Sunday, March 3, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाकोरबा: विद्यार्थियों की उपस्थिति सुनिश्चित करते हुए परीक्षाओं के परिणाम में सुधार...

कोरबा: विद्यार्थियों की उपस्थिति सुनिश्चित करते हुए परीक्षाओं के परिणाम में सुधार लाएं प्राचार्य – कलेक्टर

  • प्राचार्याे की बैठक ली कलेक्टर ने कमजोर बच्चों पर विशेष ध्यान देने के दिए निर्देश

कोरबा (BCC NEWS 24): कलेक्टर श्री अजीत वसंत ने आज कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में जिले में संचालित समस्त शासकीय हाई स्कूल एवं हायर सेकेण्डरी विद्यालयों के प्राचार्याे की समीक्षा बैठक ली। उन्होंने जिले के सभी स्कूलों में शिक्षकों की समय पर उपस्थिति सुनिश्चित करने के साथ ही विद्यार्थियों की उपस्थिति तथा गुणवत्ता मूलक सलेक्टिव स्टडी पर ध्यान देने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने व्याख्याताओं सहित भृत्य, सफाई कर्मियों के रिक्त पदों की पूर्ति हेतु आवश्यक निर्देश भी दिए।  

बैठक में कलेक्टर ने गतवर्ष की हाईस्कूल स्तर के परीक्षा परिणाम की समीक्षा करते हुए औसतन कम परीक्षा परिणाम वाले विद्यालयों पटपरा, पाली, पीडब्ल्यूडी रामपुर, भिलाईबाजार एवं गोढ़ी के प्राचार्याे को परीक्षा परिणाम में गुणात्मक सुधार हेतु निर्देशित किया गया। इसके अतिरिक्त उत्तम परीक्षा परिणाम देने वाले विद्यालयों तिलकेजा, पिपरिया, पठियापाली, छुरी, अरदा एवं नोनबिर्रा के प्राचार्याे से अच्छे परीक्षा परिणाम हेतु उनके द्वारा किये गये प्रयासों एवं उपचरात्मक शिक्षण के संबंध में चर्चा परिचर्चा कर निर्देशित किया कि कमजोर बच्चों को कोचिंग एवं विशेष कक्षा संचालित कर शतप्रतिशत परीक्षाफल लाने का प्रयास किया जाए। उन्होंने निर्देशित किया कि गतवर्ष हायर सेकेण्डरी परीक्षा परिणाम पर समीक्षा करते हुए औसतन कम परीक्षा परिणाम वाले विद्यालय चौतमा, करतला एवं सिघिंया को विशेष प्लान बनाकर बच्चों की शतप्रतिशत उपस्थिति सुनिश्चित करते हुए कमजोर बच्चों को कोचिंग एवं विशेष कक्षा संचालित कर शतप्रतिशत परीक्षाफल लाने का प्रयास किया जाए। इसके अतिरिक्त चूंकि परीक्षाएं निकट है अतः परीक्षा परिणाम में गुणात्मक सुधार हेतु सलेक्टिव स्टडी एवं महत्वपूर्ण प्रश्नों पर फोकस करने के निर्देश दिए।

कलेक्टर ने जिले में संचालित शासकीय विद्यालयों मे बोर्ड परीक्षा (10वीं एवं 12वीं) का पाठ्यक्रम अविलम्ब पूर्ण करते हुए पुनरावृत्ति का कार्य करने के निर्देश देते हुए वर्तमान सत्र में जिले में संचालित विद्यालयों में व्याख्याताओं के रिक्त पद के विरूद्ध 28 फरवरी 2024 तक अतिथि व्याख्याताओं की सेवा हेतु प्राचार्याे को अधीकृत कर निर्देशित किया गया कि स्थानीय स्तर पर पढ़े लिखे युवकों की इस संबंध मे सेवा ली जा सकती है। इनके मानदेय की व्यवस्था स्थानीय मद से की जाएगी।  उन्होंने जिले में संचालित विद्यालयों में व्याख्याताओं के रिक्त पद पर स्थानीय मद डीएमएफ द्वारा अतिथि व्याख्याताओं की अंशकालीन सेवा लेने हेतु जिला शिक्षा अधिकारी श्री जी पी भारद्वाज को निर्देशित किया गया कि विद्यालयों के रिक्त पदों की जानकारी मंगवाकर निर्धारित मापदण्ड (दर्ज संख्या) अनुसार संस्थावार रिक्त पदों की जानकारी दें। आगामी सत्र मे किसी भी विद्यालय का अध्यापन व्याख्याताओं की कमी से प्रभावित ना हो।

कलेक्टर ने कहा कि जिले में संचालित ऐसे विद्यालय जहां कोई भी भृत्य/सफाईकर्मी न हो ऐसे विद्यालयों मे भी 01 अंशकालीन भृत्य/सफाईकर्मी की व्यवस्था स्थानीय मद डीएमएफ द्वारा की जाएगी। ऐसे विद्यालय जो भवन विहीन है/जर्जर है का प्रस्ताव अविलम्ब जिला शिक्षा अधिकारी के माध्यम से उपलब्ध कराया जाए। कलेक्टर ने समस्त विद्यालयों में शिक्षक एवं व्याख्याताओं की शतप्रतिशत उपस्थिति सुनिश्चित करें इसके लिए प्राचार्याे को टीम भावना से संस्था के संचालन हेतु निर्देशित किया गया।

  • Krishna Baloon
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular