Saturday, May 25, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाCG न्यूज़: छत्तीसगढ़ की लापता 3 छात्राएं दमन दीव में मिली.. घर...

CG न्यूज़: छत्तीसगढ़ की लापता 3 छात्राएं दमन दीव में मिली.. घर से स्कूल जाने निकली थीं तीनों, डोंगरगढ़ घुमाने के बहाने ले गया था शादीशुदा युवक

छत्तीसगढ़: बिलासपुर के तखतपुर थाना क्षेत्र से लापता हुईं तीन छात्राओं को पुलिस ने दमन दीव से बरामद कर लिया है। वहीं, उन्हें भगाकर ले जाने वाले दो युवकों को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया है। एक आरोपी पहले से शादीशुदा है। उसने अपने दोस्त के साथ मिलकर दो लड़कियों को प्रेमजाल में फंसा लिया। दोनों लड़की और उनकी एक सहेली को दो युवक डोंगरगढ़ स्थित बम्लेश्वरी देवी के दर्शन कराने के बहाने लेकर गए थे। वहां से ट्रेन में उन्हें दमन दीव राज्य घुमाने ले गए।

तखतपुर क्षेत्र से तीन स्कूली छात्राएं बीते 27 सितंबर को एक साथ गायब हो गई थीं। लड़कियां 11वीं में पढ़ती हैं और घर से परीक्षा देने के नाम पर स्कूल जाने के लिए निकलीं थीं। इसके बाद तीनों घर नहीं लौटीं तब परेशान परिजनों ने उनकी तलाश शुरू की। इस दौरान उन्होंने स्कूल और उनके परिचितों से भी जानकारी जुटाई। तब पता चला कि तीनों लड़कियां स्कूल ही नहीं गई थीं।

जानकारी मिलते ही पुलिस में मचा हड़कंप
एक साथ तीन लड़कियों के लापता होने से जहां परिजन अनहोनी की आशंका से घबराए हुए थे। वहीं, पुलिस अफसरों में भी हड़कंप मच गया था। SSP पारुल माथुर ने इस केस को गंभीरता से लिया और SDOP आशीष अरोरा और TI एसआर साहू के साथ स्पेशल टीम बनाकर लड़कियों की तलाश करने के निर्देश दिए।

महाराष्ट्र के कोल्हापुर में होने की मिली सूचना
पुलिस तीनों लड़कियों की तलाश में जुटी हुई थी। इस दौरान आसपास के थानों के साथ ही GRP और RPF के साथ ही दूसरे राज्यों की पुलिस को भी जानकारी दी गई। तब पता चला कि लड़कियों को महाराष्ट्र के कोल्हापुर में देखा गया है। लेकिन, पुलिस ने वेरिफाई किया, तब सूचना गलत निकली।

दमन दीव में मिला लोकेशन, तब टीम ने दी दबिश
जांच के दौरान पता चला कि एक लड़की मोबाइल लेकर गई है। शुरू के दो दिन उसका मोबाइल बंद था। पुलिस लगातार मोबाइल को ट्रेस कर रही थी। तभी रविवार को खबर मिली कि लड़कियों का लोकेशन दमन दीव राज्य में है। इसके बाद SI संजय बरेठ, प्रधान आरक्षक महेश राज, आरक्षक आकाश निषाद, महिला आरक्षक विभा सिंह, व दीपक यादव की टीम बना कर उन्हें रवाना किया गया। टीम दमन- दीव के दमन जिले के दमनवाड़ा थाने के कच्ची गांव पहुंची, जहां लड़कियों को बरामद कर लिया। वहीं, उन्हें भगाकर ले जाने वाले दो युवकों को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। पुलिस उन्हें लेकर बिलासपुर के लिए निकल गई है।

आरोपी युवक की बहन का है ससुराल, इसी दौरान हुई पहचान
पुलिस की प्रारंभिक पूछताछ में पता चला है कि लड़कियों को भगाकर ले जाने वाला आरोपी संजू धुरी (32) सरकंडा थाने के मोपका का रहने वाला है। उसकी बहन की शादी तखतपुर में हुई है। वह पहले से शादीशुदा है। बहन के ससुराल आने-जाने के समय ही एक लड़की से उसकी पहचान हो गई। फिर उससे बातचीत कर दोस्ती की और उसे प्यार में फंसा लिया। बाद में उसने जरहागांव के भिलाई अमोरा में रहने वाले हरिओम पटेल (30) से अपनी गर्लफ्रेंड की सहेली से दोस्ती कराई और हरिओम उसे प्यार में फंसा लिया। दोनों लड़कियों की एक सहेली उनके साथ घूमने के लिए चली गई थी।

देवी दर्शन के बहाने कार से लाए डोंगरगढ़, फिर ट्रेन से ले गए दमन दीव
आरोपी संजय धुरी और हरिओम पटेल ने उन्हें भगाकर ले जाने की पहले से प्लानिंग की थी। अपनी योजना के अनुसार उन्होंने जयप्रकाश नाम के युवक की कार को डोंगरगढ़ जाने के लिए बुक किया था। फिर दोनों तखतपुर पहुंचे और लड़कियों को देवी दर्शन कराने के बहाने भगाकर ले गए। दोनों लड़कियों की सहेली उनके चक्कर में आकर चली गई थी। तखतपुर से मुंगेली, नवागढ़, बेमेतरा,धमधा खैरागढ़ होते हुए डोंगरगढ़ पहुंचे। यहां उन्होंने कार को वापस भेज दिया और ट्रेन से लड़कियों को लेकर दमन दीव चले गए।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular