Wednesday, April 24, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाछत्तीसगढ़: मुख्यमंत्री हाट-बाजार क्लिनिक योजना- बड़ी संख्या में ग्रामीण स्वास्थ्य शिविर में...

छत्तीसगढ़: मुख्यमंत्री हाट-बाजार क्लिनिक योजना- बड़ी संख्या में ग्रामीण स्वास्थ्य शिविर में करा रहे जांच, अब दूरस्थ स्वास्थ्य केंद्र जाने से मिल रही मुक्ति…

  • हाट-बाजारों में पहुंचते ही बड़ी संख्या में ग्रामीण स्वास्थ्य शिविर में करा रहे जांच, दूरस्थ स्वास्थ्य केंद्र जाने से मिल रही है मुक्ति
  • सितंबर माह में 105 हाट-बाजारो में 447 शिविरो का आयोजन कर 25262 लोगो को स्वास्थ्य सुविधा प्रदान किया गया

सूरजपुर: ग्रामीण क्षेत्रो में आम नागरिको तक बेहतर चिकित्सा सुविधाए मुहैया करने लिए राज्य शासन की फ्लैगशिप योजना के तहत मुख्यमंत्री हाट-बाजार क्लिनिक योजना का संचालन किया जा रहा है। इसके अंतर्गत मोबाईल मेडिकल यूनिट के माध्यम से स्वास्थ्य कर्मचारी हाट-बाजार ,दुरस्थ,पहाडी क्षेत्रो सहित अन्य भीड़-भाड़  वाले स्थानो में शिविर लगाकर लोगों को स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराते है। जिसमें बीपी,शुगर,बुखार डायरिया,दस्त एवं अन्य रोग से ग्रसित मरीजों की स्वास्थ्य जांज कर उपचार की सुविधाए उपलब्ध करायी जाती है।

हाट-बाजार  में बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं मिलने से ग्रामीणो एवं आम जनो को दूरस्थ स्वास्थ्य केंद्रो में नहीं जाना पड़ रहा है। मोबाईल यूनिट द्वारा की जा रही स्वास्थ्य सुविधा से आम जन काफी उत्साहित है। हाट-बाजारों में पहुंचते ही बड़ी संख्या में ग्रामीण स्वास्थ्य शिविर में जांच कराने आते है।यहां ग्रामीण  का स्वास्थ्य  परीक्षण कर उन्हे निःशुल्क दवाइयां विवरण की जाती है।

सूरजपुर जिले में सितम्बर माह में जिले में प्रति शिविर औसतन 60 ओ.पी.डी की गई वहीं इस माह अबतक 130 मरीजो को उन के गम्भीर स्थितियों  के कारण अस्पताल रिफर किया गया। हाट-बाजार क्लिनिक में टीम द्वारा लोगो को वर्तमान में बदलते  मौसम  के साथ लोगो को मच्छरदानी के उपयोग जमीन में न सोने ,आस-पास बरसात के पानी को जमा न होने देने सहित अन्य उपाय अपनाने के सुझाव दिए जाते रहे है। मुख्यमंत्री हाट-बाजार क्लिनिक योजना के मोबाईल मेडिकल टीम में अनुभवी चिकित्सा, एएनएम, फार्मासिस्ट द्वारा मरीजों को प्राथमिक उपचार के साथ टीकारण, एनीमिया, कुपोषण से बचाव था सुरक्षित संस्थागत प्रसव के बारे मेें भी विस्तार पूर्वक जानकारी दी जा रही है।

विकासखण्ड रामानुजनगर के निवासी 58 वर्षीय अंजनी पाण्डेय  ने बताया कि वे घरेलु सामग्री की खरीदारी  करने बाजार हमेशा जाते थे पर अब बाजार में मेडिकल टीम के होने से स्वास्थ्य लाभ भी मिल रहा है। विगत कुछ दिनो से उन्हे  बुखार था परंतु स्वास्थ्य केन्द्र  गांव से दूर होने के कारण वे जांच कराने नहीं  जा पा था। घर पर ही दवाईयो का सेवन कर रहे थे  जिससे तत्कालिक  आराम तो मिलता  था परंतु  स्थायी  रूप से स्वास्थ्य परीक्षण  व खून की जांच की गई। जांच  उपरांत निःशुुल्क  दवाई एवं  उचित परामर्श प्रदान की गई यहां मिले इलाज  एवं दवाईयो से काफी लाभ भी मिला और यह योजना  ग्रामीण जनो एवं दूरस्थ्य अंचल के लोगों के लिए  बेहद लाभदायक है।सितम्बर माह में अब तक शिविर का आयोजन

स्वास्थ्य  विभाग से मिली जानकारी के अनुसार जिले में सितम्बर  माह में अबतक  सभी  विकासखण्डो के 105 हाट-बाजारो  में 447 शिविरो  का आयोजन कर कुल 25262 लोगो को स्वास्थ्य सुविधा प्रदान  किया गया है। जिले मे मोबाईल मेडिकल यूनिट  और स्थानीय स्वास्थ्य कर्मियों के द्वारा जिले विकासखण्ड सूरजपुर के चिन्हांकित 23 हाट-बाजारो में 67 शिविरो में 4587 भैयाथान  के 16 हाट-बाजारो  में 64  शिविरों में 3560 ,रामानुजनगर के 19 हाट-बाजारों में 79 शिविरों में  5559,ओडगी के 20 हाट-बाजारो  में 78 शिविरो मे 3734 प्रेमनगर के 11 हाट-बाजारो में 44 शिविरों 2079 लोगो को स्वास्थ्य लाभ  प्रदान किया गया है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular