंधन की है। संयुक्त निरीक्षण रिपोर्ट तैयार किया जाएगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular