Saturday, June 15, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाकोरबा: सड़को पर दुर्घटना रोकने पर रंबल स्ट्रिप का उपयोग, ओवरस्पीडिंग पर...

कोरबा: सड़को पर दुर्घटना रोकने पर रंबल स्ट्रिप का उपयोग, ओवरस्पीडिंग पर रोक और आवश्यक सुरक्षा साधनों का करें उपयोग: कलेक्टर संजीव झा

  • टीपीनगर क्षेत्र में बेतरतीब खड़े वाहनों  को हटाने चलेगा अभियान
  • दुर्घटना में घायल लोगों की जान बचाने त्वरित उपचार के लिए स्वास्थ्य संसाधनों में की जाएगी बढ़ोतरी
  • कलेक्टर श्री संजीव झा ने जिला सड़क सुरक्षा समिति की बैठक में दिए निर्देश

कोरबा (BCC NEWS 24): कलेक्टर श्री संजीव झा की अध्यक्षता में जिला सड़क सुरक्षा समिति की बैठक आयोजित हुई। कलेक्ट्रेट सभा कक्ष में आयोजित बैठक में कलेक्टर श्री झा ने समग्र सड़क सुरक्षा परिदृश्य, जिले में सड़क सुरक्षा से संबंधित किए गए प्रयास, सड़क दुर्घटनाओं के प्रमुख कारण, दुर्घटना नियंत्रण के उपाय व सड़क सुरक्षा जागरूकता के संबंध में जानकारी ली। कलेक्टर श्री झा ने बैठक में सड़क दुर्घटना रोकने रंबल स्ट्रिप का उपयोग करने, ओवर स्पीडिंग को नियंत्रित करने तथा आवश्यक सुरक्षा साधनों का उपयोग करने के निर्देश दिए। उन्होंने नगर निगम क्षेत्र के टीपी नगर में बेतरतीब खड़े वाहनों को हटाने के लिए आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश दिए। अनावश्यक खड़े वाहनों को हटाने के लिए अभियान चलाने तथा ऐसे वाहनों पर आवश्यक जुर्माना लगाने की कार्रवाई करने के भी निर्देश दिए। कलेक्टर ने इसके अलावा स्वास्थ्य विभाग द्वारा जिले में ट्रामा सेंटर की स्थिति एवं सड़क दुर्घटनाओं में घायलों के त्वरित उपचार की व्यवस्था के बारे में जानकारी ली। उन्होंने घायलों के तत्काल उपचार की व्यवस्था के लिए स्वास्थ्य संसाधनों को मजबूत करने के निर्देश दिए। कलेक्टर श्री झा ने सीएमएचओ डॉ एसएन केसरी को जिले के राष्ट्रीय राजमार्ग से लगे अस्पताल सीएचसी कटघोरा में जरूरी सर्जन, ऑर्थाेपेडिशियन, ईएनटी और एनेस्थिटिक  डॉक्टर की व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। बैठक में पुलिस अधीक्षक श्री संतोष सिंह, अपर कलेक्टर श्री विजेंद्र पाटले, नगर निगम के आयुक्त श्री प्रभाकर पांडे, संयुक्त कलेक्टर श्री शिव बनर्जी, कोरबा एसडीएम श्रीमती सीमा पात्रे सहित पीडब्लूडी, परिवहन, स्वास्थ्य विभाग सहित अन्य विभागों के अधिकारी प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

बैठक में कलेक्टर श्री संजीव झा ने सुप्रीम कोर्ट कमेटी ऑन रोड सेफ्टी के निर्देशों का समस्त सड़क निर्माण विभाग, पी.डब्ल्यू.डी, एनएचएआई व  पीएमजीएसवाई द्वारा अनुपालन की जानकारी ली। उन्होंने पूर्व में चिन्हित एवं नए ब्लैक स्पॉट की पहचान तथा आवश्यक सुधार के लिए किए गए प्रयास की जानकारी ली। इसके अलावा विभिन्न मार्गाे एवं स्थानों पर सुरक्षा हेतु किए गए उपाय, सड़क सुरक्षा, यातायात प्रबंधन के लिए लगाए गए संकेतक एवं प्रमुख मार्गों, नए मार्गों पर वाहन चालकों हेतु संस्थापित सुविधाएं की जानकारी ली। उन्होंने सड़क सुरक्षा के लिए जरूरी व्यवस्थाओं को सुनिश्चित करने के निर्देश अधिकारियों को दिए। कलेक्टर ने परिवहन विभाग के अधिकारियों से ओव्हर लोड,  वाहनों पर की गई कार्यवाही एवं सड़क सुरक्षा संबंधी कार्यक्रम व योजना के बारे में जानकारी ली। उन्होंने नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग से सड़कों पर दुर्घटनाओं को रोकने के लिए कार्यवाही एवं सड़कों- फुटपाथ तथा पार्किंग स्थलों पर अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही के बारे में जानकारी ली। साथ ही इसके संबंध में आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने सड़क दुर्घटनाओं पर रोक लगाने के लिए सड़कों के किनारे बेतरतीब ढंग से खड़े वाहनों पर अभियान चलाकर कार्यवाही करने के निर्देश दिए गए। जिले के आउटर और शहरी क्षेत्र में भी बेतरतीब खड़े वाहनों पर कार्रवाई के लिए संयुक्त रूप से कार्यवाही के लिए विभागों को निर्देशित किया गया।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular