Saturday, May 18, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाBCC News 24: BIG न्यूज़- राजधानी में साढ़े तीन साल की मासूम...

BCC News 24: BIG न्यूज़- राजधानी में साढ़े तीन साल की मासूम से दुष्कर्म.. नामी स्कूल के ड्राइवर ने बच्ची से बस में किया रेप; घर लौटी तो कपड़े बदले हुए थे, प्राइवेट पार्ट पर खरोंच के निशान, मां को सुनाया दर्द.. स्कूल प्रबंधन की सफाई- पानी पीने में गीले हुए थे कपड़े, आया ने की थी ड्रेस चेंज

भोपाल: राजधानी में नर्सरी में पढ़ने वाली साढ़े तीन साल की बच्ची से दुष्कर्म का सनसनीखेज मामला सामने आया है। नीलबड़ स्थित बिलाबाॅन्ग हाई इंटरनेशनल स्कूल की नर्सरी में पढ़ने वाली इस छात्रा से स्कूल बस के ड्राइवर ने बस में ही दुष्कर्म किया। बच्ची घर लौटी तो उसके कपड़े बदले हुए थे। ये देख मां हैरान हुई। बाद में उन्हें बच्ची के प्राइवेट पार्ट्स पर खरोंच के निशान भी नजर आए।

शक हुआ तो उन्होंने बच्ची से पूछा कि आपको कोई बैड टच करता है तो बच्ची ने बताया कि बस के ड्राइवर अंकल बुरे हैं, वो बैड टच करते हैं। इसके बाद परिजनों ने स्कूल प्रबंधन से संपर्क किया और बाद में घटना की शिकायत पुलिस कमिश्नर से की।

महिला थाना पुलिस ने आरोपी बस ड्राइवर को हिरासत में ले लिया है। उससे पूछताछ की जा रही है। उस पर दुष्कर्म और पॉक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है। साथ ही बस की दीदी से पूछताछ की जा रही है। पुलिस ने बच्ची का मेडिकल भी करवाया है।

बच्ची को ड्राइवर की फोटो दिखाई तो वो झट से पहचान गई

आठ सितंबर को मेरी बेटी जब स्कूल से घर पहुंची तो वो स्कूल के स्कर्ट की जगह घर के कपड़े पहने थी। ये देखकर मुझे हैरानी हुई। मैंने सबसे पहले बेटी की क्लास टीचर को फोन किया। पूछा- क्या बेटी ने स्कूल में उल्टी या टॉयलेट की थी? वो बोलीं- नहीं ऐसा कुछ भी नहीं किया।

उन्होंने ये भी बताया कि आपकी बेटी स्कूल ड्रेस में ही घर के लिए निकली है। फिर बेटी के कपड़े बदलते समय मुझे उसके प्राइवेट पार्ट पर खरोंच सी दिखी। मैंने बच्ची से पूछा कि ये कैसे हुआ, किसने किया? तुम्हें कोई बैड टच करता है क्या? इस पर बेटी बोली- ड्राइवर अंकल बैड हैं। वो बैड टच करते हैं। वो मेरे लिप्स चाटते हैं, चेस्ट को छूते हैं, चेहरे पर हाथ फेरते हैं। प्राइवेट पार्ट में फिंगर करते हैं।

अगले ही दिन हमने ड्राइवर की फोटो बच्ची को दिखाए और पूछा कि किसने गलत काम किया था? बच्ची ने ड्राइवर को पहचान लिया। फिर हम सीधे स्कूल पहुंचे और शिकायत की। प्रिंसिपल ने बस मौजूद स्टाफ को बुलाकर बस थोड़ी बहुत पूछताछ की। सोमवार को हम बच्ची को लेकर महिला थाने पहुंचे। बेटी ने एक हफ्ते पहले भी बताया था कि उसके प्राइवेट पार्ट में दर्द है। तब हमने इसे गंभीरता से नहीं लिया।
– जैसा पीड़िता की मां ने पुलिस एफआईआर में दर्ज कराया।

स्कूल की सफाई…?

छोटे बच्चों के बैग में घर की एक ड्रेस भी रखकर भेजी जाती है। स्कूल प्रबंधन ने अपनी जांच में पेरेंट्स को बताया कि बच्ची जिस स्कूल बस से घर जाती है उसमें एक दीदी भी रहती है। 8 सितंबर को बस में बच्ची ने पानी पीया तो उसके कपड़े गीले हो गए थे। बस की दीदी ने बच्ची के कपड़े बदले थे। ड्राइवर की कोई गलती सामने नहीं आई है। बच्ची विराशा हाइट्स स्टाॅप पर उतरती है, इसके बाद बस में दो बच्चे और थे। स्कूल से जब सीसीटीवी फुटेज मांगे तो बोले 3-4 दिन में डिलीट कर देते हैं।

पानी पीने में गीले हुए थे कपड़े, आया दीदी ने बदले थे कपड़े

बिलाबॉन्ग इंटरनेशनल स्कूल के प्रिंसिपल आशीष अग्रवाल का कहना है कि पुलिस वेरिफिकेशन के बाद ही हम स्कूल में ड्राइवर को रखते है। बस में पानी पीने के दौरान कपड़े गीले होने पर आया दीदी ने बच्ची के कपड़े बदले थे, ड्राइवर ने नहीं। पुलिस की जांच में हम पूरा सहयोग कर रहे हैं। पुलिस जो जानकारी मांग रही है वह उपलब्ध कराई जा रही है। आगे भी सहयोग करेंगे।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular