Friday, April 19, 2024
Homeछत्तीसगढ़रायपुर: मानव हाथी द्वंद प्रबंधन एवं वन अग्नि नियंत्रण पर प्रशिक्षण सह-कार्यशाला...

रायपुर: मानव हाथी द्वंद प्रबंधन एवं वन अग्नि नियंत्रण पर प्रशिक्षण सह-कार्यशाला आयोजित…

रायपुर: वनमण्डल कटघोरा के वन परिक्षेत्र केन्दई में मानव हाथी द्वंद प्रबंधन एवं वन अग्नि नियंत्रण पर प्रशिक्षण सह कार्यशाला 02 मार्च 2024 को ग्राम चोटिया में आयोजन किया गया। इस कार्यशाला में सरगुजा एलिफेंट रिजर्व से आए एलिफेंट एक्सपर्ट श्री प्रभात दुबे उपस्थित रहे। इस कार्यशाला के दौरान मानव हाथी द्वंद प्रबंधन, वन अग्नि नियंत्रण, वनोपजों के समर्थन मूल्य एवं सजग एप्प के बारे में चर्चा की गयी।

प्रशिक्षण के दौरान वनमण्डलाधिकारी श्री कुमार निशांत ने संबोधन के दौरान वनमण्डल में जंगली हाथियों के इतिहास के बारे में बताया, एवं हाथियों में होने वाले जैनेटिक मैपिंग के बारे में समझाया। इस दौरान उन्होने जंगल में आग न लगाने की समझाईश देते हुए जंगली आग से होने वाले प्राकृतिक हानि के बारे में बताया। उन्होने समझाईश दी कि महुआ बिनने के दौरान पेड़ के नीचे आग न लगावें एवं नेट के माध्यम से फूड ग्रेड महुआ संकलन से होने वाले आर्थिक लाभ के बारे में चर्चा किया। उन्होंने वन विभाग द्वारा खरीदे जाने वाले वनोपजों के समर्थन मूल्य के बारे में ग्रामीणों को विस्तार से बताया एवं ग्रामीणों से वनोपजों के बाजार मूल्य के बारे में भी जानकारी ली एवं समर्थन मूल्य से कम मूल्य पर वनोपजों के विक्रय करने से मनाही किया।

एलीफेंट रिजर्व सरगुजा से आए एक्सपर्ट श्री प्रभात दुबे ने प्रशिक्षण के दौरान हाथियों के सामान्य व्यवहार के बारे में प्रशिक्षण दिया। हाथियों से मुठभेड़ होने के दौरान किये जाने वाले व्यवहार के बारे में बताया एवं साथ ही साथ जंगली हाथियों की पहचान करने, प्रबंधन करने एवं हाथियों से सुरक्षा के उपाय के बारे में बताया। उन्होने स्कूली बच्चो को वनों के विनाश से होने वाले जलवायु परिर्वतन के बारे में समझाया और वनों में आग न लगाने एवं आग लगने की घटना के दौरान उसे बुझाने के उपायों के बारे में विस्तार से जानकारी दी

इसी तरह प्रशिक्षण के दौरान श्री प्रशांत यादव ने ग्रामीणों को सजग एप्प को उपयोग करने के संबंध में प्रशिक्षण दिया। ग्रामीणों को बताया कि किस तरह से सजग एप्प का उपयोग करके ग्रामीण हाथियों का लोकेशन एप्प में एन्ट्री कर सकते हैं। एन्ट्री के पश्चात् वनविभाग उस एन्ट्री के माध्यम से किस भांति सजग सायरन का इस्तेमाल कर ग्रामीणों के लिए अलर्ट जारी करता है एवं मौके पर पहुंचकर सहयोग प्रदान करता है।

इस अवसर पर जिला पंचायत सदस्य श्री रायसिंह मरकाम, सरपंच परला श्री जवाहिर सिंह, सरपंच चोटिया श्री करमन सिंह, सरपंच घुंचापुर श्री रतिराम मिंज, परला और लमना हाई स्कूल के शिक्षक, हाथी मित्रदल के सदस्य, वनपरिक्षेत्र केन्दई के फायर वाचर, स्थानीय जनप्रतिनिध सहित हाईस्कूल परला के विद्यार्थी और वनपरिक्षेत्र केन्दई के अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे।

Muritram Kashyap
Muritram Kashyap
(Bureau Chief, Korba)
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular