Wednesday, April 24, 2024
Homeउत्तरप्रदेशBCC News 24: BIG न्यूज़- टीचर ने सरकारी स्कूल को बनाया अय्याशी...

BCC News 24: BIG न्यूज़- टीचर ने सरकारी स्कूल को बनाया अय्याशी का अड्‌डा.. क्लास रूम से करता था वीडियो कॉल, छुट्‌टी के बाद महिलाओं को बुलाता था, पत्नी ने खोली पोल

उत्तरप्रदेश: ललितपुर में सरकारी स्कूल के टीचर ने स्कूल को अय्याशी का अड्डा बना लिया। टीचर क्लास रूम में महिलाओं को वीडियो कॉल करता था। नौकरी दिलाने के नाम पर उन्हें स्कूल में बुलाता था। इसकी फोटो वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गए। इसके बाद शिक्षा विभाग ने संज्ञान लिया। फिलहाल टीचर को सस्पेंड कर दिया गया। घटना विकास खंड महरौनी के नावई गांव की है।

स्वयं सहायता समूहों को ट्रेनिंग देने आई महिलाओं को फंसाया
नाम न छापने की शर्त पर एक महिला ने कहा, “कुछ दिनों पहले हम लोग स्वयं सहायता समूहों को ट्रेनिंग देने आई थी। मेरे साथ कई महिलाएं थीं। सभी स्कूल के कमरे में रुकी थीं। उस दौरान टीचर ने कई महिलाओं को अपने जाल में फंसा लिया। टीचर ने महिलाओं के साथ अश्लील हरकतें की। फोटो वीडियो भी बनाए।”

महिला ने कहा, “ट्रेनिंग देने बाद हम लोग चले गए। इसके बाद भी टीचर महिलाओं को नौकरी दिलाने के नाम पर बुला लेता था।”

टीचर महिलाओं को स्कूल में बुला लेता था।

टीचर महिलाओं को स्कूल में बुला लेता था।

जालौन का रहने वाला है टीचर
टीचर धर्मेंद्र कुमार जालौन के एक गांव रहने वाला है। वह कुछ सालों से नावई गांव के प्राथमिक विद्यालय पर सहायक अध्यापक के पद पर तैनात हैं। धर्मेंद्र की शादी 1 साल पहले 25 जून को हुई थी। शादी के दो महीने बाद ही पत्नी को मायके भेज दिया। इसके बाद से पत्नी को ससुराल नहीं ले जा रहा है।

गांव में बुलाई गई थी पंचायत
15 दिन पहले अध्यापक की पत्नी नावई में पहुंची थी। वहां के ग्राम प्रधान से मदद मांगी कि उसके पति उसे रख नहीं रहे हैं। उसके कुछ महिलाओं से संबंध हैं। उसने फोटो भी गांव वालों को दिखाए। इसके बाद प्रधान ने पंचायत बुलाई। टीचर को भी बुलाया था।

प्रधान ने टीचर से कहा, “पत्नी को क्यों नहीं रख रहे हो। आप स्कूल में ऐसी गलत हरकतें करते हो। अपना ट्रांसफर करवा लो। इसके लिए टीचर ने 7 दिन का समय मांगा था। टीचर छुट्टी लेकर चला गया था। 7 दिन बीत जाने के बाद भी टीचर ने पत्नी को रखने से मना कर दिया। इसके बाद पत्नी और फोटो वीडियो वायरल कर दिए।

कई महिलाओं को अपने जाल में फंसाया था। नौकरी दिलाने के नाम पर बुलाता था।

कई महिलाओं को अपने जाल में फंसाया था। नौकरी दिलाने के नाम पर बुलाता था।

ग्राम प्रधान ने कहा, “टीचर ने उनके गांव को बदनाम कर दिया । वह प्रशासन से मांग करेंगे कि ऐसे अध्यापक पर सख्त कार्रवाई हो।”

गांव के लोगों ने इसकी शिकायत लोगों से की। मामले को जिलाधिकारी ने गंभीरता से लिया। डीएम ने बेसिक शिक्षा अधिकारी को जांच के निर्देश दिए। बेसिक शिक्षा अधिकारी ने दो सदस्यीय जांच कमेटी गठित की। कमेठी ने जांच में टीचर पर लगे आरोपों को सही पाया। इसके बाद बीएसए ने टीचर को निलंबित कर दिया। उसे ब्लॉक संसाधन केंद्र जखौरा में संबंध किया गया है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular