Friday, April 19, 2024
Homeछत्तीसगढ़रायपुर: मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना से बेटियों के विवाह की चिंता हुई...

रायपुर: मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना से बेटियों के विवाह की चिंता हुई दूर- मंत्री लक्ष्मी राजवाड़े

  • जिले के 177 बेटियों के हाथ हुए पीले
  • नव दंपत्तियों ने भगवान राजीव लोचन मंदिर प्रांगण में लिए सात फेरे
  • नव वधुओं को 21 हजार रूपये सहित अन्य सामान उपहार  किया गया प्रदान
  • महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती लक्ष्मी राजवाड़े, जिले के प्रभारी मंत्री श्री दयालदास बघेल एवं विधायक श्री रोहित साहू ने नवदम्पतियों को दिया आशीर्वाद

रायपुर: राजिम कुंभ कल्प मेला के दौरान श्री राजीव लोचन मंदिर प्रांगण में आज मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना अंतर्गत सामूहिक विवाह का आयोजन किया गया। योजना अंतर्गत जिले के 177 बेटियों का विवाह सम्पन्न हुआ। सभी जोड़ों का धार्मिक रीति-रिवाजों के साथ विवाह सम्पन्न कराया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में शामिल महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती लक्ष्मी राजवाड़े, जिले के प्रभारी मंत्री एवं खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण मंत्री श्री दयाल दास बघेल, राजिम विधायक श्री रोहित साहू सहित क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों एवं आमजनों ने नवविवाहित जोड़ों को आशीर्वाद प्रदान किया। राज्य शासन द्वारा योजना अंतर्गत 50 हजार रुपए की आर्थिक सहायता नव विवाहित जोड़ों को दी जाती है। सामूहिक विवाह में वधुओं को 21 हजार रूपये का चेक राशि सहित शेष राशि से श्रृंगार सामग्री और घरेलू सामग्री   उपहार स्वरूप प्रदान किया गया। सामूहिक विवाह में छुरा, मैनपुर, फिंगेश्वर, गरियाबंद  एवं देवभोग विकासखंड के नवयुवक – युवतियां जोड़े शादी के पवित्र बंधन में बंधे।

सामूहिक कन्या विवाह में मौजूद महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती राजवाड़े ने नवविवाहित जोड़ों को बधाई देते हुए कहा कि राज्य शासन द्वारा मुख्यमंत्री श्री विष्णुदेव साय के नेतृत्व में सभी वर्गो के लिए जनकल्याणकारी योजनाओं का संचालन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के कार्यकाल में मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना शुरू किया गया था। योजना अंतर्गत जनवरी 2024 तक प्रदेश में कुल 1 लाख 14 हजार 750 जोड़ों को लाभान्वित किया गया है। समाज में वैवाहिक कार्यक्रमों में खर्च को रोकने के लिए यह योजना लाभदायक है । मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के तहत 50 हजार रूपये नव विवाहित जोड़ों को दिया जाता है। इससे विवाह के समय होने वाले खर्च और जरूरी तैयारियों की चिंता दूर हो गई। जिससे कमजोर एवं गरीब परिवारों के बेटियों के विवाह में होने वाले खर्च की भी बचत हो रही है। प्रधानमंत्री जी के गारंटी के तहत सभी विवाहितों के लिए महतारी वंदन योजना का शुभारंभ किया है, जिसमें अभी तक 70 लाख से महिलाओं का पंजीयन किया गया है। पात्र महिलाओं को इस योजना के माध्यम से प्रत्येक माह 1 हजार रुपये प्रदान किया जायेगा।


विश्वास ही विवाह का आधार, समन्वय के साथ वैवाहिक जीवन बिताएं – मंत्री श्री बघेल

कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे जिले के प्रभारी एवं खाद्य मंत्री श्री दयालदास बघेल ने नव दंपत्तियों को वैवाहिक जीवन की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि विवाह का आधार विश्वास होता है। पति-पत्नी को एक-दूसरे पर विश्वास और समन्वयता के साथ वैवाहिक जीवन बिताना चाहिए। उन्होंने वर-वधुओं को एक-दूसरे का सम्मान करते हुए परिवारों का भी मान-सम्मान बनाये रखने के लिए प्रेरित किया।


मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना से विवाह के खर्चों की फिक्र हुई दूर

सामूहिक कन्या विवाह के अंतर्गत विवाह करने आए नवदंपत्तियों ने बताया कि इस योजना के तहत शासन की ओर से की जाने वाली सहायता से विवाह में होने वाले खर्चों की फिक्र दूर हो गई है। मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना अंतर्गत दिए जाने वाली सहायता राशि और शादी का खर्च शासन द्वारा निर्वहन करने से गरीब परिवारों के बेटियों की शादी की चिंता दूर हो गई है। सामूहिक कन्या विवाह में शामिल होने आये वर-वधुओं और उनके परिजनों ने शासन की इस योजना के लिए आभार जताया। इस दौरान राजिम विधायक श्री रोहित साहू एवं पूर्व सांसद श्री चन्दूलाल साहू ने भी कार्यक्रम को सम्बोधित किया।

इस अवसर पर जिला पंचायत सदस्य श्रीमती मधुबाला रात्रे, श्री चंद्रशेखर साहू, अध्यक्ष नगर पंचायत राजिम श्रीमती रेखा जितेन्द्र सोनकर, अध्यक्ष नगर पंचायत छुरा श्रीमती पुष्पा जगन्नाथ साहू, श्रीमती नूरमती मांझी, वरिष्ठ नागरिक श्री राजेश साहू सहित जिले के जनप्रतिनिधिगण, कलेक्टर श्री दीपक अग्रवाल, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री अमित तुकाराम कांबले, कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास विभाग श्री अशोक पांडेय सहित जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद थे।

Muritram Kashyap
Muritram Kashyap
(Bureau Chief, Korba)
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular