Saturday, July 13, 2024
Homeछत्तीसगढ़रायपुर: जीत-हार की चिंता किए बिना खिलाड़ियों को खेल भावना से खेलना...

रायपुर: जीत-हार की चिंता किए बिना खिलाड़ियों को खेल भावना से खेलना चाहिए – मंत्री अमरजीत भगत

  • 23वीं राज्य स्तरीय शालेय क्रीड़ा स्पर्धा शुरू, 390 खिलाड़ी कर रहे है शिरकत

रायपुर: खाद्य और संस्कृति मंत्री श्री अमरजीत भगत ने सरगुजा जिले के अम्बिकापुर स्थित में शासकीय बहुउद्देशीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय मैदान में चार दिवसीय 23वीं राज्य स्तरीय शालेय क्रीड़ा प्रतियोगिता का शुभारंभ किया। राज्य स्तरीय स्पर्धा में सभी सम्भाग से आए खिलाड़ियों द्वारा अपने जिले का प्रतिनिधित्व करते हुए मार्चपास्ट किया गया, ततपश्चात खेल भावना के साथ खेल खेलने की शपथ ली गई।

 खाद्य और संस्कृति मंत्री श्री अमरजीत भगत

मंत्री श्री भगत ने इस मौके पर कहा कि जीत-हार की चिंता किए बिना खिलाड़ियों को खेल भावना से खेलना चाहिए। छत्तीसगढ़ शासन खेलों के प्रति बेहद सजग है जिससे प्रतिभाओं को मौका मिल रहा है। लोक खेलों को पुनर्जीवित करने छत्तीसगढ़िया ओलंपिक महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है।

प्रतियोगिता में राज्य के पांचों संभाग दुर्ग, रायपुर, बस्तर बिलासपुर और सरगुजा संभाग के खिलाड़ी शामिल हिस्सा ले रहे है। प्रत्येक संभाग से 78 खिलाड़ी अर्थात कुल 390 खिलाड़ी प्रतियोगिता में हिस्सा ले रहे हैं। संभाग स्तरीय खेल के विजेता खिलाड़ी राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता में प्रदेश का प्रतिनिधित्व करेंगे।

इस अवसर पर सीजीएमएससी के अध्यक्ष एवं लुण्ड्रा विधायक डॉ. प्रीतम राम, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती मधु सिंह, बीस सूत्रीय कार्यान्वयन कार्यक्रम के उपाध्यक्ष श्री अजय अग्रवाल, जिला पंचायत सदस्य श्री राकेश गुप्ता एवं कलेक्टर श्री कुन्दन कुमार, तेलघानी विकास बोर्ड के सदस्य श्री लक्ष्मी गुप्ता, खाद्य संरक्षण एवं नागरिक आपूर्ति आयोग के सदस्य श्री अभिषेक सिंह, नगर निगम आयुक्त श्री अभिषेक कुमार सहित स्थानीय जनप्रतिनिधि, सभी संभाग से आए खिलाड़ी उपस्थित थे।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular