Saturday, May 18, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाछत्तीसगढ़: छोटे बच्चे को छोड़ मां ने लगाया फांसी का फंदा.. मैं...

छत्तीसगढ़: छोटे बच्चे को छोड़ मां ने लगाया फांसी का फंदा.. मैं मर जाउंगी कहकर पंखे से लटकने लगी तो फरिश्ते बनकर आए पुलिस जवानों ने बचाया, मुख्यमंत्री ने की दोनों सिपाही की जमकर तारीफ…

छत्तीसगढ़: रायपुर की एक महिला का सुसराल वालों से झगड़ा हुआ। कहा सुनी इस कदर बढ़ी की महिला ने जान देने की सोची। रोते बिलखते छोटे बच्चे को छोड़ा और दुपट्‌टे से फांसी का फंदा बना दिया। घर वाले रोकते नहीं मगर महिला रुक नहीं रही थी। बच्चा मम्मी-मम्मी कहकर रोए जा रहा था, मगर मां तो जान देने पर आमादा थी। आस-पड़ोस के लोग जमा हो गए, किसी ने एमरजेंसी नंबर डायल 112 को खबर दी और पुलिस जवानों ने महिला को बचाया।

ये घटना मोबाइल के कैमरे में रिकॉर्ड भी हुई। एक बच्चे के सिर से मां का साया उजड़ जाता। खुदकुशी करने की कोशिश करने वाली महिला को समझाया गया। पूरा मामला शहर के टाटीबंध इलाके का है। दोपहर के वक्त आमानाका इलाके में गश्त कर रहे डायल 112 पेट्रोलिंग टीम के जवानों को सुसाइड के प्रयास और विवाद की खबर लगी। जवान भारतेंदु साहू और वाहन चालक लंबोदर पटेल ने मौके पर पहुंचकर महिला को बचा लिया।

भारत माता स्कूल के पीछे टाटीबंध एमआइजी 883 मकान में रहने वाली महिला ने सुसाइड का प्रयास किया। जानकारी के मुताबिक सुसराल वालों, पति से विवाद से तंग आकर महिला ने ये कदम उठाया था। पारिवारिक विवादों की वजह से महिला डिप्रेशन में जा चुकी है। इसी वजह से उसने अपनी जिंदगी खत्म करने की सोच ली।

मुख्यमंत्री ने की तारीफ
वक्त रहते पुलिस जवानों के एक्शन से एक बड़ी घटना टल गई। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने जवानों के इस काम को सराहा, उन्हें शाबाशी दी। महिला ने छोटे बच्चे की कुर्सी को बेड पर रखकर पंखे से फंदा बांधा था। पुलिस जवानों के पहुंचने के बाद भी वो मरने का प्रयास करती रही। जवानों ने दुपट्टा काटकर महिला काे नीचे उतारा और इसे बचाया गया। महिला के परिजन जयपुर में रहते हैं। इसके मायके में भी इस घटना की खबर दी गई। महिला के मायके और ससुराल वालों ने जान बचाने के पुलिस जवानों का शुक्रिया अदा किया । अब महिला की काउंसिलिंग कराकर पारिवारिक मसले को सुलझाने का प्रयास किया जा रहा है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular