Sunday, May 26, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाBCC News 24: कोरबा- हाथी के हमले में नाबालिग की मौत.. पसान...

BCC News 24: कोरबा- हाथी के हमले में नाबालिग की मौत.. पसान वन रेंज में हाथियों का उत्पात जारी, लगातार फसलों और घरों को भी पहुंचा रहे नुकसान

छत्तीसगढ़: कोरबा के पसान वनक्षेत्र में हाथी के हमले से एक नाबालिग लड़के की मौत हो गई। यहां सेन्हा गांव में मंगलवार दोपहर 1 बजे ये घटना घटी। अड्सरा ग्राम पंचायत के आश्रित गांव केंदई (पंडोपारा) का रहने वाला सुखदेव (16 वर्ष) अपने 4 दोस्तों के साथ हाथी देखने के लिए सेन्हा आया हुआ था। इसी दौरान हाथी से उसका सामना हो गया। जब तक वो कुछ सोच पाता, तब तक हाथी ने उस पर हमला कर दिया। सुखदेव की मौके पर ही मौत हो गई।

घटना की जानकारी ग्रामीणों ने वन विभाग को दी, जिसके बाद वनकर्मी गांव पहुंचे और आगे की कार्रवाई की। गांववालों का कहना है कि पसान वनक्षेत्र में हाथियों के दल ने डेरा डाला हुआ है, जिसके कारण वे बहुत डरे हुए हैं। उन्होंने कहा कि हाथियों को खदेड़ने के लिए वन विभाग पर्याप्त उपाय नहीं कर रहा है। जिसके कारण उनके जान-माल का नुकसान हो रहा है। हाथी अक्सर घरों को तोड़ देते हैं और उसमें रखा अनाज चट कर जाते हैं। हाथी यहां कई एकड़ फसलों को भी नुकसान पहुंचा चुके हैं।

अगस्त में हाथी ने ग्रामीण को कुचलकर मार डाला था

अभी करीब 20 दिन पहले भी कोरबा के पसान रेंज में हाथी के हमले से एक ग्रामीण की मौत हो गई थी। मृतक का नाम रघुवीर था, जो जंगल की तरफ जा रहा था। इसी दौरान उसका सामना हाथियों के दल से हो गया था। हाथी ने उसे कुचलकर मार डाला था। घटना कटघोरा वन मंडल के पसान रेंज के ग्राम खमरिया की थी। पसान फॉरेस्ट रेंज में 24 हाथियों का दल डेरा जमाए हुए है।

वन विभाग ने कराई थी मुनादी

कुछ दिनों पहले वन विभाग की टीम ने गांव और इसके आसपास जंगल की ओर नहीं जाने के लिए मुनादी भी करवाई थी। वन विभाग की टीम लगातार हाथियों की निगरानी कर रही है। गांवों में हाथियों से दूर रहने की हिदायत भी दी गई है। हाथी से बचाव के उपाय भी ग्रामीणों को बताए गए हैं। रात में ग्रामीणों को घर से नहीं निकलने को कहा गया है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular