Sunday, February 25, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाकोरबा कोरोना न्यूज़: जिले में कुल 84 हजार 763 सैम्पलों में से...

कोरबा कोरोना न्यूज़: जिले में कुल 84 हजार 763 सैम्पलों में से 76 हजार 126 नेगेटिव, केवल आठ हजार 581 ही पाॅजिटिव मिले….



कोरबा 28 अक्टूबर 2020/कोरबा जिले मेंं कोरोना की जांच के लिये भेजे गये सैम्पलों में से लगभग 90 प्रतिशत सैम्पलों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। कोरबा जिले से अब तक 84 हजार 763 सैम्पल कोरोना जांच के लिये रायपुर, बिलासपुर, रायगढ़ की जांच प्रयोगशालाओं में भेजे गये हैं। जिनमें से 76 हजार 126 की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। अभी तक केवल आठ हजार 581 सैम्पल ही कोरोना पाॅजिटिव निकले हैं। आज की स्थिति में जिले से भेजे गये 056 सैम्पलों की जांच रिपोर्ट आना बाकी है जबकि विभिन्न तकनीकी कारणों से 614 सैम्पल रिजेक्ट भी हुये हैं। जिले में प्रतिदिन लगभग एक हजार 300 से अधिक सैम्पल लेकर जांच की जा रही है या जांच के लिये प्रयोगशाला में भेजे जा रहे हैं।
स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार जिले मंे कोरोना की जांच आरटीपीसीआर, रैपिड एंटीजन टेस्ट और ट्रु-नाॅट तीन पद्धतियों से की जा रही है। अभी तक आरटीपीसीआर पद्धति से जांच के लिये जिले से कुल 33 हजार 779 सैम्पल प्रयोगशालाओं में भेजे जा चुके हैं जिनमें से 92 प्रतिशत सैम्पलों  की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। केवल दो हजार 597 सैम्पल कोरोना संक्रमित पाये गये हैं। आरटीपीसीआर टेस्ट के लिये भेजे गये सैम्पलों में से अभी 056 की रिपोर्ट आनी बाकी है और अभी तक 436 सैम्पल विभिन्न तकनीकी कारणों से रिजेक्ट हुये हैं। जिले से अब तक 47 हजार 639 सैम्पलों की जांच रैपिड एंटीजन विधि से की जा चुकी है। 41 हजार 897 की जांच नेगेटिव और पांच हजार 742 सैम्पलों की जांच पाॅजिटिव आई है। एंटीजन विधि में कुल किये गये टेस्ट में से केवल 12 प्रतिशत सैम्पल की जांच रिपोर्ट पाॅजिटिव आई है तथा लगभग 88 प्रतिशत सैम्पल की रिपोर्ट निगेटिव है। ट्रु-नाॅट पद्धति से जिला अस्पताल में अभी तक तीन हजार 345 सैम्पल जांचे गये हैं। इनमें से तीन हजार 103 कोरोना नेगेटिव और केवल 242 कोरोना पाॅजिटिव मिले हैं। ट्रु-नाॅट विधि से केवल सात प्रतिशत सैम्पलों की कोरोना जांच पाॅजिटिव आई है तथा लगभग 93 प्रतिशत सैम्पलों की कोरोना जांच नेगेटिव पाया गया है।
स्वास्थ्य विभाग ने आज यहां बताया कि सबसे अधिक कोरबा विकासखण्ड में 37 हजार 173 सैम्पलों की जांच की गयी है जिनमें से 32 हजार 340 नेगेटिव, चार हजार 562 पाॅजिटिव मिले हैं। कोरबा विकासखण्ड से जांच के लिये भेजे गये 36 सैम्पलों की जांच रिपोर्ट आना बाकी है जबकि 235 सैम्पल तकनीकी कारणों से रिजेक्ट हुये हैं। इसी प्रकार कटघोरा विकासखण्ड से अभी तक 16 हजार 605 सैम्पल भेजे जा चुके हैं। कटघोरा विकासखण्ड के आठ हजार 14 हजार 171 सैम्पल नेगेटिव, दो हजार 282 सैम्पल पाॅजिटिव आये हैं। तीन सैम्पलों की रिपोर्ट प्रतिक्षारत है और 149 सैम्पल तकनीकी कारण से रिजेक्ट हुये हैं। पाली विकासखण्ड से कोरोना जांच के लिये भेजे गये 11 हजार 839 सैम्पलों में से 640 पाॅजिटिव, 11 हजार 125 नेगेटिव आये हैं। चार की रिपोर्ट आना बाकी है और तकनीकी कारणों से 70 सैम्पल रिजेक्ट हुये हैं। करतला विकासखण्ड से अभी तक कोरोना की जांच के लिये नौ हजार 800 सैम्पल भेजे जा चुके हैं। करतला विकासखण्ड के भेजे गये सैम्पलों में से जांच के बाद आठ हजार 953 की रिपोर्ट नेगेटिव आयी है। केवल 802 सैम्पल पाॅजिटिव मिले हैं। तकनीकी कारणों से 38 सैम्पल रिजेक्ट हुये हैं जबकि सात सैम्पलों की रिपोर्ट आना बाकी है। पोड़ी-उपरोड़ा विकासखण्ड से अभी तक नौ हजार 960 सैम्पल जांच के लिये भेजे गये हैं। पोड़ी-उपरोड़ा विकासखण्ड से भेजे गये सैम्पलों में से नौ हजार 537 की रिपोर्ट नेगेटिव और 295 की रिपोर्ट पाॅजिटिव आई है। विकासखण्ड से भेजे गये 122 सैम्पल तकनीकी कारणों से रिजेक्ट हुये हैं तथा छह सैम्पलों की रिपोर्ट आना बाकी है।

  • Krishna Baloon
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular