Saturday, June 22, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबासूरजपुर: प्रतापपुर ब्लॉक के दूरस्थ क्षेत्र ग्राम रामकोला में हुआ जिला स्तरीय...

सूरजपुर: प्रतापपुर ब्लॉक के दूरस्थ क्षेत्र ग्राम रामकोला में हुआ जिला स्तरीय जनसमस्या निवारण का आयोजन; सुनी मांगे, शिकायतें एवं समस्याएं, किया गया त्वरित निराकरण…

  • शिविर में स्कूल शिक्षा मंत्री हुए शामिल
  • प्राकृतिक आपदा सहित शासन की कल्याणकारी योजनाओं का दिलाएं लाभ- मंत्री डॉ. टेकाम
  • दलहन मसूर मिनीकिट, पौधा, लैपटॉप का वितरण

सूरजपुर: कलेक्टर सुश्री इफ्फत आरा के नेतृत्व में जिला प्रशासन की पूरी टीम एवं पुलिस अमला के आला अधिकारी  विकासखंड  प्रतापपुर के दुरस्त क्षेत्र  ग्राम रमकोला में जिला स्तरीय जनसमस्या निवारण शिविर का आयोजन कर क्षेत्र के ग्रामीणों  के विभिन्न मांग, शिकायत, समस्याओं के प्राप्त आवेदन का अवलोकन कर एवं लोगों से आपसी संवाद कर ग्रामीण जनों की बातों को सुने एवं आवेदनों का त्वरित निराकरण किया गया एवं शेष बचे कार्यों को समय अवधि में निराकरण करने कलेक्टर ने विभागीय अधिकारियों को निर्देशित किया। आसपास के आश्रित ग्राम के लोग भी  शिविर में पहुंचे। शिविर में स्थानीय विधायक एवं स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ प्रेमसाय सिंह टेकाम, जिला पंचायत, जनपद सदस्य, सरपंच एवं स्थानीय प्रतिनिधि गण जिला स्तरीय जन समस्या निवारण शिविर में शामिल हुए। शिविर का शुभारंभ स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ प्रेमसाय सिंह टेकाम एवं स्थानीय प्रतिनिधियों द्वारा छत्तीसगढ़ महतारी के छायाचित्र पर दीप प्रज्वलन एवं माल्यार्पण पश्चात राजगीत के साथ प्रारंभ हुई।

मंत्री डॉ. टेकाम ने शिविर में आए ग्रामीण जनों को संबोधित करते हुए कहा कि जन समस्या निवारण शिविर का उद्देश्य ग्रामीणों एवं आम लोगों लोग के बीच आना और उनके मांगो, शिकायतों समस्याओं को सुनकर निराकरण करना होता है। उन्होंने कहा कि ग्राम रमकोला जिले के दूरस्थ क्षेत्र में स्थित है और यहां से जिला मुख्यालय दूर है लोगों को जिला मुख्यालय जाने में परेशानी होता है इसलिए जिले के सभी विभाग के आला अधिकारी आपके बीच आए हैं और विभागों द्वारा स्टॉल लगाकर आपकी समस्याओं का निराकरण किया जा रहा है ताकि आप लोगों को वहां जाना ना पड़े। उन्होंने अधिकारियों को कहा कि शासन की कल्याणकारी योजना जिसके लिए बनाया गया है उसका लाभ मिलना चाहिए। विवादित नामांतरण, बटवारा के प्रकरणों का निराकरण समय सीमा में करना सुनिश्चित करें। जंगल क्षेत्र में रहने वाले लोगों को, सांप, आकाशीय बिजली, अन्य चीजों से सामना करना पड़ता है इसलिए प्राकृतिक आपदा के तहत शासन से मिलने वाली सहायता से पीड़ित पक्ष को तत्काल सहायता प्रदान करें। उन्होंने कहा कि मजदूरी भुगतान समय में करें क्योंकि उनका जीवन उसी में आश्रित है उन्होंने सभी विभाग को निर्देशित किया तथा कहा कि भुगतान को लेकर समस्या एवं शिकायत ना हो भुगतान आदि समय अवधि में करना सुनिश्चित करें।

स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ टेकाम ने कहा कि क्षेत्र के विकास के लिए शिक्षा, पानी व्यवस्था, बिजली, सड़क,स्वास्थ्य सहित अन्य क्षेत्रों में किए जा रहे हैं। राज्य शासन द्वारा स्थानीय लोगों को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए गौठान, गोधन न्याय योजना , रिपा कार्यक्रम के तहत लोगों के स्वावलंबी बनाने के लिए राज्य सरकार निरंतर कार्य कर रही है। राज्य में धान खरीदी तेजी से चल रहा है किसानों को धान का भुगतान समय में किया जा रहा है। उन्होंने छत्तीसगढ़ी परंपरा एवं संस्कृति को बढ़ाने के लिए मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल द्वारा छत्तीसगढ़िया ओलंपिक खेलकूद प्रतियोगिता आयोजित किया गया है जिसमें सभी वर्ग के लोग शामिल है उन्होंने छत्तीसगढ़ के कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी भी दी तथा लाभ लेने कहा।

कलेक्टर सुश्री  इफ्फत आरा ने प्राप्त आवेदनों का अवलोकन एवं उपस्थित गांव के लोगों से चर्चा  कर ग्रामीण जनों  के विभिन्न मांगो, शिकायतों, समस्याओं से रूबरू होकर कहा कि  शिविर का मतलब आपके बीच आकर समस्याओं को जानना ताकि आपको जिला मुख्यालय ना आना पड़े और विभिन्न विभाग के आला अधिकारी आपके बीच आकर समस्याओं का निराकरण करें। उन्होंने ग्रामीण जनों को विश्वास दिलाया कि संभावित आवेदनों का तत्काल निराकरण किया गया है जो शेष है उस पर आवश्यक जांच एवं कार्रवाई कर उन्हें भी निराकरण किया जाएगा । उन्होंने सभी विभाग के अधिकारियों को प्राप्त शेष आवेदनों का समय सीमा में निराकरण में करने निर्देश दिए है। उन्होंने कहा कि इसके लिए आप सभी के सहयोग एवं भागीदारी आवश्यक है। शिविर में सोलर लाइट, सड़क, पानी,स्वास्थ्य एवं शिक्षा, राशन कार्ड, आयुष्मान कार्ड, आधार कार्ड बनाने , जाति निवास प्रमाण पत्र बनाने , राजस्व प्रकरण की आवेदन प्राप्त हुए हैं उनका निराकरण किया जाएगा।उन्होंने शासन की योजनाओं का लाभ लेने आग्रह किया।

जिला पंचायत अध्यक्ष प्रतिनिधि श्री शिव भजन मरावी, जिला पंचायत सदस्य श्रीमती मंजू मिंज ने कार्यक्रम को संबोधित किया एवं जिला प्रशासन को धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा कि क्षेत्र की जनता के माध्यम से विभिन्न आवेदन प्राप्त हुए हैं कुछ का त्वरित निराकरण किया गया है तथा शेष बचे आवेदनों को निराकरण करने कहा गया। सभी ने समय-समय पर समस्याओं के निराकरण के लिए शिविर का आयोजन करने के लिए निवेदन किया जिससे दूरस्थ क्षेत्र के लोगों को जिला मुख्यालय जाना ना पड़े। इस दौरान डीएफओ श्री संजय यादव, एसडीएम श्रीमती दीपिका नेताम, मंत्री प्रतिनिधि कुमार सिंह देव, शक्कर कारखाना अध्यक्ष विद्यासागर सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष प्रतिनिधि श्री शिवभजन मरावी , जिला पंचायत सदस्य श्रीमती मंजू मिंज, स्थानीय प्रतिनिधि गण एवं सभी विभाग के अधिकारी एवं पुलिस अमला मौजूद रहे।

दलहन मसूर मिनीकिट, पौधा, लैपटॉप का वितरण- महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा गर्भवती एवं शिशुवती माताओं को पौष्टिक आहार एव अन्नप्राशन कार्यक्रम आयोजित किया गया था। मंत्री डॉ टेकाम ने कार्यक्रम पश्चात बच्चों को चम्मच से खीर खिलाई। उन्होंने बिहान योजना के तहत बैंक सखियों को लैपटॉप, उद्यानिकी विभाग का पौधा एवं कृषि विभाग के दलहन मसूर बीज मिनीकिट हितग्राहियों को वितरण किया ।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular