Thursday, June 8, 2023
Homeछत्तीसगढ़सिरफिरे युवक ने गला रेता, पेट-छाती में मारा चाकू... रिश्ता तोड़ने की...

सिरफिरे युवक ने गला रेता, पेट-छाती में मारा चाकू… रिश्ता तोड़ने की बात से नाराज होकर युवती की हत्या; 108 पेज के चालान में 9 साल के भाई ने बताई बहन के कत्ल की कहानी

धार: मध्यप्रदेश के धार के इमली कॉलोनी में रहने वाली निकिता मर्डर केस में पुलिस ने चालानी कार्रवाई पूरी कर ली है। कोतवाली पुलिस जल्द ही 108 पेज का चालान पेश करने वाली है। दिसंबर महीने में एकतरफा प्यार में हुए इस सनसनीखेज कत्ल के चश्मदीदों ने पुलिस को उस दिन की कहानी बयां की है। आरोपी ने पहले युवती का गला रेता, फिर छाती और पेट में तीन बार चाकू घोंपा था। चालान में सबसे खास बयान मृतका के 9 साल के भाई के हैं। पढ़िए पुलिस के तीन महीने के भीतर बनाए गए चालान के कुछ अंश…

9 साल के दर्शन की जुबानी, उस दिन की पूरी कहानी..
दोपहर के करीब 3 बज रहे थे, हम सभी भाई-बहन घर के आगे वाले कमरे में बैठे थे। घर का मुख्य दरवाजा दोपहर का समय होने के कारण आधा अटका हुआ था। मेरी बड़ी बहन निकिता पलंग पर लेटी हुई थी। हम रेखा, महिमा व चंचला जमीन पर बैठकर टीवी देख रहे थे। मां फूलकुंवर घर के पीछे वाले कमरे में बैठी कुछ काम कर रही थीं। अचानक से आरोपी गोकुल आया और पलंग पर लेटी निकिता की ओर बढ़ा। हम कुछ समय पाते इसके पहले ही उसने बहन के गले पर धारदार हथियार से हमला कर दिया। बहन की चीख सुन हम सहम गए। वह चिल्लाती रही और गोकुल उस पर वार करता रहा। उसने बहन के पेट में भी चाकू घोंप दिया। मेरी आंखों के सामने बहन लहूलुहान पलंग पर ही गिर पड़ी। बहन की चीख सुनकर मां दौड़कर बाहर आई। हम सब बहन को संभालने के लिए दौड़े। मौका पाकर गोकुल घर से बाहर की ओर भागा। मां फूलकुंवर बाई ने बताया कि आज मेरी बेटी के साथ हुआ है, कल किसी और बेटी के साथ ऐसा नहीं हो। ऐसे आरोपी को तो फांसी की सजा होनी चाहिए। उसका मकान भी तोड़ा जाना चाहिए, क्योंकि ऐसे लोगों को हमारी बस्ती में रहने का कोई हक नहीं है।

31 दिसंबर 2022 साल को आरोपी लखन ने निकिता की चाकू से गोदकर हत्या कर दी थी।

31 दिसंबर 2022 साल को आरोपी लखन ने निकिता की चाकू से गोदकर हत्या कर दी थी।

परिवार के आठ लोगों सहित 25 गवाह
दरअसल, दिलावरा रोड स्थित इमलीबन कॉलोनी में 31 दिसंबर 2022 साल के अंतिम दिन सनसनीखेज हत्याकांड हुआ था, यहां पर एक सिरफिरे आशिक ने रिश्ता तोड़ने की बात से नाराज होकर निकिता नाम की युवती की चाकू से गोदकर हत्या कर दी थी। पुलिस के अनुसार घर पर फस्ट ईयर की छात्रा निकिता पिता कन्हैयालाल अपने भाई बहनों के साथ टीवी देख रही थी। इसी दौरान आरोपी लखन उर्फ गोकुल पिता गिरधारी परमार पहुंचा व अचानक हमला कर दिया था।

कोतवाली थाना प्रभारी दीपक सिंह चौहान ने बताया कि आरोपी को जेल में भेजने के बाद एफएसएल टीम ने भी मौके पर अवलोकन कर अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत की थी। साथ ही घटना के बाद परिजनों में भाई दर्शन, बहन चंचला, रेखा, महिमा और मां फूलकुंवर बाई सहित पड़ोस में रहने वाले दो लोगों के बयान दर्ज किए गए हैं। चालान में दर्ज बयानों में परिवार ने घटना के दौरान का पूरा घटनाक्रम विस्तार से पुलिस को बताया है। साथ ही पीएम रिपोर्ट सहित पूरी कार्रवाई चालान के दौरान की गई है। सनसनीखेज हत्याकांड को एसपी आदित्य प्रताप सिंह के द्वारा चिन्हित प्रकरणों में शामिल किया गया है। परिवार के आठ लोगों सहित कुल 25 गवाह कोर्ट के समक्ष पेश किए जाएंगे। 108 पेज का चालान बनकर तैयार है। चिह्नित अपराध में प्रकरण आने के बाद कोर्ट में फास्ट गवाह होंगे, ताकि आरोपी को उचित सजा मिल सके।

31 दिसंबर 2022 साल को सनसनीखेज हत्याकांड हुआ था। सिरफिरे ने रिश्ता तोड़ने की बात से नाराज होकर युवती की चाकू से गोदकर हत्या कर दी थी।

31 दिसंबर 2022 साल को सनसनीखेज हत्याकांड हुआ था। सिरफिरे ने रिश्ता तोड़ने की बात से नाराज होकर युवती की चाकू से गोदकर हत्या कर दी थी।

ऑनलाइन मंगवाया था चाकू
आरोपी को गिरफ्तार करने के बाद पुलिस ने लखन से घटनाक्रम समझा। पूछताछ में आरोपी ने बताया कि युवती से उसकी पहचान पांच साल से थी। पहले युवती ने शादी करने की बात कही थी, लेकिन बाद में युवती ने शादी करने से मना कर दिया। करीब 6 महीने पहले युवती ने ब्रेकअप कर लिया था। आरोपी लखन का कहना था कि उसने उसे समझाने का प्रयास किया, लेकिन उसने बातचीत करने से मना कर दिया था। आरोपी का घर भी युवती के घर से कुछ दूरी पर ही स्थित है।

बातचीत बंद होने के बाद युवती उसे अनदेखा भी करने लगी थी, जिसके बाद ही लखन ने बदला लेने की नीयत से हमला कर दिया। आरोपी ने पुलिस को बताया कि हमला करने के लिए चाकू भी एक ऑनलाइन एप्प के माध्यम से ही मंगवाया था, हालांकि चाकू मंगने का कोई कागज आरोपी के पास नहीं मिला था। पुलिस ने आरोपी द्वारा उपयोग किए गए चाकू को भी पूछताछ व रिमांड के दौरान सलकनपुर स्थित खदान के पास से बरामद किया था।

मां फूलकुंवर बाई का कहना है कि आरोपी को फांसी हो। उसके घर पर बुलडोजर चले।

मां फूलकुंवर बाई का कहना है कि आरोपी को फांसी हो। उसके घर पर बुलडोजर चले।

इंदौर में मौत, पांच घंटे में आरोपी अरेस्ट
तत्कालीन थाना प्रभारी समीर पाटीदार सूचना मिलने के बाद सीधे पुलिस टीम को लेकर जिला अस्पताल पहुंचे थे, यहां पर पीड़ित परिवार से चर्चा करने के बाद आरोपी लखन को अरेस्ट करने के लिए तुरंत दो टीमें पुलिस की सक्रिय हुईं। इधर, युवती को परिजन ही गंभीर स्थिति में इंदौर लेकर रवाना हुए। यहां युवती का इलाज तो शुरू हुआ, लेकिन इसकी कंडीशन इतनी खराब हो चुकी थी कि उसे बचाया नहीं जा सका। डॉक्टरों ने उसे रात में मृत घोषित कर दिया।

पुलिस की टीमों ने आरोपी तक पहुंचने की कोशिश को और तेज कर दिया। परिजनों की शिकायत पर आरोपी के खिलाफ प्रकरण भी दर्ज किया गया, जो हत्या में बदल गया। पुलिस के मुखबिर तंत्र ने बताया कि आरोपी लखन को मांडू रोड पर देखा गया है। सूचना के बाद टीमें फायरिंग रेंज इलाके में पहुंची और लखन को वारदात के 6 घंटे के भीतर अरेस्ट कर लिया गया। घटना के बाद परिजन मृत निकिता को अपने पैतृक गांव अंतिम संस्कार के लिए लेकर रवाना हो गए।

निकिता अपने भाई बहन के साथ इसी बेड पर लेटकर टीवी देख रही थी। अचानक से आरोपी आया और उसने चाकू से हमला कर दिया।

निकिता अपने भाई बहन के साथ इसी बेड पर लेटकर टीवी देख रही थी। अचानक से आरोपी आया और उसने चाकू से हमला कर दिया।

मकान तोड़ने का मामला अटका
घटना के बाद परिजनों ने आक्रोशित रैली निकालकर एक ज्ञापन सौंपा था, जिसमें आरोपी को फांसी की सजा सहित क्षेत्र से मकान तोड़ने की मांग की गई थी। ज्ञापन के बाद एसडीएम ने धार नपा कार्यालय से मकान को लेकर संबंधित कागजों की जानकारी मांगी थी। नपा द्वारा इस मामले में आरोपी के पिता को नोटिस जारी कर अपने कागज दिखाने की बात कही थी। लेकिन मकान तोड़ने की कार्रवाई अब तक नहीं हो पाई है। इस मामले में फरवरी महीने में नोटिस भी जारी हुआ था, लेकिन तब से आगे कोई कदम नहीं उठाया गया है।

पुलिस ने तीन महीने में जांच कर 108 पेज का चालान तैयार किया है। जल्द ही इसे कोर्ट में पेश किया जाएगा।

पुलिस ने तीन महीने में जांच कर 108 पेज का चालान तैयार किया है। जल्द ही इसे कोर्ट में पेश किया जाएगा।

अधिकारियों से पार्षद मिले
क्षेत्रीय पार्षद रवि मेहता भी घटना के बाद से ही परिजनों के संपर्क में हैं। वे आरोपी पर सख्त सजा हो, इसे लेकर ज्ञापन देने पहुंचे थे। पार्षद मेहता ने बताया कि अपराध करने वालों के खिलाफ प्रदेश सरकार द्वारा वैधानिक कार्रवाई की जा रही है। अपराधियों के हौसलों को तोड़ने के लिए प्रभावी कार्रवाई धार में भी जरूरी है।

RO NO. Samvad 12338/11
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Related News

Most Popular