Sunday, March 3, 2024
Homeछत्तीसगढ़जांजगीर-चांपाजांजगीर में पड़ोसी ने भाई-बहन को मार डाला: हत्या के बाद आरोपी...

जांजगीर में पड़ोसी ने भाई-बहन को मार डाला: हत्या के बाद आरोपी ने युवती के सीने पर खून से लिखा अपना नाम, फिर 150 मीटर दूर खुद भी फंदे से लटककर दी जान…

छत्तीसगढ़ के जांजगीर में पड़ोसी ने युवती और उसके 9 साल के भाई की हत्या कर दी। इसके बाद  खुदकुशी कर ली है। - Dainik Bhaskar

छत्तीसगढ़ के जांजगीर में पड़ोसी ने युवती और उसके 9 साल के भाई की हत्या कर दी। इसके बाद खुदकुशी कर ली है।

  • पामगढ़ क्षेत्र के भैंसो गांव की घटना, पुलिस ने तीनों के शव और वारदात में प्रयुक्त रॉड बरामद की
  • भाई-बहन ही साथ में रहते थे झोपड़ी जैसे मकान में, माता-पिता तीन माह से कमाने के लिए गुजरात में

जांजगीर/ छत्तीसगढ़ के जांजगीर में पड़ोस में रहने वाले एक युवक ने युवती और उसके भाई की रॉड से सिर पर वार कर हत्या कर दी। फिर युवती के सीने पर अपना नाम लिख दिया। इसके बाद घटना स्थल से करीब 150 मीटर दूर तालाब के किनारे पेड़ पर फंदा लगाकर जान दे दी। सोमवार सुबह लोगों ने शव देखा तो पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने वारदात में प्रयुक्त रॉड को बरामद कर लिया है। मामला पामगढ़ थाना क्षेत्र का है।

मनेश की पत्नी सुनैना करीब एक 2 साल पहले मधु के बड़े भाई सोहन के साथ भाग गई थी। ऐसे में आशंका जताई जा रही है कि बदला लेने के लिए मनेश ने वारदात को अंजाम दिया है।

मनेश की पत्नी सुनैना करीब एक 2 साल पहले मधु के बड़े भाई सोहन के साथ भाग गई थी। ऐसे में आशंका जताई जा रही है कि बदला लेने के लिए मनेश ने वारदात को अंजाम दिया है।

भैंसो गांव निवासी अनिल गौराहा अपनी पत्नी के साथ करीब तीन माह से गुजरात में मजदूरी करने के लिए गया हुआ है। उसके 6 बेटा-बेटी हैं। उनमें से आलोक गौराहा (9) और मधु गौराहा (19) दोनों गांव में एक झोपड़ी में रहते थे। सुबह लोगों ने देखा तो घर का दरवाजा खुला था और अंदर आलोक व मधु के शव खून से लथपथ पड़े थे। सूचना पर पुलिस पहुंची तो देखा कि युवती के सीने पर मनेश का नाम खून से लिखा हुआ है।

घटना स्थल से करीब 100 मीटर दूर आरोपी का घर, उसका भी शव मिला
पुलिस जांच करते हुए घटना स्थल से करीब 100 मीटर की दूरी पर स्थित मनेश गौराहा (40) के घर पहुंची। इस दौरान पता चला कि गांव के तालाब के किनारे उसका शव लटक रहा है। पुलिस ने तीनों के शव अस्पताल भिजवा दिए हैं। परिजनों के आने के बाद दोनों का पोस्टमार्टम कराया जाएगा। युवती के कपड़े फटे और अस्त व्यस्त होने से दुष्कर्म का भी अंदेशा जताया जा रहा है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही पुष्टि हो सकेगी।

अनिल गौराहा के 6 बेटा-बेटी हैं। उनमें से आलोक गौराहा (9) और मधु गौराहा (19) दोनों गांव में एक झोपड़ी में रहते थे।

अनिल गौराहा के 6 बेटा-बेटी हैं। उनमें से आलोक गौराहा (9) और मधु गौराहा (19) दोनों गांव में एक झोपड़ी में रहते थे।

मनेश की पत्नी दो साल पहले भाग गई थी मधु के बड़े भाई के साथ
पुलिस की पूछताछ में पता चला है कि मनेश की पत्नी सुनैना करीब एक 2 साल पहले मधु के बड़े भाई सोहन के साथ भाग गई थी। इसके बाद दोनों ने समाज के सामने एक-दूसरे को स्वीकार कर लिया। सोहन भी सुनैना के साथ कमाने के लिए बाहर गया है। वहीं पुलिस को मनेश के शव के पास से ही वारदात में प्रयुक्त रॉड भी बरामद हुई है। उसके कपड़ों में भी खून लगा हुआ था। ऐसे में आशंका जताई जा रही है कि बदला लेने के लिए मनेश ने वारदात को अंजाम दिया है।

  • Krishna Baloon
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular