Sunday, July 21, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाकोरबा: धान का बकाया बोनस पाकर किसानों के परिवार में आई खुशहाली...

कोरबा: धान का बकाया बोनस पाकर किसानों के परिवार में आई खुशहाली…

  • बिंझकोट के श्री लम्बोदर पटेल को मिली 05 लाख से अधिक की राशि
  • छुरी के श्री वरूण सिंह के खाते में भी आई 03 लाख से अधिक राशि
  • किसान हितैषी निर्णय के लिए प्रधानमंत्री श्री मोदी व मुख्यमंत्री श्री साय का जताया आभार

कोरबा (BCC NEWS 24): पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय श्री अटल बिहारी वाजपेयी के जन्म दिवस पर आयोजित सुशासन दिवस कार्यक्रम में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की गारंटी के तहत मुख्यमंत्री श्री विष्णुदेव साय द्वारा प्रदेश के किसानों को खरीफ विपणन वर्ष 2014-15 व 2015-16 के धान विक्रय का बकाया बोनस राशि उनके बैंक खाते में डीबीटी के माध्यम से अंतरित की गई है। दो साल के धान के बकाया बोनस राशि के अचानक मिलने पर किसान के चेहरे पर खुशी छा गई। बोनस राशि पाकर उत्साहित किसान इसके लिए देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी और प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री विष्णुदेव साय को धन्यवाद देते हुए आभार व्यक्त कर रहे हैं।

धान का बोनस मिलने के बाद अपनी खुशी जाहिर करते हुए कोरबा जिले के ग्राम बींझकोट के वयोवृद्ध किसान श्री लम्बोदर पटेल ने कहा कि उन्हें धान के बकाया बोनस के रूप में 5 लाख 81 हजार 400 रूपए मिले है। जैसे ही राशि उनके खाते के बोनस की राशि अंतरित हुई उनके खुशी का ठिकाना ही नहीं रहा। उन्होंने प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री श्री विष्णुदेव साय को इसके लिए धन्यवाद देते हुए कहा कि धान का बकाया बोनस प्राप्त होने से किसानों के परिवार में खुशहाली आ गई है। श्री लम्बोदर ने कहा कि उन्होंने कभी सोचा भी नहीं था कि बकाया धान बोनस की राशि उन्हें मिलेगी। लेकिन मोदी की गारंटी और मुख्यमंत्री श्री विष्णुदेव साय के किसान हितैषी निर्णय के फलस्वरूप बोनस के रूप में 05 लाख से अधिक राशि प्राप्त हुई है। उन्होंने बताया कि उनका भरा-पूरा संयुक्त परिवार है। उनके परिवार में तीन बेटे-बहू के साथ 5 नाती-पोते सहित कुल 13 सदस्य हैं। उनके नाती पोते उच्च शिक्षा हेतु मेडिकल व इंजीनियरिंग की तैयारी कर रहे है। उन्होंने कहा कि धान के बोनस राशि का उपयोग वे अपने नाती पोतों को उच्च शिक्षा दिलाने में करेंगे। जिससे वे उच्च शिक्षा प्राप्त कर अपने परिवार का नाम रौशन करें। उन्होंने कहा कि इस राशि का उपयोग वे साथ ही उन्नत खेती के लिए भी करेंगे।

इसी तरह छुरी के किसान वरूण सिंह को भी सुशासन दिवस के अवसर पर धान के बोनस के रूप में 03 लाख 69 हजार 600 रूपए मिले हैं। उन्होंने भी इस बात पर अपनी खुशी जताते हुए कहा कि उनकों भी उम्मीद नहीं थी कि उन्हें बकाया बोनस कभी मिल पाएगा। लेकिन प्रदेश में विष्णुदेव सरकार के आते ही अब उनके खाते में धान का लंबित बोनस आ गया है। इससे उन्हें बड़ी राहत मिली है। इस राशि का उपयोग से वे खेत में फसल की उत्पादन बढ़ाने के लिए आवश्यक संसाधनों की पूर्ति करने एवं उन्नत खाद-बीज खरीदने में करेंगे। उन्होंने कहा कि उनके द्वारा खरीफ फसल के साथ-साथ रबी फसल एवं मौसमी सब्जियों का उत्पादन भी किया जा रहा है। जिससे उनकी आय में और अधिक वृद्धि हो। इसके लिए उन्होंने राज्य शासन और प्रधानमंत्री का धन्यवाद ज्ञापित किया है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular