Sunday, June 16, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाकोरबा: सहस्त्रबाहु के जयकारों के साथ जायसवाल समाज के सदस्यों ने राजस्व...

कोरबा: सहस्त्रबाहु के जयकारों के साथ जायसवाल समाज के सदस्यों ने राजस्व मंत्री का किया अभिनंदन…

कोरबा (BCC NEWS 24): कोरबा अंचल के जायसवाल समाज के लगभग 150 से अधिक सदस्यों ने राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल से हमारा समाज, हमारा अभिमान कार्यक्रम के तहत मुलाकात कर जायसवाल समाज के विकास और सामाजिक आयोजनों के लिए भवन प्रदान किए जाने के लिए साधुवाद देते हुए अभिनंदन किया। इस अवसर पर कोरबा जिला कांग्रेस कमेटी ग्रामीण अध्यक्ष सुरेन्द्र प्रताप जायसवाल ने बताया कि समाज के लिए आवंटित भूमि की उपलब्धता होते हुए भी धन के अभाव में भवन का निर्माण कराने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहे थे लेकिन राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने उत्साहवर्धन करते हुए कहा कि कार्य आरंभ करो धन की व्यवस्था हो जायेगी और बाद में उसके लिए उन्होंने 25 लाख रुपये की व्यवस्था करवाया जिससे जायसवाल समाज के नाम पर कल्चुरी भवन तैयार हो सका। इसी प्रकार इमलीडुग्गू में कोरबा शहर में प्रवेश के लिए बनवाए गए भव्य प्रवेश द्वार पर समाज के आराध्य देव सहस्त्रबाहु की भव्य प्रतिमा स्थापित करवाए जाने की मंशा की बात भी सुरेन्द्र प्रताप जायसवाल ने कही। समाज के मुखिया रामगोपाल डिक्सेना ने कहा कि राजस्व मंत्री के सहयोग से ही कोरबा का चहुमुंखी विकास हो पा रहा है। उन्होंने आगे बताया कि जो भी समस्याएं उनके संज्ञान में आती हैं, उसका समाधान करने का भरसक प्रयास उनके द्वारा किया जाता है। उन्होंने आगे कहा कि कोरबा के समग्र विकास के लिए आवश्यक है कि हमारे समाज की एकजुटता बनी रहे और हम सभी जयसिंह भैया को मजबूती प्रदान करें। राम प्रकाश जायसवाल ने समर्थन जाहिर करते हुए कहा कि समाज कर हर व्यक्ति जयसिंह अग्रवाल के साथ है। जगदीश प्रसाद डडसेना ने कहा कि जायसवाल समाज पर जयसिंह भैया की छत्रछाया है। इस अवसर पर अनुुज जायसवाल, प्रशांत महतो, गिरधर जायवाल, मनीष जायसवाल पुरूषोत्तम जायसवाल, विष्णु जायसवाल आदि ने अपने विचार व्यक्त करते हुए इस बात पर जोर दिया कि समाज का हर व्यक्ति जयसिंह अग्रवाल के साथ खड़ा है और अपेक्षा की गई कि आवश्यकतानुसार उनकी छत्रछाया समाज पर पूर्व की ही भांति बनी रहे।

इस अवसर पर राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने समाज के उपस्थित लोगों को सम्बोधित करते हुए कहा कि उनकी इच्छा है कि हर समाज के लोगों का विकास हो और इसके लिए उनसे जो भी सहयोग संभव हो सकेगा आगे भी अवश्य करेंगे। उन्होंने बताया कि कोरबा मेडिकल कॉलेज का नाम स्व. बिसाहूदास महंत के नाम पर तो भैसमा स्थित शासकी महाविद्यालय का नाम स्व. प्यारे लाल कंवर के नाम पर इस लिए रखवाया गया है कि समाज के उत्थान के लिए उनके योगदान को समाज सदैव याद रखे। इसी प्रकार उन्होंने आगे कहा कि अविभाजित मध्यप्रदेश में कोरबा अंचल के प्रथम विधायक व समूचे कोरबा क्षेत्र में गुरूजी के नाम से प्रसिद्ध रहे स्व. कृष्णा लाल जायसवाल के नाम पर कोरबा के प्रथम शासकीय विद्यालय का नाम रखा गया है जो इस बात का द्योतक है कि उन्होंने अपना सम्पूर्ण जीवन शिक्षा की अलख जगाने में बिता दिया। इस विद्यालय की शुरूआत कृष्णा गुरूजी ने ही किया था अतएव नए स्वरूप में बनाए गए राज्य के एक आदर्श हायर सेकेण्ड्री स्कूल का नाम आज स्व. कृष्णा लाल जायसवाल को ही समर्पित किया जा रहा है। राजस्व मंत्री ने अपने संबोधन में कहा कि समाज के सदस्यों को हर दृष्टि से अहमियत प्रदान की जाती है तभी तो आज जिला पंचायत के पूर्व उपाध्यक्ष अजय जायसवाल की पत्नी श्रीमती रीना अजय जायसवाल वर्तमान में कोरबा जिला पंचायत की उपाध्यक्ष हैं। इतना ही नहीं स्थानीय प्रशासन में भी जायसवाल समाज के कई सदस्य पार्षद के तौर पर समाज को लाभान्वित कर रहे हैं। राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने अपने उद्बोधन में बताया कि कन्या महाविद्यालय के पीछे के क्षेत्र में जायसवाल समाज का 

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular