Saturday, May 25, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबा: रामलला प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर जिले में आयोजित होंगे रामायण...

कोरबा: रामलला प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर जिले में आयोजित होंगे रामायण मानस गान एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम…

  • कलेक्टर ने अविद्युतीकृत स्कूल और आंगनबाड़ी में विद्युतीकरण के दिए निर्देश
  • राखड़ परिवहन में नियमों की अनदेखी पर होगी कार्यवाही, निगरानी करेंगे अधिकारी
  • कलेक्टर ने समय-सीमा की बैठक में की विभागीय कार्यों की समीक्षा

कोरबा (BCC NEWS 24): कलेक्टर श्री अजीत वसंत ने कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित समय सीमा की बैठक में विभागीय योजनाओं के कार्य प्रगति एवं विभागवार टीएल के लंबित प्रकरणों की समीक्षा की। उन्होंने मानस मण्डली द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम के आयोजन एवं गणतंत्र दिवस समारोह की तैयारी, धान खरीदी व भंडारण और उठाव, धान बोनस वितरण, पीएम जनमन योजना के प्रभावी क्रियान्वयन, राख का परिवहन, अतिक्रमण पर नियंत्रण सहित राजस्व प्रकरणों की समीक्षा करते हुए निर्देश दिए। बैठक में वनमण्डलाधिकारी कोरबा श्री अरविंद पीएम, कटघोरा वनमण्डलाधिकारी श्री निशांत कुमार,निगमायुक्त सुश्री प्रतिष्ठा ममगाई, प्रभारी सीईओ जिला पंचायत श्री प्रदीप साहू, अपर कलेक्टर श्री दिनेश नाग, सभी एसडीएम व अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

अयोध्या में 22 जनवरी को होने वाले श्रीराम लला प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम को लेकर कलेक्टर ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर जिले में वृहद रूप से भक्तिमय कार्यक्रमों का विकासखण्ड एवं जिला स्तर पर आयोजन होगा। उपरोक्त आयोजन की विस्तृत रूप रेखा के संबंध में जानकारी देते हुए उन्होंने अधिकारियों से कहा कि आमजनों एवं मानस मंडलियों के समन्वय और सहयोग से नगरीय निकायों एवं पंचायतों में रामायण मानस गायन कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। इस हेतु राज्य शासन द्वारा कार्यक्रम आयोजन के संदर्भ में दिशा निर्देश जारी किए गए हैं। जिले में पंजीकृत एवं क्रियाशील मानस मंडलियों को प्रोत्साहन स्वरूप 5000 रुपए की राशि प्रदान की जाएगी। उन्होंने पंचायत एवं नगरीय निकायों व जिला स्तर पर रामायण मानस गान कार्यक्रम आयोजन को लेकर सभी आवश्यक तैयारियां सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। वहीं गणतंत्र दिवस समारोह के मुख्य कार्यक्रम आयोजन की तैयारियों की समीक्षा करते हुए उन्होंने सभी अधिकारियों को सौपें गए कार्यों का जिम्मेदारी पूर्वक निर्वहन करने के निर्देश दिए। उन्होंने अधिकारियों से जिले में हो रही धान खरीदी, भंडारण व उठाव की जानकारी ली। कलेक्टर ने कहा कि किसानों को टोकन प्राप्त करने में किसी प्रकार की परेशानी नही होना चाहिए, अधिकारी इसका विशेष ध्यान रखें एवं टोकन प्रदान करने के साथ ही किसानों के धान का भौतिक सत्यापन भी करा लें। उन्होंने समितियों में भंडारित धान का समय पर उठाव कराने के निर्देश दिए। साथ ही जिले के संवेदनशील और अतिसंवेदनशील धान केंद्रों पर निगरानी बनाए रखने एवं अवैध धान के परिवहन और भंडारण पर भी लगातार कार्यवाही करने के निर्देश दिए। उन्होंने जिले में 2014-15 एवं 2015-16 का धान बोनस से वंचित किसानों का खाता तहसील मॉड्युल से यथाशीघ्र सत्यापित कराकर उन्हें लाभ पहुंचाने की बात कही। कलेक्टर ने कहा कि किसी भी विभाग में पेंशन संबंधी व अनुकम्पा नियुक्ति के प्रकरण लंबित नही होना चाहिए। उन्होंने सभी जनपद सीईओ को निर्देश दिए कि ग्राम पंचायतों में दीवार लेखन के माध्यम से कलेक्टर से आमजनों के मिलने के संबंध मंें जानकारी दी जाए, ताकि कलेक्ट्रेट आने वाले ग्रामीणों को किसी तरह की समस्या न हो।

कलेक्टर ने विशेष पिछड़ी जनजाति वर्ग के आर्थिक सामाजिक उत्थान के लिए संचालित पीएम जनमन योजना के तहत किए गए कार्याे की अद्यतन स्थिति की जानकारी लेते हुए पीवीटीजी के शिक्षित युवाओं का सर्वे कराने के निर्देश दिए। जिससे उन्हें रोजगार उपलब्ध कराकर आत्मनिर्भर बनाया जा सके। उन्होंने पीएम जनमन योजना के तहत पीवीटीजी वर्ग के वंचित व पात्र लोगों को शत प्रतिशत लाभान्वित करने के लिए कहा। कलेक्टर ने अविद्युतीकृत शासकीय संस्थानो का सर्वे पूर्ण कर सभी संस्थानो में जल्द विद्युतीकरण के निर्देश दिए। कलेक्टर ने भू-विस्थापितों की समस्याओं के निराकरण के लिए सम्बंधित उपक्रमों के अधिकारियों की बैठक आयोजित करने के निर्देश अपर कलेक्टर को दिए। राजस्व प्रकरणों एवं समय सीमा के लंबित प्रकरणों की विभागावार समीक्षा करते हुए कलेक्टर ने सभी लंबित प्रकरणों को जल्द से जल्द निराकृत करने के निर्देश दिए।

ईंट भट्ठों में काम करने वाले परिवार के बच्चों को उपलब्ध हो मूलभूत शिक्षा

कलेक्टर ने ईंट भट्ठों में कार्य करने वाले मजदूर परिवारों के बच्चों को बेसिक शिक्षा व स्वास्थ्य लाभ प्रदान करने के लिए ऐसे क्षेत्रों में विशेष आंगनबाड़ी-बालवाड़ी, स्कूल एवं स्वास्थ्य केंद्र संचालित करने सहित शौचालय एवं पेयजल की भी व्यवस्था करने के निर्देश दिए। इसके लिए अधिकारियों को ऐसे क्षेत्रों का सर्वे करने, जगह व बच्चों का चिन्हांकन कर प्रस्ताव प्रस्तुत करने कहा।

शासकीय भूमि से अतिक्रमण हटाने के निर्देश

कलेक्टर ने जनचौपाल में अतिक्रमण सम्बंधित मिल रही शिकायतों को ध्यान में रखते हुए सभी एसडीएम, तहसीलदार और निगमायुक्त को निर्देशित किया कि ग्रामीण व शहरी इलाकों में शासकीय भूमि पर किए जा रहे अतिक्रमण को शीघ्र हटाएं और आगे नए अतिक्रमण न हो इसके लिए अधिकारी गंभीरता से कार्यवाही करें।

नियमानुसार हो राखड़ का परिवहन

कलेक्टर ने बैठक में एसडीएम और जिला परिवहन अधिकारी को निर्देशित किया  कि राखड़  परिवहन में लगे सभी वाहनों में अनिवार्य रूप से नियमों का पालन सुनिश्चित हो और अधिकारी नियमित रूप से इसकी निगरानी करें। वाहनों से राख परिवहन के दौरान तिरपाल पूरी तरह से ढंके होने चाहिए। खुले में किसी भी स्थान पर राख की डंपिंग नहीं होनी चाहिए। कलेक्टर ने कहा कि इसमें किसी भी तरह से नियमों के उल्लंघन पर कार्यवाही सुनिश्चित की जाए।

Muritram Kashyap
Muritram Kashyap
(Bureau Chief, Korba)
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular