Sunday, May 26, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाकोरबा: शहर के बीचों-बीच सुपर मार्केट में करैत को देखकर मची अफरातफरी.....

कोरबा: शहर के बीचों-बीच सुपर मार्केट में करैत को देखकर मची अफरातफरी.. महिला सामान उठाने ही जा रही थी कि बीच में बैठे सांप पर पड़ी नजर; किया गया रेस्क्यू

कोरबा: शहर के सुपर मार्केट में गुरुवार को करैत सांप निकलने से अफरातफरी मच गई। रविशंकर नगर के पास स्थित सुपर मार्केट में जब एक महिला खरीदारी कर रही थी, तभी सामान उठाते वक्त उसकी नजर करैत सांप पर पड़ी। उसने तुरंत अपने हाथ वापस खींच लिए और वहां से लोगों को इसकी जानकारी दी।

सुपर मार्केट से तुरंत ग्राहकों को निकाला गया और संचालक ने स्नेक रेस्क्यू टीम को खबर की। सूचना मिलते ही स्नेक कैचर जितेंद्र सारथी मौके पर पहुंचे और सामान के बीच बैठे सांप को निकालने की कोशिश की। इस दौरान तुरंत सांप ने छलांग लगा दी, जिससे एक बार को तो वहां रेस्क्यू देख रहे लोग भी डर गए। लेकिन फिर जितेंद्र सारथी ने फुर्ती दिखाते हुए सांप को पकड़ लिया।

सांप को बोरे में किया गया बंद।

सांप को बोरे में किया गया बंद।

उन्होंने बताया कि ये 5 फीट का करैत सांप था, जो बहुत जहरीला होता है। उन्होंने सांप को बोरी में डाल दिया, जिससे लोगों ने राहत की सांस ली। इसके बाद सांप को जंगल में छोड़ दिया गया। कोरबा में लगातार सांप मिल रहे हैं। अभी दो हफ्ते पहले ही भारत का सबसे जहरीला सांप किंग कोबरा यहां से पकड़ा गया था। इस खतरनाक सांप की लंबाई 12.5 फीट थी। साथ ही वह काफी मोटा भी था। मामला सरखेत वन परिक्षेत्र का था।

किंग कोबरा काट दे तो इंसान पानी भी नहीं मांगता।

किंग कोबरा काट दे तो इंसान पानी भी नहीं मांगता।

10 दिन पहले दीपावली की रात कलेक्टर बंगले में भी करैत सांप निकलने से वहां के कर्मचारियों में अफरातफरी मच गई थी। जिस समय कलेक्टर संजीव झा और उनकी पत्नी समेत पूरा परिवार दिवाली मना रहा था, तभी उनसे मिलने आए SDOP रामनरेश दुबे की नजर बंगले में बैठे हुए सांप पर पड़ी थी। बाद में स्नेक कैचर जितेंद्र सारथी ने कलेक्टर के बंगले पर पहुंचकर सांप को रेस्क्यू किया था।

कोरबा में लगातार घरों से सांप निकलने की घटनाएं

पिछले महीने की 17 सितंबर को भी कोरबा जिले के रामपुर चौकी क्षेत्र में करैत सांप के काटने से बच्ची की मौत हो गई थी। नकटीखार गांव में रहने वाले श्याम दास महंत की 6 साल की बेटी पलक को उस समय करैत सांप ने पीठ में काट लिया था, जब वो सो रही थी। उससे पहले शहर के कोसाबाड़ी स्थित घर के एसी से सांप को निकाला गया था। 4 फीट लंबा रैट स्नेक चूहे के लिए घर में घुस आया था।

वहीं रामपुर इलाके में भी जूते की रैक से कोबरा सांप को रेस्क्यू किया गया था। जूते-चप्पलों के बीच छिपे कोबरा को देख लोगों के रोंगटे खड़े हो गए थे। इससे पहले कोरबा के CSEB ऑफिसर कॉलोनी स्थित बीकन इंग्लिश स्कूल में भी सांप घुस गया था। जिससे टीचर्स और बच्चे दहशत में आ गए थे। बाद में स्नेक रेस्क्यू टीम ने सांप को पकड़ा था। शहर के वार्ड क्रमांक- 54 में भी 6 फीट लंबे अजगर ने एक मुर्गी को अपना निवाला बना लिया था।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular