Saturday, May 18, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाBCC News 24: कोरबा- नवरात्रि से ठीक पहले चैतुरगढ़ के जंगल में...

BCC News 24: कोरबा- नवरात्रि से ठीक पहले चैतुरगढ़ के जंगल में दिखा टाइगर.. चहलकदमी करते हुए कैमरे में कैद; अचानकमार टाइगर रिजर्व से हर साल आता है टाइगर, गाय का किया शिकार; ग्रामीण दहशत में 

कोरबा/पाली: कटघोरा वन मंडल के पाली वन परिक्षेत्र में आखिर ट्रैप कैमरे में टाइगर कैद हो ही गया। चैतुरगढ़ पहाड़ियों में मवेशियों को शिकार करने वाले शिकारी जानवर को लेकर ग्रामीणों ने टाइगर होने की संभावना जताई थी। वह आखिरकार सच साबित हुई। वन विभाग के ट्रेप कैमरे में टाइगर की चहल कदमी कैद हो गई है। कटघोरा वन मंडल के पाली उप वन मंडल के चैतुरगढ़ की पहाड़ी के आसपास कुछ समय से जंगली जानवर मवेशियों का शिकार कर रहा था। जिसकी लिखित और मौखिक शिकायत ग्रामीणों ने वन विभाग से की।

हाल ही में चैतुरगढ़ में संतोष दास नामक ग्रामीण की गाय का शिकार किया। जहां जानवर के पदचिन्ह मिले थे जिसे लेकर ग्रामीणों ने शेर के शिकार किए जाने की बात कही थी। इसी हफ्ते खैराबहार के निकट बामहरझूझा जलप्रपात के पास ग्रामीण पुनिराम पिता विशाल सिंह के मवेशियों को चरा रहा था। जहां टाइगर ने गाय पर हमला कर दिया। गाय मालिक किसी तरह शोर मचाते जान बचाकर भागा। इसकी सूचना ग्रामीणों और वन विभाग को दिया।

लगातार शिकार की होती घटनाओं को देखते हुए वन विभाग ने जंगल में कुछ जगहों पर ट्रेप कैमरे लगाए हैं, जिसमें शेर और तेंदुए की मौजूदगी पता चली है। रेंजर केएन जोगी का कहना है कि पद चिन्ह की रिपोर्ट अभी नहीं आई है। पाली रेंज में काम कर चुके रिटायर्ड एसडीओ नटवर अग्रवाल का कहना है कि लाफा का जंगल बेलगहना रेंज से लगा हुआ है। अचानकमार से हर साल टाइगर यहां पहुंचते हैं। वर्ष 2008-9 में भी शेर आने की पुष्टि हुई थी। जो तस्वीर दिख रही है वह नर टाइगर का है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular