Saturday, March 2, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाकोरबा: गर्लफ्रेंड का अपहरण फिर हत्या... जंगल में दफनाई लाश, परिजनों से...

कोरबा: गर्लफ्रेंड का अपहरण फिर हत्या… जंगल में दफनाई लाश, परिजनों से मांगी 15 लाख फिरौती; शादी के लिए दबाव बनाया तो मार डाला

KORBA: कोरबा में एक युवक ने अपनी प्रेमिका की हत्या कर लाश को जंगल में दफन कर दिया। साथ ही लड़की के परिजनों को फोन कर 15 लाख की फिरौती भी मांगी। डरे-सहमे परिजन थाने पहुंचे और मामले की शिकायत दर्ज कराई। पुलिस लगातार छापेमारी कर रही थी, लेकिन आरोपी हाथ नहीं आ रहे थे। जब हत्यारे पूरी तरह पुलिस की जाल में फंस गए, तो कटघोरा कोर्ट में आकर सरेंडर कर दिया। पूरी वारदात बांगो थाना क्षेत्र की है।

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक संतोषी विश्वकर्मा (29) और सोनू (31) के बीच पिछले 5-6 साल से प्रेम प्रसंग चल रहा था। प्रेमिका शादी को लेकर दबाव बनाने लग गई थी, जिससे परेशान प्रेमी ने साजिश रची। प्रेमिका को अपने साथ पाली तानाखार इलाके में ले गया। जहां कुछ दिन उसके साथ रहा और जंगल में ले जाकर उसकी गला घोंटकर हत्या कर दी।

कोरबा पुलिस ने जंगल से लड़की की लाश बरामद की।

कोरबा पुलिस ने जंगल से लड़की की लाश बरामद की।

लड़की की लाश को जंगल में दफनाया

इस वारदात में 5 हत्यारे शामिल हैं। लाश को आरोपी अकेले दफन नहीं कर पा रहा था, तो पाली में रहने वाले दोस्त को फोन लगाकर बुलाया और उसने 3 और दोस्तों को बुलाया। पांचों आरोपियों ने मिलकर लड़की की लाश को जंगल में दफनाया और युवती के परिजनों से फिरौती की रकम 15 लाख की मांग करने लगे, लेकिन परिजन थाने पहुंचे गए और मामले की शिकायत की।

लाश को पोस्टमॉर्टम के लिए मर्च्युरी भेजा गया।

लाश को पोस्टमॉर्टम के लिए मर्च्युरी भेजा गया।

परिजन बोले- फोन पर बेटी को मारने की दी थी धमकी

पुलिस को परिजनों ने बताया था कि आरोपी ने कहा कि बेटी को जिंदा देखना चाहते हो तो 15 लाख रुपये चाहिए, जहां हम बोलेंगे वहां पहुंचा दो नहीं तो तुम्हारी बेटी को मार डालेंगे। परिजनों के मुताबिक लड़की सिलाई सीखने के बहाने निकली थी, जो दोबारा वापस नहीं आई। बस फिरौती को लेकर आरोपी का कॉल आया।

पुलिस ने आरोपियों के ठिकाने पर छापेमारी की

पुलिस मामले को गंभीरता से लेते हुए मोबाइल लोकेशन लगातार ट्रेस करने लगी। प्रेम प्रसंग के आधार पर सोनू का भी लोकेशन ट्रेस किया, तो लड़की और आरोपी का लोकेशन एक ही जगह दिख रहा था। इसके बाद पुलिस को शक हुआ। पुलिस ने आरोपियों के ठिकाने पर छापेमारी की, लेकिन आरोपी मिले नहीं। आरोपी छिपते रहे, जब आरोपियों को लगने लगा की वह नहीं बच पाएंगे, तो कटघोरा कोर्ट में आकर सरेंडर कर दिया।

हत्या में शामिल पांच आरोपियों ने कोर्ट में सरेंडर किया।

हत्या में शामिल पांच आरोपियों ने कोर्ट में सरेंडर किया।

पांचों आरोपियों को भेजा गया जेल

अधीक्षक जितेंद्र शुक्ला ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि आरोपियों ने संतोषी की डेड बॉडी को पाली के झरिया जंगल में दफनाया था। CDR की मदद से पुलिस ने हर एंगल से तफ्तीश की, जिसमें हत्या की जानकारी सामने आई। मुख्य आरोपी प्रेमी सोनू समेत पांचों आरोपियों को जेल भेज दिया है। आरोपियों में सोनू लाल साहू, संदीप भोई, विरेन्द्र भोई, सुरेन्द्र भोई और जीवा शामिल है।

  • Krishna Baloon
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular