Saturday, May 18, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाकोरबा: आंदोलन के बहाने भाजपाइयों ने किया जनता को गुमराह - जिला...

कोरबा: आंदोलन के बहाने भाजपाइयों ने किया जनता को गुमराह – जिला कांग्रेस कमेटी

कोरबा (BCC NEWS 24): जिला कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष मुकेश राठौर, महामंत्री लक्ष्मी देवांगन व एल्डरमैन रामगोपाल यादव ने घंटाघर में भाजपा द्वारा किये गए आंदोलन को जनता को गुमराह करने का प्रोपेगेंडा करार दिया है। कोरबा विधानसभा में प्रत्याशी की घोषणा होने के बाद भाजपा ने घंटाघर ओपन थिएटर में गरीबों को पट्टा दिलवाने का  झूठा आश्वासन देकर सभा का आयोजन किया। इस दौरान लोगों से आवेदन भी भरवाया गया। इतना ही नहीं, जो प्रक्रिया पूरी की जा चुकी है। उसके लिए भी ज्ञापन कलेक्टर को सौपा गया। इस पर कांग्रेस के नेताओं ने कड़ी आपत्ति की है।कांग्रेसी नेताओं ने संयुक्त रूप से बयान जारी कर कहा कि छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार लगातार गरीबों के हित में कार्य कर रही है। राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल के विभाग द्वारा राजीव आश्रय योजना के तहत गरीबों को पट्टा देने की तैयारी हो चुकी है। अकेले कोरबा जिले में 14000 से अधिक आवेदन आए थे। पात्रता के आधार पर हितग्राहियों को पट्टा वितरण किया जाना है। इसके लिए राजस्व मंत्री ने आवश्यक दिशा निर्देश जारी कर दिए हैं। राजपत्र का भी प्रशासन हो चुका है। आवश्यक प्रशासनिक प्रक्रिया को पूरा किया जा रहा है। लेकिन भाजपाई उलटी गंगा बहा रहे हैं। इन्होंने जनता को गुमराह करने वाला आवेदन पत्र जारी किया है। लोगों को भाजपाइयों ने असलियत नहीं बताई और उन्हें एक पेंपलेट की तरह दिखने वाला आवेदन सौंप दिया। पट्टे के लिए जरूरतमंद ज्यादातर लोग गरीब और बीपीएल वर्ग से आते हैं। इन्हें भाजपाई आसानी से बरगला कर घंटाघर में ले आए थे। लोगों को ढोकर, झूठ बोलकर आंदोलन स्थल तक लाया गया था।कांग्रेसी नेताओं ने कहा कि किसी भी काम को करने में समय लगता है। इस काम को करने में भी समय लगा है। नियमों में संशोधन किए गए और अब सभी आवश्यक कारवाईयां पूरी हो चुकी हैं। आने वाले 10 से 15 दिनों के भीतर गरीबों को पट्टे का वितरण भी कर दिया जाएगा। लेकिन भाजपाई इसके लिए आवेदन भरवाकर जनता को बरगला रहे हैं। दुर्भाग्य की बात यह भी है कि घंटाघर के आंदोलन में भाजपा के प्रदेश स्तर के पदाधिकारी भी शामिल हुए थे, कोरबा विधानसभा के प्रत्याशी हो या फिर अन्य वरिष्ठ भाजपा नेता सभी ने जनता से झूठ बोला। लोगों को झूठी उम्मीद दी और उन्हें नए सिरे से आवेदन भरवा दिया। जबकि आवेदन पहले ही लिये जा चुके हैं। जिस पर कांग्रेस सरकार ने काम पूर्ण कर लिया है।यह कोई नई बात नहीं है। जब शहर में पट्टे की राजनीति हो रही है। पहले भी कई चुनावजीवी नेताओं ने इस तरह का प्रयास किया था। लेकिन जनता यह सब देख रही है। वह जानती है। इस तरह के प्रोपेगेंडा से भाजपाइयों को वोट नहीं मिलने वाला है। जनता का भला सिर्फ कांग्रेस राज में ही हो सकता है।भाजपाई कोरबा विधानसभा में अपनी हार देख रहे हैं। इसलिए वह उल जुलूल हरकतें कर रहे हैं। झूठ बोलकर जनता को बरगलाने का प्रयास कर रहे हैं। घंटाघर में शुक्रवार को किया गया आंदोलन भी इसी तरह का आंदोलन था। जनता को गुमराह कर और झूठ बोलने की इस राजनीति में भाजपाई कभी सफल नहीं होंगे। जनता  आने वाले चुनाव में उन्हें सबक सिखाएगी।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular