Monday, April 15, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाBCC News 24: CG न्यूज़- 'देश के बंटवारे के लिए सावरकर और...

BCC News 24: CG न्यूज़- ‘देश के बंटवारे के लिए सावरकर और जिन्ना जिम्मेदार’.. CM भूपेश का RSS और BJP पर बड़ा हमला; कांग्रेस की भारत जोड़ो पद यात्रा हुई समाप्त

भिलाई: छ्तीसगढ़ में 9 अगस्त से शुरू की गई कांग्रेस की भारत जोड़ो पद यात्रा का समापन रविवार 14 अगस्त को दुर्ग जिले के पाटन में हुआ। इस मौके पर पाटन में आमसभा का आयोजन किया गया। आमसभा में छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल शामिल हुए। इस दौरान सीएम ने बीजेपी और आरएसएस पर बड़ हमला बोला है।

सीएम ने भारत देश के बंटवारे को लेकर कहा कि इसके लिए जिम्मेदार गांधी और नेहरू नहीं बल्कि वीर सावरकर और मोहम्मद अली जिन्ना हैं। उन्होंने इस मौके पर देश की आजादी के लिए लड़ाई लड़ने वाले बीर सपूतों को याद गिया।

कांग्रेस पार्टी की सभी विधानसभा क्षेत्रों में होने के बाद पद यात्रा 14 जुलाई को पाटन विधानसभा पहुंची। इस अवसर पर कांग्रेस के सभी बड़े नेता और मंत्री मौजूद रहे। आमसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि वो पाटन की धरती को प्रणाम करते हैं। इस धरती ने देश की आजादी के लिए लड़ाई लड़ने वाले कई सपूतों को जन्म दिया है। क्षेत्र ही नहीं प्रदेश में भी कई बड़े नेता हुए जो प्रदेश में देश की आजादी के आंदोलन का नेतृत्व कर चुके हैं।

पंडित रवि शंकर शुक्ल, ठाकुर प्यारे लाल सिंह, छेदीलाल बैरिस्टर, डॉ. खूबचंद बघेल, सुंदरलाल शर्मा सहित कई बड़े नेता हुए हैं जो ऐसे आंदोलन का नेतृत्व कर चुके हैं। वो देश के ऐसे बीर सपूतों का लाल पाल और बाल, महात्मा गांधी, सरदार वल्लभ भाई पटेल, मौलाना आजाद, चंद्रशेखर आजाद, अस्फाक उल्ला खां और सुभाष चंद्र बोष जैसे देश के सपूतों को नमन करते हैं, जिन्होंने देश की आजादी के लिए बलिदान दिया। कार्यक्रम को संबोधित करने के बाद मुख्यमंत्री रायपुर में अन्य कार्यक्रमों में शामिल होने के लिए रवाना हो गए।

आमसभा के दौरान मंच पर बैठे मुख्यमंत्री व अन्य कांग्रेसी नेता

आमसभा के दौरान मंच पर बैठे मुख्यमंत्री व अन्य कांग्रेसी नेता

देश के बंटवारे के लिए गांधी और नेहरू जिम्मेदार नहीं
मुख्यमंत्री ने कहा कि आज के दिन देश का बंटवारा हुआ था। इसके लिए कई लोग महात्मा गांधी, पंडित जवाहर लाल नेहरू और सरदार वल्लभ भाई पटेल को दोषी मानते हैं। मैं कहता हूं कि आपका राष्ट्रीय स्वयं सेवक संगठन 1925 में बन गया था। उस समय आप क्या कर रहे थे। जब 1942 में अंग्रेजों भारत छोड़ो का नारा दिया गया। सभी पहली पंक्ति के नेताओं को जेल में ठूंस दिया गया। उस समय यही आरएसएस के आदमी श्यामा प्रसाद मुखर्जी से लेकर गोलवलकर तक यह सलाह दे रहे थे कि देश की आजादी की इस मुहिम को कैसे कुचला जाए। ये लोग अंग्रेजों की मुखबिरी करने का काम करते थे। आज यदि देश का बंटवारा का हुआ है तो और इसके लिए सही मायने में कोई जिम्मेदार है तो वो सावरकर है। 1925 में सावरकर ने हिंदू महासभा में बोलते हुए कहा कि इस देश के दो राष्ट्र बनने चाहिए। यही भाषा मोहम्मद अली जिन्ना बोल रहे थे। इसलिए देश के बंटवारे के लिए गांधी जी जिम्मेदार नहीं हैं। जिम्मेदार कोई है तो वो सावरकर और मोहम्मद अली जिन्ना हैं।

कार्यक्रम में शामिल हुए बड़ी संख्या में पाटन व आसपास के लोग

कार्यक्रम में शामिल हुए बड़ी संख्या में पाटन व आसपास के लोग

पदयात्रा कर लिया मां महामाया का आशीर्वाद

कार्यक्रम के संबोधित करने के बाद मुख्यमंत्री ने मिनी माता और स्वामी आत्मानंद जी की मूर्ति पर माल्यार्पण किया। इसके बाद वहां से पदयात्रा शुरूकर मां महामाया मंदिर तक पहुंचे। यहां माता का आशीर्वाद लिया और इसके बाद रायपुर के लिए प्रस्थान किया।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular