Wednesday, June 19, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाकोरबा: राजस्व मंत्री ने दिया मौवार समाज को सामुदायिक भवन की सौगात...

कोरबा: राजस्व मंत्री ने दिया मौवार समाज को सामुदायिक भवन की सौगात…

कोरबा (BCC NEWS 24): कोरबा अंचल के मौवार और बरेठ समाज के 250 से अधिक लोगों ने राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल से हमारा समाज, हमारा अभिमान कार्यक्रम के तहत मुलाकात कर मौवार और बरेठ समाज  के उत्थान के लिए उनके द्वारा किए गए सहयोग हेतु आभार जताया। समाज प्रमुखों में मौवार समाज के अध्यक्ष हेमलाल, उपाध्यक्ष गणेश कुमार सचिव मुनुदाऊ, कोषाध्यक्ष गोपाल सिंह, संरक्षक फूल सिंह व अन्य पदाधिकारी ललित सिंह, चिरंजन सिंह, बिरेन्द्र सिंह, तोष सिंह, विजय कुमार, महाबीर सिंह, सहदेव सिंह, लख्मी सिंह, अन्य पदाधिकारी बाबूलाल मैत्री, रेशम लाल मैत्री, श्यामा मैत्री, चंद्रप्रभा मन्नेवार, धनेश्वर मैत्री, नान्हूराम मैत्री, और बरेठ समाज अध्यक्ष पुनीराम बरेठ, गिरधारी लाल बरेठ व रामगोविंद बरेठ सहित बड़ी संख्या में समाज के महिला और पुरूष एकत्र होकर राजस्व मंत्री जयसिंह अग्र्रवाल का पुष्पगुच्छ से अभिनंदन किया।

कार्यक्रम का संचालन करते हुए मौवार समाज के वरिष्ठ सदस्य मोहन सिंह ठाकुर ने कहा कि राजस्व मंत्री जी बहुत ही दयालु हैं और सभी समाज को उनका आशीर्वाद प्राप्त हुआ है। उन्होंने बताया कि मौवार समाज अत्यंत पिछड़ा हुआ समाज है, वे सभी सामाजिक स्तर पर बहुत ही दबे व कुचले हुए वर्ग के है और प्रायः लोग रोजी मजदूरी करके अपना जीवन यापन करते हैं। अभी कुछ लोग पड़ाई करके बेहतर जीवनस्तर की ओर अग्रसर हैं लेकिन ऐसे लोगों की संख्या गिनती की है। मोहन सिंह ने आगे बताया कि यह समाज जिसमें मैत्री, मन्नेवार व ठाकुर जैसे उपनाम लिखे जाते हैं वास्तव में मऊगढ़ मध्यप्रदेश से विस्थापित होकर छत्तीसगढ़ में लगभग डेढ़ सौ साल पहले आकर बसे हैं। कोरबा अंचल के बुधवारी, कांशीनगर, ढ़ोढीपारा, कुसमुण्डा, दीपका व ग्रामीण अंचलों में बिखरे हुए रूप में बसे हैं जिनकी अनुमानित कुल संख्या लगभग दस हजार होगी। यही वजह है कि इस समाज को बहुत कम लोग जानते हैं। क्योंकि वास्तव में इनकी अपनी अलग से कोई पहचान नहीं बन पाई है है। उन्होंने राजस्व मंत्री से मांग किया कि जिस प्रकार से अन्य सभी समाजों पर उनकी कृपा हुई है वैसे ही मौवार समाज पर भी कृपा बनाएं और एक सामाजिक भवन के लिए जमीन का आवंटन व भवन का निर्माण करवा दें ताकि उस समाज के लोग भी अपनी गतिविधियों को सुगमता से सम्पन्न कर सकें। कुसमुण्डा क्षेत्र की कांग्रेस महिला ब्लॉक अध्यक्ष व समाज की प्रमुख सदस्या झलकुंवर ठाकुर ने उम्मीद जताई कि जयसिंह भैया का आशीर्वाद समाज को मिलेगा और हमारा समाज भी विकास पथ पर अग्रसर होगा।

मौवार समाज के अध्यक्ष हेमलाल ने अपनी बात रखते हुए कहा कि अन्य समाज की तरह हम भी विकास करना चाहते हैं और हमें पूरा विश्वास है कि मंत्री जी हमारे समाज पर भी ध्यान देंगे। उन्होंने समाजिक एकता की अपील करते हुए बताया कि पूरा समाज इस बात से अवगत है कि कोरबा के चहुंमुखी विकास में जयसिंह भैया ने जो योगदान दिया है अन्य किसी नेता ने नहीं दिया है, अतएव पूरा समाज उनके साथ खड़ा है। श्यामा मैत्री ने कहा कि आज हम सब यहां एकत्र हुए हैं और हमंे पूरा विश्वास है कि आज हमारे सामाजिक भवन का सपना अवश्य पूरा होगा। उन्होंने कहा कि केन्द्र में जाति को मान्यता प्राप्त नहीं हुई जिसकी वजह से केन्द्रीय जाति प्रमाण पत्र की समस्या है जिसके समाधान की अपेक्षा प्रदेश सरकार से की गई है।

बरेठ समाज प्रधान पुरीराम बरेठ ने कहा कि राजस्व मंत्री केवल कोरबा शहर ही नही अपितु समूचे विधानसभा क्षेत्र के हर समाज की चिंता करते हैं और उनका आशीर्वाद हर समाज को प्राप्त होता है। बिलासपुर से आए हुए समाज के बिरेन्द्र सिंह ने कहा कि समाज के लिए भूमि आवंटन व अनुदान संबंधी आवेदन मुख्य मंत्री के यहां लंबित है जिसे पारित करवाने में सहयोग की अपील की गई।

उपस्थित मौवार व बरेठ समाज के लोगों को सम्बोधित करते हुए राजस्व मंत्री ने बताया कि आम नागरिकों तक प्रशासनिक व्यवस्था का सुगम तरीके से लाभ मिल सके इसके लिए उन्होंने समूचे प्रदेश में 100 से अधिक तहसीलों का गठन करवाया है जो देश के इतिहास में किसी भी राज्य में एक ही कार्यकाल में नहीं हुआ है। इसी प्रकार आम नागरिकों की सुविधा की दृष्टि से 29 अनुभागों का गठन किया गया। उन्होंने बताया कि समाजों को भूमि आवंटन प्रक्रिया को काफी हद तक सरल बनाया गया है और बाजार दर की अपेक्षा नाममात्र की दर पर समाज के लिए भूमि उपलब्ध कराए जाने का प्रावधान किया गया है। इसी प्रकार से कोरबा में करवाए गए अनेक विकास कार्यों, गार्डन, अशोक वाटिका, सड़कों, स्वास्थ्य, शिक्षा, आदि के क्षेत्र में हुए उल्लेखनीय और लोकहित के कार्यों से समाज के लोगों को अवगत कराया। मौवार समाज के लिए सामुदायिक भवन बनाने के लिए राजस्व मंत्री द्वारा सहर्ष स्वीकृति प्रदान की गई। बरेठ समाज के लिए भूमि आवंटन के संबंध में आवेदन प्रस्तुत करने को कहा गया। राजस्व मंत्री कहा कि झुग्गी झोपड़ी वासी ऐसे लोग जो नजूल अथवा एसईसीएल व सी.एस.ई.बी. की भूमि पर वर्षो से निवासरत हैं और सर्वें में नाम दर्ज हो चुका है ऐसे हजारों लोगों को शीघ्र ही निःशुल्क पट्टा वितरित किया जायेगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular