Saturday, June 22, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाकोरबा: धर्मांतरण पर बवाल, SP से शिकायत... स्थानीय बोले- प्रलोभन देकर धर्म...

कोरबा: धर्मांतरण पर बवाल, SP से शिकायत… स्थानीय बोले- प्रलोभन देकर धर्म परिवर्तन और झूठे केस में फंसाने की धमकी देता है पड़ोसी

KORBA: कोरबा के कटघोरा के वार्ड संख्या 2 तहसीलभाठा में सैंकड़ों लोगों की मौजूदगी और कानफोड़ू साउंड से वातावरण खराब हो रहा है। क्षेत्रवासियों ने इस मुद्दे को लेकर यहां जमकर हंगामा किया। उन्होंने धर्मांतरण संबंधित गतिविधियों का आरोप लगाते हुए नारेबाजी की। एसपी कार्यालय पहुंचकर शिकायत की। नागरिकों ने मामले में कार्रवाई की मांग की है।

कटघोरा नगर में तहसीलभाटा वार्ड कि जहां पर लोग एक बार फिर विरोध प्रदर्शन के लिए इकट्ठे हुए। धर्मांतरित बजरंग जायसवाल के निवास पर सप्ताह में दो दिन होने वाले शोरगुल और सैंकड़ों की उपस्थिति के कारण रास्ता जाम होने से समस्याएं खड़ी हो रही हैं। मौखिक रूप से समझाइश देने पर भी जब असर नहीं हुआ तो लोगों को मोर्चा खोलना पड़ा। यहां पर हुए हंगामा की जानकारी मिली तो पुलिस को भी मोर्चा संभालना पड़ा।

स्थानीय लोगों ने धर्मांतरित बजरंग जायसवाल के खिलाफ मोर्चा खोला।

स्थानीय लोगों ने धर्मांतरित बजरंग जायसवाल के खिलाफ मोर्चा खोला।

प्रलोभन देने के साथ गलत काम करवाने का आरोप

यह मामला लगातार गंभीर हो रहा है, इसलिए क्षेत्र के लोगों ने निराकरण के लिए आगे कदम उठाए। पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंचकर लोगों ने इस मामले में शिकायत की। आरोप लगाया कि बजरंग जायसवाल लोगों को प्रलोभन देने के साथ गलत काम करवा रहा है। मामला उलझने पर खुद अलग हो जाता है और अपरिचित लोगों को आगे करने के साथ धमकाता भी है।

कोरबा में लोगों ने धर्मांतरण का विरोध किया।

कोरबा में लोगों ने धर्मांतरण का विरोध किया।

झूठे मामले में फंसाए जाने की धमकी

स्थानी नेता पवन अग्रवाल और महिलाओं ने बताया कि काफी लंबे समय से यह परेशानी बनी हुई है। कई बार मना करने के बावजूद भी मकान मालिक अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। बाहर के लोगों को लाकर घर के अंदर साउंड लगाकर शोर करता है, जिससे काफी परेशान हैं। मना करने पर झूठे मामले में फंसाए जाने की धमकी देता है। अंत में गुस्सा लोगों को मजबूरन एसपी के पास जाकर शिकायत करनी पड़ी।

एसपी से की शिकायत

कटघोरा के नागरिकों ने तहसीलभाटा से जुड़े मसले को लेकर थाना प्रभारी और एसपी को अवगत करा दिया है। उन्हें इस बात का इंतजार है कि अपने क्षेत्र की समस्या के समाधान के लिए आगे क्या कुछ कदम उठाए जाते हैं।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular