Monday, April 15, 2024
Homeछत्तीसगढ़कोरबाबिलासपुर : प्रॉपर्टी डीलर सुसाइड केस में किडनैपिंग का ऐंगल, बिल्डिंग से...

बिलासपुर : प्रॉपर्टी डीलर सुसाइड केस में किडनैपिंग का ऐंगल, बिल्डिंग से कूदकर दी थी जान; खुदकुशी के लिए उकसाने का केस दर्ज

BILASPUR: छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में दो मंजिला बिल्डिंग से कूदकर प्रापर्टी डीलर के खुदकुशी केस में किडनैपिंग का ऐंगल सामने आया है। आरोप है कि 6 लाख रुपए कर्ज वसूलने के लिए कुछ व्यापारियों ने उसे बंधक बना लिया था। उनके चंगुल से बचने के लिए वह अपार्टमेंट से कूदा था। हालांकि पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ केवल आत्महत्या के लिए उकसाने का केस दर्ज किया है।

जशपुर जिले के बगीचा निवासी प्रॉपर्टी डीलर विपिन अग्रवाल 30 मार्च की सुबह पाम इन्क्लेव अपार्टमेंट के नीचे खून से लथपथ हालत मिला था। आसपास के लोगों की मदद से उसे इलाज के लिए सिम्स में भर्ती कराया गया। गंभीर हालत देखकर प्राइवेट अस्पताल ले जाया गया, इस दौरान इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

CCTV वीडियो में अपार्टमेंट से कूदता दिखा विपिन अग्रवाल।

CCTV वीडियो में अपार्टमेंट से कूदता दिखा विपिन अग्रवाल।

CCTV वीडियो में अपार्टमेंट से कूदता दिखा विपिन

सुसाइड केस की जांच के दौरान पुलिस ने आसपास के CCTV फुटेज खंगाले। इस दौरान एक वीडियो मिला जिसमें विपिन अपार्टमेंट से कूदता नजर आ रहा है। इसी वीडियो के आधार पर पुलिस अपार्टमेंट से कूद कर आत्महत्या करने का दावा करती रही।

परिजन ने लगाया हत्या का आरोप
इस घटना की जानकारी मिलने पर बिलासपुर पहुंचे परिजन ने विपिन की हत्या करने का आरोप लगाया और निष्पक्ष जांच की मांग की। इसके बाद पुलिस अफसरों ने अपार्टमेंट के मालिक स्वप्निल अग्रवाल, ड्राइवर सहित अन्य लोगों से पूछताछ शुरू की।

कर्जदारों से परेशान होकर छोड़ दिया था बगीचा
पुलिस को पता चला है कि विपिन कर्जदारों से बेहद परेशान था। उसने बगीचा में भी कई लोगों से कर्ज लिया था, जिसके कारण वह बिलासपुर और रायपुर में रह रहा था। इस हादसे से पहले वह दिल्ली गया था, जहां से लौटने पर स्वप्निल शर्मा और उसके दोस्तों ने विपिन को बंधक बना लिया था।

आत्महत्या के लिए उकसाने का केस दर्ज
पुलिस ने विपिन के दोस्तों अनिल कुमार अग्रवाल, हनिश कुमार देवांगन और नेहरू लाल यादव से पूछताछ की। इसमें पता चला कि विपिन अग्रवाल ने स्वप्निल शर्मा से एक लाख और जय प्रकाश तिवारी से पांच लाख रुपए लिए थे। इसके बाद वह देनदारी से बचने के लिए दिल्ली भाग गया था।

दिल्ली से लौटने पर स्वप्निल और जय प्रकाश उसे लेकर पाम इन्क्लेव स्थित अपने फ्लैट में ले आए। यहां पर उन्होंने रुपए लौटाने के लिए विपिन पर दबाव बनाया। घटना की रात उनका आपस में विवाद भी हुआ था। इस मामले में पुलिस ने स्वप्निल और जयप्रकाश के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का केस दर्ज किया है।

प्रॉपर्टी डीलर के कमरे में पड़ा था खाने-पीने का सामान।

प्रॉपर्टी डीलर के कमरे में पड़ा था खाने-पीने का सामान।

अपहरण और हत्या का केस दर्ज करने की मांग
विपिन के परिजन का कहना है कि उसने आत्महत्या नहीं की है। अपहरणकर्ताओं से बचने के लिए वह अपार्टमेंट से कूदा है। उनका आरोप है कि पुलिस ने इस गंभीर मामले की जांच में लापरवाही बरती है। अपहरण का मामला सामने आने के बाद साफ हो गया है कि उसकी मौत के लिए के लिए अपहरणकर्ता ही जिम्मेदार हैं। विपिन की मौत के लिए परिजन ने अपहरण और हत्या का केस दर्ज करने की मांग की है।

Muritram Kashyap
Muritram Kashyap
(Bureau Chief, Korba)
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular