Saturday, May 25, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाकोरबा: मेडिकल कॉलेज में सुविधाओं के प्रति प्रशासन और प्रबंधन सजग: सांसद...

कोरबा: मेडिकल कॉलेज में सुविधाओं के प्रति प्रशासन और प्रबंधन सजग: सांसद ज्योत्सना महंत

  • कोरबा मेडिकल कॉलेज में अध्यापन शुरू होने पर सांसद ने दी बधाई

कोरबा (BCC NEWS 24): बिसाहूदास महंत स्मृति शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय कोरबा में अध्यापन कार्य 15 नवंबर से प्रारंभ हो गया है। यहां 100 सीटों पर पढ़ाई प्रारंभ करने की अनुमति प्राप्त हो चुकी है जिसमें एमबीबीएस के विद्यार्थियों को दाखिला दिया जा रहा है। कोरबा सांसद ज्योत्सना चरणदास महंत ने कहा कि मेरा एक सपना रहा कि आदिवासी जिलों में अपने-अपने स्वास्थ्य केन्द्र जो मेडिकल कॉलेज से संचालित हों। कोरबा मेडिकल कॉलेज में अध्यापन प्रारंभ होने पर यहां के डीन डॉ. अविनाश मेश्राम व उनकी टीम सहित समस्त विद्यार्थियों एवं उनके अभिभावकों को शुभकामनाएं प्रेषित करते हुए कहा कि कोरबा के लिए हमारा सपना पूरा हो गया है। अब यहां पढ़ने वाले बच्चे आगे बढ़ें और चिकित्सा के क्षेत्र में बेहतर सेवाएं दें। सांसद ने कहा कि शुरूआती दौर में छोटी-मोटी असुविधा हो सकती है जिसके निराकरण के लिए कोरबा कलेक्टर को निर्देश दे दिए गए हैं। हमारी छत्तीसगढ़ की सरकार और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री के निरंतर सहयोग और हमारे द्वारा किए गए सतत प्रयासों का परिणाम है कि कोरबा में मेडिकल कॉलेज प्रारंभ हो सका है। याद रहे कि 9 सितंबर 2022 को मेडिकल कौंसिल ऑफ इंडिया (एनएमसी) के द्वारा एमबीबीएस की सीटों पर भर्ती का आदेश जारी किया गया। इसके बाद से यहां अध्यापन प्रारंभ कराने के लिए लगातार आवश्यक संसाधनों की पूर्ति के लिए प्रशासन व मेडिकल कॉलेज प्रबंधन की बैठकें लेकर सीधी निगरानी रखी जा रही थी और हमारा प्रयास आज सफल हुआ। इस अवसर पर महापौर राजकिशोर प्रसाद, सभापति श्यामसुंदर सोनी, जिला शहर महिला कांग्रेस की अध्यक्ष श्रीमती सपना चौहान, ब्लाक कांग्रेस अध्यक्ष व पार्षद संतोष राठौर, श्रीमती उषा तिवारी, श्रीमती रूपा मिश्रा, श्रीमती रश्मि सिंह, पार्षद धरम निर्मले, सांसद प्रतिनिधि किरण चौरसिया सहित बड़ी संख्या में गणमान्यजन उपस्थित थे।

मनेन्द्रगढ़-कोरिया, चाम्पा-जांजगीर व जीपीएम जिले में भी मेडिकल कॉलेज खोलने के प्रयास तेज : ज्योत्सना महंत

कोरबा सांसद ज्योत्सना महंत ने बताया कि स्वास्थ्य के क्षेत्र में आवश्यक मानव संसाधन की जरूरत को पूरा करने की दिशा में काम किया जा रहा है। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की जिला अस्पतालों का उन्नयन कर 100 नए मेडिकल कॉलेज खोलने की योजना है। इसी कड़ी में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल व स्वास्थ्य विभाग के सतत प्रयासों से कोरबा संसदीय क्षेत्र के अंतर्गत जिला मनेन्द्रगढ़-कोरिया के अलावा जिला चाम्पा-जांजगीर सहित 3 अन्य जिले में भी मेडिकल कॉलेज प्रस्तावित है। सांसद ने कहा कि जीपीएम जिले में भी मेडिकल कॉलेज के लिए प्रयास किया जा रहा है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular